इवांका ट्रंप पहली बार आ रहीं भारत, पीएम मोदी के साथ उद्यमियों को करेंगी संबोधित 

0

अमेरिकी राष्ट्रपति डोनाल्ड ट्रम्प के बेटी इवांका की अगुआई में ही समिट में अमेरिकी डेलिगेशन भारत आ रहा है। समिट का इनॉरेशन नरेंद्र मोदी करेंगे। इवांका भी इसमें स्पीच देंगी।

पीएम मोदी और इवांका ट्रंप (फोटो साभार- सोशल मीडिया)
पीएम मोदी और इवांका ट्रंप (फोटो साभार- सोशल मीडिया)
अमेरिकी अफसरों ने बताया, 'इवांका ट्रम्प अपने पहले दौरे पर एशिया आ रही हैं। सरकार को लगता है कि यहां उनके लिए खतरा ज्यादा हो सकता है।' 

हैदराबाद में 28-30 नवंबर तक 3 दिन की समिट हो रही है। इस शिखर सम्मेलन का उद्घाटन माननीय प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी द्वारा किया जाएगा। शिखर सम्मेलन में अमरीकी राष्ट्रपति की सलाहकार, इवांका ट्रम्प अमरीकी दल का नेतृत्व करेंगी।

ग्लोबल एंटरप्रेन्योर समिट (जीईएस) के 8वें संस्करण का सह-आयोजन 28-30 नवंबर, 2017 को हैदराबाद में अमरीका और भारत के द्वारा किया जा रहा है, इसमें 1500 सहभागियों को चुना गया है। अमेरिकी राष्ट्रपति डोनाल्ड ट्रम्प के बेटी इवांका की अगुआई में ही समिट में अमेरिकी डेलिगेशन भारत आ रहा है। समिट का इनॉरेशन नरेंद्र मोदी करेंगे। इवांका भी इसमें स्पीच देंगी। ऐसा पहली बार हो रहा है कि इस शिखर सम्मेलन का आयोजन दक्षिण एशिया में किया जा रहा है। जीईएस का आयोजन वर्ष 2010 से वॉशिंगटन डीसी, इस्तांबुल, दुबई, माराकेच, नैरोबी, कुआलालंपुर, सिलिकॉन वैली में किया गया है।

इवांका ट्रम्प ने कहा कि ग्लोबल एंटरप्रेन्योर समिट (GES-2017) भारत और अमेरिका की मजबूत दोस्ती का गवाह बनेगा। हैदराबाद में 28-30 नवंबर तक 3 दिन की समिट हो रही है। इस शिखर सम्मेलन का उद्घाटन माननीय प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी द्वारा किया जाएगा। शिखर सम्मेलन में अमरीकी राष्ट्रपति की सलाहकार, इवांका ट्रम्प अमरीकी दल का नेतृत्व करेंगी, जिसमें 'वुमन फर्स्ट एंड प्रॉस्पेरिटी फॉर ऑल' विषय के साथ महिला उद्यमियों को समर्थन देने और वैश्विक स्तर पर आर्थिक विकास को बढ़ावा देने पर ध्यान केंद्रित किया जाएगा। शिखर सम्मेलन में ऊर्जा और बुनियादी ढांचे, डिजिटल अर्थव्यवस्था और वित्तीय प्रौद्योगिकी; स्वास्थ्य और जीवन विज्ञान एवं मीडिया और मनोरंजन जैसे चार क्षेत्रों पर ध्यान दिया जाएगा।

चयनित उद्यमियों में से लगभग एक तिहाई संयुक्त राज्य अमेरिका से हैं, एक तिहाई भारत से और अन्य एक तिहाई विश्व के अन्य देशों से हैं। इन 1,500 प्रतिभागियों में करीब 300 निवेशक और पारिस्थितिक तंत्र समर्थक शामिल हैं जो शिखर सम्मेलन में निवेश और नेटवर्किंग को बढ़ावा देंगे। जीईएस 2017 में महिला 52.5 प्रतिशत उद्यमियों, निवेशकों और पारिस्थितिकी तंत्र समर्थकों का प्रतिनिधित्व करेंगी। शिखर सम्मेलन में 127 देशों से महिलाएं प्रथम बार भाग ले रही हैं। 10+ देशों का प्रतिनिधित्व एक महिला महिला प्रतिनिधिमंडल के द्वारा किया जाएगा, जिसमें अफगानिस्तान, सऊदी अरब और इजरायल शामिल होंगे। कुल मिलाकर, दुनिया भर के 150 देशों और क्षेत्रों के प्रतिभागियों सम्मेलन में शामिल होंगे।

अमेरिकी अफसरों ने बताया, 'इवांका ट्रम्प अपने पहले दौरे पर एशिया आ रही हैं। सरकार को लगता है कि यहां उनके लिए खतरा ज्यादा हो सकता है।' वहीं, तेलंगाना सरकार के सेक्रेटरी (आईटी एंड कॉमर्स) जयेश रंजन ने बताया- यूएस अफसरों को लगता है कि इवांका की विजिट से जुड़ी काफी जानकारियां बाहर आ चुकी हैं। यहां उनकी सिक्युरिटी को लेकर खतरे की आशंका है। वे हैदराबाद विजिट कैंसल भी कर सकते हैं।

जीईएस में 31.5 प्रतिशत उद्यमियो की आयु 30 वर्ष या उससे कम है। सबसे छोटे उद्यमी की आयु 13 वर्ष है और सबसे अधिक आयु के उद्यमी 84 वर्ष के हैं। ग्लोबल एंटरप्रेन्योर समिट के बारे में जानने के लिए, www.ges2017.gov.in पर, ट्विटर पर @ges2017 एवं इन्स्टाग्राम पर ges2017 पर जाकर जानकारी प्राप्त कर सकते हैं। शिखर सम्मेलन के बारे में मीडिया summitmedia@state.gov पर जानकारी प्राप्त कर सकती है।

यह भी पढ़ें:  देश की पहली महिला डॉक्टर रखमाबाई को गूगल ने किया याद, जानें उनके संघर्ष की दास्तान

यदि आपके पास है कोई दिलचस्प कहानी या फिर कोई ऐसी कहानी जिसे दूसरों तक पहुंचना चाहिए, तो आप हमें लिख भेजें editor_hindi@yourstory.com पर। साथ ही सकारात्मक, दिलचस्प और प्रेरणात्मक कहानियों के लिए हमसे फेसबुक और ट्विटर पर भी जुड़ें...