वेब होस्टिंग की वन स्टॉप शॉप ‘webandcrafts’

2012 में शुरू हुई ‘webandcrafts’

4 दोस्तों के साथ शुरू की ‘webandcrafts’

‘webandcrafts’ के 500 से ज्यादा ग्राहक

0

मिलिये अबिन जोस टॉम से, जो webandcrafts के संस्थापक हैं। उनकी कंपनी दूसरी कंपनियों की वेबसाइट के लिए कई तरह के काम करती है। जैसे वेब डिजाइनिंग, वेब डेवलपमेंट, ग्राफिक डिजाइन और इंटरनेट मार्केटिंग इत्यादी। इस कंपनी की शुरूआत साल 2009 में चेन्नई से हुई थी जिसके बाद मई, 2012 में इसे त्रिशूर, केरल शुरू किया गया। अबिन ने उद्यमी के तौर पर अपना काम कॉलेज के दिनों में ही शुरू कर दिया था। उनके इस काम की शुरूआत हुई थी कॉलेज के लिए बेवसाइट बनाने के साथ। उस वक्त अबिन की उम्र थी केवल 19 साल। उन्होने इस मौके को अपने कौशल के तौर पर निखारा इस कारण उनकी वेबसाइट की हर जगह तारीफ हुई। इससे उनको उद्यमी बनने का रास्ता दिखाई देने लगा और जब वो अपने बिजनेस प्लान के साथ बाजार में उतरे तो उन्होने webandcrafts के नाम को पंजीकृत करा लिया।

एक नौजवान के तौर पर उन्होने उद्यमी बनने के अपने विचार के बारे में दोस्तों से सलाह ली लेकिन उनसे अबिन को कोई उत्साहजनक प्रतिक्रिया नहीं मिली। अबिन उद्यमी बनने का श्रेय जोसेफ मत्पपल्ली को देते हैं। जो कि एक सामाजिक कार्यकर्ता भी हैं। उन्होने ही अबिन को ना सिर्फ रास्ता दिखाया बल्कि अपने सपने को सच करने का भरोसा भी दिलाया। जोसेफ ने अबिन को काफी प्रेरित किया जिसके बाद अबिन के चार दोस्तों की मदद से इस काम को शुरू कर दिया गया। स्कूली छात्र होने की वजह से वो काफी व्यस्त रहते इसलिए उनको पढ़ाई के साथ काम में तालमेल बैठाना पड़ता। हालांकि इस दौरान उनके पास आगे बढ़ने के कोई ज्यादा साधन नहीं थे क्योंकि बाजार में वेब डवलपिंग के क्षेत्र में कड़ा मुकाबला था। लेकिन webandcrafts के बढ़िया डिजाइन और अच्छी सेवा के लिए कंपनी का काम आगे बढ़ता गया।

अबिन का दावा है कि webandcrafts मुख्य तौर पर वेबसाइट होस्टिंग का काम करती है और ये केरल की पहली ऐसी कंपनी है जिसने पेमेंट गेटवे के साथ होस्टिंग सेवा शुरू की थी। अब तक ये कंपनी ढाई हजार से ज्यादा वेबसाइट की होस्टिंग कर चुकी है। कंपनी के पास 500 से ज्यादा ग्राहक हैं। जिसमें आस्ट्रेलियन कंस्ट्रक्सन कंपनी स्ट्रांग फोर्स, थॉमसन और एसएमआर जैसी कंपनियां भी शामिल हैं। कंपनी के पास 15 सदस्यों की एक टीम है जो अलग अलग काम देखती है। जैसे डिजाइनिंग, प्रोग्रामिंग, मार्केटिंग और सेल्स, दर्शन और साहित्य इत्यादी। जोसेफ मत्पपल्ली आज भी इनके लिए मेंटोर की भूमिका निभा रहे हैं। कंपनी ने पहले साल ही 80 लाख रुपये का टर्नओवर किया था जिसके बाद से ये हर साल बढ़ रहा है।

Webandcrafts के संस्थापक अबिन का मानना है कि ये कारोबार पहले जैसा नहीं रहा इसमें काफी बदलाव आ गये हैं। उनके मुताबिक केरल और उसके आसपास वेब होस्टिंग को लेकर कई लोगों के साथ बुरे अनुभव हो चुके हैं इस कारण इन जैसे लोगों की गुणवत्ता और सेवाओं पर लोग सवाल उठाने लगे हैं। बावजूद इसके अबिन का दावा है कि ये किसी भी ग्राहक को 24x7 सेवाएं देते हैं। ताकि इन पर ग्राहकों का विश्वास बना रहे। अबिन का कहना है कि उनकी टीम काफी युवा है यही वजह है कि उनकी टीम के बीच के संबंधों में काफी गहराई है और ये उनके काम में भी दिखाई देता है। उनकी टीम हर उस चीज से सुसज्जित है जो इस क्षेत्र में बने रहने के लिए जरूरी है। इसके अलावा उनकी टीम नई नई जानकारियां जुटाकर आगे बढने का काम कर रही है। जिससे उनमें मजबूती आ रही है। कंपनी फिलहाल त्रिशूर से काम कर रही हो लेकिन अबिन अगले पांच सालों में कंपनी को बुलंदी पर ले जाना चाहते हैं वो चाहते हैं कि वो अपने यहां 100 से ज्यादा लोगों को रखें।

यदि आपके पास है कोई दिलचस्प कहानी या फिर कोई ऐसी कहानी जिसे दूसरों तक पहुंचना चाहिए, तो आप हमें लिख भेजें editor_hindi@yourstory.com पर। साथ ही सकारात्मक, दिलचस्प और प्रेरणात्मक कहानियों के लिए हमसे फेसबुक और ट्विटर पर भी जुड़ें...