मिस्टर परफेक्शनिस्ट के बारे में कुछ दिलचस्प बातें

आज आमिर खान 52 साल के हो गए हैं। अपने जन्मदिन पर आयोजित एक विशेष प्रेस वार्ता में मीडिया को संबोधित करते हुए उन्होंनो कहा है, कि वे राजनीति में कभी नहीं आना चाहेंगे, लेकिन ज़रूरी मुद्दों पर अपनी राय रखेंगे।

0

ये कहने की ज़रूरत भी नहीं, कि आमिर खान कौन हैं, क्या हैं फिर भी कहना ठीक रहेगा कि आमिर वो अभिनेता हैं, जिन्हें लोग मिस्टर परफेक्शनिस्ट के नाम से जानते हैं और दुनिया उन्हें जीनियस मानती है। आमिर का पूरा नाम आमिर हुसैन खान है और इनके पिता का नाम ताहिर हुसैन था। आमिर का जन्म 14 मार्च 1965 को मुंबई में हुआ था। आमिर के पिता और चाचा भी फिल्मी दुनिया से जुड़े रहे थे और आमिर के परिवार का संबंध अब्दुल कलाम आजाद से भी रहा है।

वैसे तो आमिर बचपन में ही फिल्म 'यादों की बारात' से फिल्मी दुनिया में कदम रख चुके थे, लेकिन दुनिया वालों ने उन्हें जानना तब से शुरू किया जब उनकी फिल्म 'कयामत से कयामत तक' ने बॉक्स अॉफिस पर धमाल मचाया। आईये जानते हैं आमिर के बारे में कुछ दिलचस्प बातें...

आमिर खान की फिल्म कयामत से कयामत तक के गाने 'पापा कहते हैं बड़ा नाम करेगा...' में उनके साथ उनकी पत्नी भी लाल रंग के कपड़ों में नज़र आई हैं।

आमिर खान उन एक्टर्स में से हैं, जो फिल्म की एक-एक डीटेल जानने के बाद फिल्म शुरू करते हैं और उनकी यही आदत उन्हें उनके हर रोल में परफेक्ट दिखाती है।

आमिर खान ने देव आनंद की फिल्म 'अव्वल नंबर' में भी काम किया था, जिसकी स्क्रिप्ट पढ़े बिना ही उन्होंने फिल्म साइन कर दी थी। इस फिल्म में आमिर ने एक क्रिकेटर की भूमिका निभाई थी।

जब आमिर का स्टैच्यू मैडम तुसाद म्यूज़ियम में लगने की बात हुई और आमिर को इनॉग्रेट करने के लिए बुलाया गया, तो आमिर ने ये कहकर जाने से मना कर दिया, कि जिसे मुझे देखना है वो मुझे मेरी फिल्मों से देख सकते हैं

आमिर की अम्मी उनके हर जन्मदिन पर सीक कबाब बनाती हैं, जो आमिर की पसंदीदा डिश है।

करोड़ों के मालिक आमिर खान की ज़िंदगी में एक समय ऐसा भी आया था, जब उनके घर की आर्थिक स्थिति ठीक नहीं थी और उन्हें स्कूल से निकाल दिया गया था।

स्कूल के दिनों में आमिर पढ़ने में बिल्कुल अच्छे नहीं।

आमिर ने स्टेट लेवल टेनिस भी खेला है और टेनिस ने ही उनका दिल कभी पढ़ाई में नहीं लगने दिया।

आमिर के पिता बेहद सख्त थे। वे हमेशा चाहते थे कि आमिर पढ़-लिखकर कुछ करें, लेकन आमिर ने सिर्फ इंटर तक ही अपनी पढ़ाई की।

आमिर खान बॉलीवुड के टॉप 10 सबसे अमीर एक्टर्स में चौथे स्थान पर हैं।

आमिर खान इकलौते ऐसे एक्टर हैं, जिन्होंने स्कूल बॉय से लेकर कॉलेज बॉय तक की भूमिका उम्दा तरीके से निभाई है, फिर वो चाहे 'जो जीता वही सिकंदर' हो, 'रंग दे बसंती' हो या फिर 'थ्री इडियट्स' हो। आमिर ने जिस रोल पर हाथ रखा, उसके होकर रह गए।

आमिर खान कभी किसी अवॉर्ड फंक्शन में नहीं जाते, क्योंकि उनका काम ही उनकी पूजा है, जिसे वो किसी इनाम में नहीं बांधना चाहते।

आमिर ने अपनी फिल्मों से हमेशा ये साबित किया है, कि वे एक कंपलीट स्टार है। फिर वो स्टार डांस करे, कॉमेडी करे, रोमांस करे या एक्शन करे।

सुपरस्टार आमिर खान आज 52 साल के हो चुके हैं, हालांकि कि उन्हें देख कर ऐसा बिल्कुल नहीं लगता। आमिर ने अपने जन्मदिन पर आयोजित एक विशेष प्रेस वार्ता में मीडियो को संबोधित करते हुए कहा है, कि वो राजनीति में कभी नहीं आना चाहेंगे, लेकिन ज़रूरी मुद्दों पर अपनी राय रखेंगे। उनका कहना है, कि उन्होंने अपनी राय कभी लापरवाही से नहीं दी और आगे भी वो इसी तरह दिल की बात सचेत तरीके से व्यक्त करेंगे। उन्होने कहा, 'मैं हमेशा सचेत रहा हूं। मुझे नहीं लगता है, कि मैंने कभी लापरवाही से किसी मुद्दें पर अपनी राय रखी है। मैं हमेशा सावधान रहा हूं और उम्मीद है कि आगे भी ऐसा ही रहूंगा लेकिन साथ ही अपने दिल की बात कहना भी जारी रखूंगा।’

राजनीति में आने की बात पर आमिर का कहना है, कि वो कभी राजनीति में शामिल नहीं होना चाहेंगे, क्योंकि उन्हें लगता है कि फिल्मों में काम करके वे सामाजिक तौर बेहतर योगदान दे सकते हैं। उनका कहना है, कि राजनीति मेरे लिये नहीं है। मुझे लगता है कि रचनात्मक क्षेत्र जिसमे मैं हूं, उसमें रहते हुए मैं बेहतर योगदान दे सकता हूं। एक कलाकार और एक रचनात्मक व्यक्ति के तौर पर मैं समाज में, देश में अधिक योगदान दे सकता हूं। मैं जहां हूं वहीं रहते हुए समाज के लिए कुछ करना चाहता हूं।'

यदि आपके पास है कोई दिलचस्प कहानी या फिर कोई ऐसी कहानी जिसे दूसरों तक पहुंचना चाहिए, तो आप हमें लिख भेजें editor_hindi@yourstory.com पर। साथ ही सकारात्मक, दिलचस्प और प्रेरणात्मक कहानियों के लिए हमसे फेसबुक और ट्विटर पर भी जुड़ें...