अपना विशाल व्यावसायिक साम्राज्य छोड़ देंगे ट्रम्प 

0


अमेरिका के निर्वाचित राष्ट्रपति डोनाल्ड ट्रंप ने अपने लिए राष्ट्रपति पद की जिम्मेदारी को किसी अन्य बात से ज्यादा महत्वपूर्ण बताते हुए कहा है कि वह अपने विशाल व्यावसायिक साम्राज्य को छोड़ने की घोषणा करेंगे ताकि यह न लगे कि हितों का कहीं कोई टकराव हो रहा है।उन्होंने इस संबंध में कोई ब्योरा नहीं दिया और कहा कि वह 15 दिसंबर को एक प्रेसवार्ता आयोजित कर अपनी योजना का विस्तार से विवरण देंगे जिसमें उनके बच्चे भी होंगे। इससे पहले उन्होंने अपने व्यवसाय और राष्ट्रपति पद की जिम्मेदारी के बीच हितों के किसी प्रकार के टकराव की संभावना से इनकार किया था। ट्विटर पर अपने संदेशों की एक श्रृंखला में आज सुबह 70 वर्षीय ट्रंप ने यह बात कही। उन्हें आठ नवंबर को अमेरिका का 45वां राष्ट्रपति चुना गया था और वह 20 जनवरी को इस पद की शपथ ग्रहण करेंगे।

ट्रंप ने ट्वीट किया, ‘‘मैं अपने बच्चों के साथ 15 दिसंबर को न्यूयॉर्क शहर में एक प्रेसवार्ता आयोजित करूंगा। इसमें मैं अपने कारोबार को पूरी तरह छोड़ दूंगा ताकि मैं अपना पूरा ध्यान देश को चलाने और ‘अमेरिका को फिर से महान बनाने’ में लगा सकूं।’’ उन्होंने कहा, ‘‘हालांकि मैं कानूनी तौर पर इसके लिए बाध्य नहीं हूं लेकिन मुझे लगता है कि राष्ट्रपति के तौर पर यह आवश्यक है ताकि मेरे विभिन्न कारोबारों और देश के बीच हितों का टकराव ना हो।’’ नयी वीजा नीति से विदेशियों को पर्यटन, कारोबार और स्वास्थ्य कारणों से देश में प्रवेश करने में आसानी होगी। इससे देश की आर्थिक वृद्धि को प्रोत्साहन मिलने और पयर्टन, स्वास्थ्य पर्यटन इत्यादि सेवाओं के निर्यात से आय बढ़ने की उम्मीद है। इसके अलावा ‘स्किल इंडिया’, ‘डिजिटल इंडिया’, ‘मेक इन इंडिया’ जैसी सरकार की प्रमुख योजनाओं के तहत कारोबार के लिए प्रवेश करने में भी आसानी होगी। विज्ञप्ति में कहा गया है कि प्रधानमंत्री कार्यालय के विचार पर पहली बार वाणिज्य मंत्रालय द्वारा संज्ञान में लाए गए एक प्रस्ताव के मद्देनजर पर्यटक, कारोबारी और इलाज एवं सम्मेलन इत्यादि में भाग लेने भारत आने वाले लोगों को वीजा नयी श्रेणी के तहत दिया जाएगा। एक सरकारी अधिकारी ने बताया कि लंबी अवधि वाले बहुउद्देशीय प्रवेश वीजा को 10 वर्ष के लिए जारी किया जाएगा लेकिन इस श्रेणी के वीजा के तहत विदेशी व्यक्ति को यहां काम करने और स्थायी रूप से रहने की अनुमति नहीं होगी। दस सालों की अवधि वाले वीजा चुनिंदा देश के नागरिकों को जारी होंगे शेष के लिए यह वीजा पांच वर्ष की अवधि का होगा। अधिकारी ने बताया कि इस वीजा के तहत यदि कोई व्यक्ति अपनी यात्रा के दौरान केवल 60 दिन ही रूकता है तो सरकार उसका वीजा शुल्क भी माफ कर सकती है। हालांकि यात्री को अपनी बायोमीट्रिक जानकारियां देनी होगी और सुरक्षा दायित्वों को पूरा करना होगा।