शहरों की नयी पहचान बनेंगे रेलवे स्टेशन

-2

रेल मंत्री सुरेश प्रभु ने कहा है कि देशभर में करीब 400 रेलवे स्टेशनों का उन्नयन करके उन्हें एक अनोखे ढांचे का स्वरूप दिया जाएगा क्योंकि कोई भी स्टेशन शहर का प्रस्थान बिंदु होता है और ज्यादा लोगों को आकषिर्त करता है।

यहां स्मार्ट सिटी सम्मेलन में प्रभु ने कहा, 

"हम 400 स्टेशनों के पुनर्विकास की योजना बना रहे हैं जो शहर की नयी पहचान होंगे। इस संबंध में प्रक्रिया पहले ही शुरू की जा चुकी है।" 


उन्होंने कहा कि सरकार ने देशभर में 100 शहरों को ‘स्मार्ट सिटी’ बनाने के कदम बढ़ाए हैं। एक स्टेशन किसी भी शहर का आरंभ होते हैं इसलिए वे भी ‘स्मार्ट स्टेशनों’ का विकास करेंगे। एक स्टेशन वह स्थान भी होता है जहां लोग सबसे ज्यादा आते-जाते हैं।

उन्होंने कहा कि निजी भागीदारी से रेलवे 400 बड़े स्टेशनों के पुनर्विकास की योजना बना रहा है जहां पर बेहतर यात्री सुविधाएं मुहैया करायी जाएंगी।

उन्होंने कहा कि भोपाल में हबीबगंज स्टेशन को सबसे पहले विकसित किया जाएगा उसके बाद आठ अन्य स्टेशनों का पुनर्विकास भी जल्द ही किया जाएगा।

उन्होंने कहा, 

"इस संबंध में बातचीत और निविदा पूर्व की प्रक्रिया शुरू हो चुकी है। इसे एक पारदर्शी प्रक्रिया से निजी भागीदारों के साथ मिलकर किया जाएगा।" 

उन्होंने कहा कि रेलवे स्टेशनों पर हवाईअड्डों से बेहतर सुविधाएं होंगी जिसके बाद हमारे पास ना सिर्फ स्मार्ट शहर होंगे बल्कि स्मार्ट स्टेशन भी होंगे।

पीटीआई


यदि आपके पास है कोई दिलचस्प कहानी या फिर कोई ऐसी कहानी जिसे दूसरों तक पहुंचना चाहिए, तो आप हमें लिख भेजें editor_hindi@yourstory.com पर। साथ ही सकारात्मक, दिलचस्प और प्रेरणात्मक कहानियों के लिए हमसे फेसबुक और ट्विटर पर भी जुड़ें...