स्विगी ने 16 नए शहरों में शुरू की अपनी सर्विसेज, इसमें आपका भी शहर तो नहीं?

0

फूड डिलिवरी कंपनी स्विगी ने अपनी सर्विसेज को और शहरों में बढ़ा दिया है। गुरुवार को कंपनी द्वारा दी गई जानकारी में बताया गया कि अब 16 और शहरों में स्विगी से खाने की डिलिवरी संभव हो सकेगी।

जब स्विगी ने 2014 में अपने ऑपरेशन्स की शुरूआत की थी, तब कंपनी की कोशिश थी कि फ़ूड डिलिवरी न सिर्फ़ बड़े और महंगे रेस्तरां से हो, बल्कि किफ़ायती और सस्ते रेस्तरां से भी फ़ूड आइटम्स डिलिवर किए जा सकें। 

फूड डिलिवरी कंपनी स्विगी ने अपनी सर्विसेज को और शहरों में बढ़ा दिया है। गुरुवार को कंपनी द्वारा दी गई जानकारी में बताया गया कि अब 16 और शहरों में स्विगी से खाने की डिलिवरी संभव हो सकेगी। ये शहर तिरुपुर, वारंगल, औरंगाबाद, आगरा, त्रिशूर, उदयपुर, अमृतसर, वाराणसी, मंगलुरू, मनिपाल, जालंधर, वेल्लोर, तिरुवनंतपुरम और कोटा, त्रिची और भुवनेश्वर हैं। इन शहरों को मिलाकर स्विगी की सेवाएं देशभर के कुल 44 शहरों में उपलब्ध होंगी।

इस बारे में कंपनी के चीफ ऑपरेशन ऑफिसर विवेक सुंदर ने कहा कि देश के अन्य शहरों में विस्तार का मुख्य कारण ग्राहकों की ओर से भारी मांग होना है। ऐसे कई शहरों में हमारी एप डाउनलोड की गई है जहां हमारी सेवाएं अभी शुरू भी नहुीं हुई है। इन नए शहरों के साथ ही कंपनी ने 40,000 ज्यादा रेस्तरांओं के साथ साझेदारी है। कंपनी ने कहा कि टियर-2 और टियर-3 शहरों में भी अब लोग अच्छी गुणवत्ता का खाना आसानी से खोजना चाहते हैं। इसी वजह से कंपनी ने नए शहरों में कंपनी का विस्तार किया है।

जब स्विगी ने 2014 में अपने ऑपरेशन्स की शुरूआत की थी, तब कंपनी की कोशिश थी कि फ़ूड डिलिवरी न सिर्फ़ बड़े और महंगे रेस्तरां से हो, बल्कि किफ़ायती और सस्ते रेस्तरां से भी फ़ूड आइटम्स डिलिवर किए जा सकें। शुरूआती स्तर पर स्टार्टअप्स में निवेश करने वाले और लोकप्रिय स्टार्टअप मेंटर संजय आनन्दराम मानते हैं कि हाल में ऑनलाइन फ़ूड बिज़नेस मूल रूप से डिलिवरी सर्विस और ऑनलाइन किचन्स पर केंद्रित है।

भारतीय और अंतरराष्ट्रीय दोनों ही बाज़ारों में, ऑनलाइन फ़ूड डिलिवरी बिज़नेस में प्रतियोगियों की संख्या कम नहीं है। यूएस में, ऊबर ईट्स और मार्केट लीडर ग्रबहब के बीच कड़ी टक्कर है। इनवेस्ट फ़र्म कॉवेन ऐंड कंपनी के अनुमान के मुताबिक़, 2022 तक यूएस का फ़ूड डिलिवरी मार्केट 76 बिलियन डॉलर पहुंच जाएगा। हाल में ग्रबहब रोज़ाना 4 लाख ऑर्डर्स डिलिवर करता है और कंपनी के पास यूएस के मार्केट का 48.6 प्रतिशत का हिस्सा है।

यह भी पढ़ें: सेक्स वर्कर्स को भी है 'ना' कहने का हक, आरोपियों को मिली सजा

यदि आपके पास है कोई दिलचस्प कहानी या फिर कोई ऐसी कहानी जिसे दूसरों तक पहुंचना चाहिए, तो आप हमें लिख भेजें editor_hindi@yourstory.com पर। साथ ही सकारात्मक, दिलचस्प और प्रेरणात्मक कहानियों के लिए हमसे फेसबुक और ट्विटर पर भी जुड़ें...