बदलते भारत की बिंदास पसंद ‘Kaamastra’

महिलाओं के लिए बिंदास ई-कॉमर्स स्टोरएक से बढ़कर एक ‘Kaamastra’ के उत्पादग्राहकों की गोपनीयता का रखा जाता है ख्याल

0

देश में जिस तेजी ई-कामर्स का विकास हुआ है उसी रफ्तार से लोगों की सोच और उनके ओढ़ने पहनने का ढंग भी बदला है। खासतौर से बात जब महिलाओं के अंतरर्वस्त्र की हो तो जो बात पहले बंद दरवाजों में होती थी अब वो आम हो गई है। इसी बात को ध्यान में रखते हुए पहले से ज्यादा बिंदास ई-कॉमर्स स्टोर भारतीयों की सबसे कामुक इच्छाओं में से कुछ चीजें परोस रहे हैं। कुछ ऐसी ही कोशिश की है Kaamastra ने। जिसकी स्थापना की है रहबीर और मकसूद नजीर ने।

Kaamastra वयस्क उत्पादों के लिए एक ऑनलाइन स्टोर है। रहबीर ने आईआईएफटी, दिल्ली से एमबीए किया है जिसके बाद उन्होने विप्रो में काम किया लेकिन 14 महीने बाद ही उन्होने ये नौकरी छोड़ दी। तो मकसूद पिछले 30 सालों से पुणे में एक उद्यमी के तौर पर काम कर रहे हैं। दरअसल रहबीर सॉफ्टवेयर की नौकरी कर कुछ खास अनुभव नहीं कर रहे थे। तभी उनका ध्यान दूसरी चीजों की ओर गया जब मकसूद के सामने ये विचार आया तो वो उत्साहित हो गए और दोनों ने मिलकर इस क्षेत्र में काम करने का सोचा।

Kaamastra की वेबसाइट को बहुत अच्छी तरह से डिजाइन किया गया है। बावजूद इसके ऑफिस या दूसरी सार्वजनिक जगहों पर अपने लेपटॉप या अपने सिस्टम में खोलने से परहेज करना चाहिए। हालांकि सिर्फ वेबसाइट देखने से आपका छिपा हुआ कुछ उद्देश्य पूरा हो सकता है लेकिन इसके उत्पाद एक से बढ़कर एक हैं। हो सकता है कि आप किसी को खरीदने के लिए मजबूर हो जाएं। इन्होने अपने उत्पाद को कई वर्गों में बांटा है। जैसे बेडरूम के अंतरर्वस्त्र, रोल प्ले वेशभूषा, इंटिमेट मसाज, बाथ प्रोडक्ट और इरोटिक बॉडी जूलरी। Kaamastra जल्द ही अपने कुछ नये उत्पाद बाजार में उतारने वाला है। इनमें पोटपुअरी, केंडल, और वाइन ग्लास शामिल हैं। कंपनी ने विभिन्न तरह के उत्पाद के लिए देश के साथ विदेशों में भी गठजोड़ किया है। इसके उत्पाद अमेरिका, चीन, ऑस्ट्रेलिया, कनाडा और दूसरे कई देशों से आते हैं।

इनके उत्पाद ग्राहकों की जरूरतों को ध्यान में रख कर तैयार किये जाते हैं। यही वजह है कि इसे लोगों का अच्छा खासा समर्थन हासिल हुआ है। इसके ग्राहक ना सिर्फ शहरी या मेट्रो शहरों में रहने वाले लोग हैं बल्कि टियर 2 और 3 शहरों में इनके उत्पादों की काफी डिमांड है। इन शहरों में पटियाला, लखनऊ और चंडीगढ़ शामिल हैं। लोगों की सुविधा को ध्यान में रखते हुए उत्पादों की पैकिंग खास तरीके से की जाती है ताकि किसी को पता ना चले की उस बॉक्स में क्या है और लोगों को आसानी से सामान मिल भी जाए। इसके लिए कंपनी डिब्बे पर ना कोई लोगो इस्तेमाल करती है और ना ही अपना नाम। इसके अलावा इनवोइस में भी समान का जिक्र नहीं होता है। इसलिए ये अनुमान लगाना मुश्किल होता है कि डिब्बे में क्या उत्पाद भेजा जा रहा है। अगर कोई ऑनलाइन ही उत्पाद का भुगतान करता है तो ग्राहक को मिलने वाला बिल Kaamastra के नाम से नहीं बल्कि दूसरे नाम से भेजा जाता है। ताकि गोपनियता बनी रहे। इसके अलावा ग्राहक से मिले डाटा को किसी तीसरी पार्टी को नहीं बेचा जाता।

ई-कॉमर्स वेबसाइट जिस तरीके से भारतीय बाजार में अपने उत्पाद प्रस्तुत कर रही है वो काफी बिंदास है। Kaamsatra में सलाहकार के तौर पर बेंगलौर से श्याम स्वराज भी जुड़े हैं जो खुद एक ब्रांड सलाहकार भी हैं और वो उनके काम पर बारीकी से नजर रखते हैं और जरूरत पड़ने पर बाजार से जुड़ी विभिन्न रणनीतियों से इन लोगों को समय समय पर अवगत कराते रहते हैं।