केरल में खुलने जा रहा है महिलाओं का 36,000 स्क्वॉयर फुट का शॉपिंग मॉल, महिलाएं ही करेंगी हर काम

केरल के कोझिकोड में खुलेगा एक अनोखा मॉल, जिसे सिर्फ महिलाएं महिलाओं के लिए चलायेंगी...

1

केरल के कोझिकोड को एक विशेष मॉल मिलेगा जो केवल महिलाओं द्वारा महिलाओं के लिए चलाया जाएगा। वायनाड रोड पर फातिमा अस्पताल के सामने स्थित, मॉल कोझिकोड निगम कुदुम्बश्री और जिला कुदुम्बश्री मिशन द्वारा संयुक्त परियोजना के तहत बनाया जा रहा है।

फोटो साभार- न्यूज मिनट
फोटो साभार- न्यूज मिनट
कुदुम्बश्री बाजार के उत्पादों के लिए एक स्थायी आउटलेट के रूप में कार्य करेगा और महिला उद्यमियों और महिलाओं के समुदायों के लिए प्रवेश द्वार के रूप में कार्य करेगा।

देश में महिलाओं को बराबरी का दर्जा दिलाने के लिए तरह-तरह के प्रयास किए जाते रहे हैं। हालांकि केरल में एक बेहद ही अनोखा काम होने जा रहा है। इस अगस्त में, केरल के कोझिकोड को एक विशेष मॉल मिलेगा जो केवल महिलाओं द्वारा महिलाओं के लिए चलाया जाएगा। वायनाड रोड पर फातिमा अस्पताल के सामने स्थित, मॉल कोझिकोड निगम कुदुम्बश्री और जिला कुदुम्बश्री मिशन द्वारा संयुक्त परियोजना के तहत बनाया जा रहा है। 36,000 स्क्वॉयर फीट के मॉल को 'महिल्ला' कहा जाएगा, जिसका मतलब होता है महिलाओं। इस मॉल का उद्घाटन ओणम के दौरान किया जाएगा।

द न्यूज मिनट के साथ बातचीत में, कुदुम्बश्री प्रोजेक्ट के ऑफिसर रैमसी इस्माइल ने कहा, "यह कुदुम्बश्री के 20वें वर्ष समारोह के साथ होना जा रहा है। परियोजना कम से कम 300 महिलाओं को सीधे और अप्रत्यक्ष रूप से नौकरियां देगी। कुदुम्बश्री श्रमिकों को प्राथमिकता दी जाएगी लेकिन महिलाओं के समाज और निजी उद्यमों के लिए भी जगह है।"

मॉल मैनेजमेंट और प्रशासन सहित सभी नौकरी की भूमिकाओं में केवल महिलाएं ही दिखेंगी। रैमसी का कहना है कि, "दुकानें महिलाओं की आवश्यकताओं को भी पूरा करेंगी।" एक हेल्थ क्लब, एक फूड कोर्ट, स्पा, कॉस्मेटिक आभूषण की दुकानें, एक उद्यमिता प्रशिक्षण केंद्र, एक महिला सहकारी बैंक और इसी तरह की कई दुकानें होंगी। रैमसी का मानना है कि, यह विचार कुदुम्बश्री बाजारों का एक विस्तार है जिसे हम हर जगह शुरू करना चाहते हैं।

द हिंदू के मुताबिक मॉल कुदुम्बश्री बाजार के उत्पादों के लिए एक स्थायी आउटलेट के रूप में कार्य करेगा और महिला उद्यमियों और महिलाओं के समुदायों के लिए प्रवेश द्वार के रूप में कार्य करेगा। पांच मंजिला मॉल में सुपरमार्केट, बच्चों के पार्क, ब्यूटी पार्लर, महिलाओं के बैंक, फैंसी स्टोर्स, वस्त्र और तैयार किए गए स्टोर बुटीक, जूते की दुकानें, ड्राई क्लीनिंग आउटलेट, कार वॉश और ऑप्टिकल दुकानें भी होंगी। मीटिंग रूम, प्रशिक्षण केंद्र और भूमिगत कार पार्किंग सुविधा के अलावा हस्तशिल्प, शिशु देखभाल, घरेलू उपकरण और एक पुस्तक स्टॉल भी मौजूद होगा।

क्या है कुदुम्बश्री?

कुदुम्बश्री एक सरकारी योजना है। केरल में करीब ढाई दशक पहले सरकार की शुरू की एक योजना अब एक ऐसे अभियान में बदल चुकी है जो महिलाओं की आर्थिक, सामाजिक, राजनीतिक भूमिका में बदलाव ला रही है। केरल के प्रमुख गरीबी उन्मूलन कार्यक्रम 'कुदुम्बश्री मिशन' ने राज्य में महिला सशक्तिकरण के माध्यम से गरीबी से लड़ने का लक्ष्य रखा है। केरल सरकार ने इसे 1998 में शुरू किया था। इसका उद्देश्य वंचित तबके की महिलाओं की सामूहिक भागीदारी से उनकी गरीबी की ढांचागत वजहों का समधान करना है। इसी क्रम में ये मॉल एक बड़ी पहल साबित हो सकता है। 

यह भी पढ़ें: इस डॉक्टर की विदाई पर रो रहा था पूरा गांव

यदि आपके पास है कोई दिलचस्प कहानी या फिर कोई ऐसी कहानी जिसे दूसरों तक पहुंचना चाहिए, तो आप हमें लिख भेजें editor_hindi@yourstory.com पर। साथ ही सकारात्मक, दिलचस्प और प्रेरणात्मक कहानियों के लिए हमसे फेसबुक और ट्विटर पर भी जुड़ें...

Related Stories

Stories by yourstory हिन्दी