इस टीवी ऐक्ट्रेस ने अपने पति के साथ शुरू किया फ़ैशन ब्रैंड, कस्टमर्स को देता है यूनीक सर्विसेज़

0

 टीवी या फ़िल्म स्टार्स का अपने पार्टनर्स के साथ बिज़नेस वेंचर्स चलाना कोई नई बात नहीं है, लेकिन अनीता और उनके पति रोहित रेड्डी का ब्रैंड ‘द बैग टॉक’ न सिर्फ़ अपने ग्राहकों को बेहतरीन फ़ैशन प्रोडक्ट्स उपलब्ध करता है, बल्कि अपने ऑनलाइन सेलर्स और ग्राहकों को फ़ैशन शॉपिंग का एक अलग और ख़ास एक्सपीरिएंस भी देता है।

अपने पति रोहित के साथ अनीता
अपने पति रोहित के साथ अनीता
 रोहित ने पत्नी अनीता और दोस्त तुषार के साथ मिलकर 2016 में अपने इस स्टार्टअप की शुरूआत की। उनका ब्रैंड, लगेज बैग्स, हैंडबैग्स, कल्चेज़, वॉलेट्स और बैग्स की अन्य कई वैराएटीज़ के लिए एक उम्दा मार्केटप्लेस है।

मशहूर टीवी और फ़िल्म ऐक्ट्रेस अनीता हसानंदानी को कौन नहीं जानता। लेकिन क्या आप जानते हैं कि टीवी इंडस्ट्री में बेशुमार शोहरत कमाने वाली यह ऐक्ट्रेस अपने पति के साथ मिलकर एक फ़ैशन प्रोडक्ट ब्रैंड भी चलाती है। टीवी या फ़िल्म स्टार्स का अपने पार्टनर्स के साथ बिज़नेस वेंचर्स चलाना कोई नई बात नहीं है, लेकिन अनीता और उनके पति रोहित रेड्डी का ब्रैंड ‘द बैग टॉक’ न सिर्फ़ अपने ग्राहकों को बेहतरीन फ़ैशन प्रोडक्ट्स उपलब्ध करता है, बल्कि अपने ऑनलाइन सेलर्स और ग्राहकों को फ़ैशन शॉपिंग का एक अलग और ख़ास एक्सपीरिएंस भी देता है।

रोहित रेड्डी पेशे से एक इनवेस्टमेंट बैंकर हैं और चुनौतीपूर्ण भूमिकाएं निभाना उनके लिए कोई नई बात नहीं है। वह स्टैंडर्ड चार्टड बैंक के साथ काम कर चुके हैं और आईडीएफ़सी बैंक के कई डिजिटल प्रयोगों को साकार करने में भी उन्होंने महत्वपूर्ण भूमिका निभाई है। रोहित ने ई-कॉमर्स इंडस्ट्री में फ़ैशन प्रोडक्ट्स जैसे कि बैग्स वगैरह के शॉपिंग एक्सपीरिएंस में मोबाइल फोन्स और इलेक्ट्रॉनिक प्रोडक्ट्स आदि की अपेक्षा एक बड़ी कमी को भांप लिया। उन्होंने समझा कि सभी प्लेटफ़ॉर्म्स का ध्यान मुख्य रूप से इन प्रोडक्ट्स की सर्विस को बेहतर करने में ही रहता है और फ़ैशन आर्टिकल्स के लिए ई-शॉपिंग के अनुभव को अभी और बेहतर करने की ज़रूरत है। उन्हें एहसास हुआ कि लाइफ़स्टाइल सेगमेंट में अच्छी सर्विस के लिए ग्राहकों के साथ बेहतर संपर्क स्थापित करना बेहद ज़रूरी है।

रोहित रेड्डी और तुषार जैन
रोहित रेड्डी और तुषार जैन

रोहित मानते हैं कि ऑनलाइन माध्यमों पर भी ग्राहकों के लिए वही उत्पाद पेश किए जाते हैं, जो आमतौर पर ऑफ़लाइन मार्केट में उपलब्ध होते हैं। इन वजहों से ही ब्रैंड के प्रति ग्राहकों का विश्वास नहीं बन पाता। इसके बाद रोहित ने अनीता और अपने एक करीबी दोस्त तुषार जैन के साथ मिलकर ‘0द बैग टॉक डॉट कॉम (TheBagTalk.com)’ की शुरूआत की। रोहित के दोस्त तुषार, मुंबई आधारित हाई स्पिरिट कॉमर्शियल वेंचर्स के मैनेजिंग डायरेक्टर हैं। रोहित ने पत्नी अनीता और दोस्त तुषार के साथ मिलकर 2016 में अपने इस स्टार्टअप की शुरूआत की। उनका ब्रैंड, लगेज बैग्स, हैंडबैग्स, कल्चेज़, वॉलेट्स और बैग्स की अन्य कई वैराएटीज़ के लिए एक उम्दा मार्केटप्लेस है।

रोहित अपने ई-कॉमर्स प्लेटफ़ॉर्म को बाक़ी ई-कॉमर्स वेंचर्स से अलग मानते हैं और इसके लिए वह कुछ ख़ास वजहें भी गिनाते हैं। रोहित कहते हैं कि सबसे महत्वपूर्ण वजह यह है कि उनका ब्रैंड लाइफ़स्टाइल ट्रेंड्स पर ख़ासतौर पर फ़ोकस करता है। रोहित अपने ब्रैंड की प्रोडक्टस फोटोग्राफ़ी को बेहद उम्दा मानते हैं और उनका कहना है कि उनके फोटोज़ में प्रोडक्ट्स की डीटेलिंग लाजवाब होती है और इसके माध्यम से ग्राहकों को ऑनलाइन माध्यम पर ही अपने पसंद के प्रोडक्ट्स को बारीक़ी से देख पाने का मौका मिल पाता है।

दूसरी ख़ास वजह बताते हुए रोहित दावा करते हैं कि उनका बैकएंड ऐनालिटिक्स भी बहुत अच्छा काम कर रहा है। साथ ही, वह कहते हैं कि मशीन लर्निंग इंजन्स और बैकएंड की मदद से उनकी टीम ग्राहकों को प्रोडक्ट्स के बारे में अच्छे से अच्छे सुझाव देती है। इसके अतिरिक्त, रोहित बताते हैं कि बैकएंड ऐनालिटिक्स सेलर्स के लिए भी उपलब्ध है और उन्हें जानकारी देता रहता है कि किस तरह के प्रोडक्ट्स पर सबसे ज़्यादा ट्रैफ़िक आ रहा है। साथ ही, उन्हें कीवर्ड्स, पेज ऐनालिटिक्स और कॉम्पिटिटर ऐनालिटिक्स के बारे में भी सुझाव दिए जाते हैं। कैटलॉग तैयार करते वक़्त प्रोडक्ट के सफल होने की कितना संभावना है, इसकी भी पूरी जानकारी दी जाती है।

बिज़नेस टू बिज़नेस (बी टू बी) स्ट्रैटजी के तहत रोहित की टीम कॉन्टेन्ट के माध्यम से ब्रैंड्स को मार्केटिंग का सपोर्ट भी देती है। इस डायरेक्ट पार्टनरशिप्स की वजह से डिस्ट्रीब्यूटर्स और रीटेलर्स पर निर्भरता ख़त्म होती है और फलस्वरूप क़ीमतों में भी कमी आती है। रोहित मानते हैं कि ‘द बैग टॉक’ के बिज़नेस मॉडल में इनवेंटरी जितनी ही महत्वपूर्ण हैं, अन्य वैल्यू ऐडेड सर्विसेज़। उदाहरण के तौर पर ‘द बैग टॉक’ सेलर्स को इनवेंटरी के बड़े डेटा को अपलोड करने और कैटलॉग आदि तैयार कराने की सुविधाएं भी देता है।

कंपनी अपने पैनल के माध्यम से सेलर्स को ऑर्डर मैनेजमेंट करने, लॉजिस्टिक्स और ऐ़वरटाइज़िंग आदि का पूरा सहयोग देती है। इतना ही नहीं कंपनी के ऑनलाइन प्लेटफ़ॉर्म्स पर आपको लेटेस्ट फ़ैशन ट्रेंड्स आदि से संबंधित ब्लॉग्स आदि भी मिल जाएंगे। ‘द बैग टॉक’ जल्दी ही द बैग टॉक स्टूडियो की सर्विस भी लाने वाला है, जिसके माध्यम से ग्राहक ख़रीदने से पहले ही अपने बैग्स को एक्सपीरिएंस करके देख सकेंगे।

यह भी पढे़ं: भारत की चाय ने एक विदेशी महिला को बना दिया अरबपति

यदि आपके पास है कोई दिलचस्प कहानी या फिर कोई ऐसी कहानी जिसे दूसरों तक पहुंचना चाहिए, तो आप हमें लिख भेजें editor_hindi@yourstory.com पर। साथ ही सकारात्मक, दिलचस्प और प्रेरणात्मक कहानियों के लिए हमसे फेसबुक और ट्विटर पर भी जुड़ें...

Related Stories

Stories by yourstory हिन्दी