मदर डेयरी ने किया 10 ई-रिटेलरों के साथ गठजोड़

0

देश में तेजी से बढ़ते ई-कामर्स कारोबार का दोहन करने के मकसद से मदर डेयरी ने अपने डेयरी उत्पादों, फलों तथा सब्जियों की बिक्री के लिए 10 ई-रिटेलरों के साथ गठजोड़ किया है। इससे मदर डेयरी को अपनी तथा किसानों की आमदनी में बढ़ोतरी की उम्मीद है। मदर डेयरी दैनिक आधार पर राष्ट्रीय राजधानी में 30 लाख लीटर दूध की आपूर्ति करती है। बीते वित्त वर्ष में उसका कारोबार 7,186 करोड़ रपये का रहा था। इसमें से 75 प्रतिशत डेयरी खंड से हासिल हुआ था।

मदर डेयरी के प्रबंध निदेशक एस नागराजन ने पीटीआई भाषा से कहा, ‘‘हम ग्राहकांे तक अपनी पहुंच बढ़ाने के लिए बिग बास्केट जैसी ई-कामर्स कंपनियांे से गठजोड़ कर रहे हैं। हम दूध, ताजा फलों और सब्जियों की खरीद बढ़ाकर किसानों की आमदनी बढ़ाना चाहते हैं।’’ कंपनी ने नौ ई-रिटेलर्स..बिग बास्केट, ग्रोफर्स, आस्क मी ग्रॉसरी, संगम डायरेक्ट, एसआरएस ग्रॉसरी, जस्ट बाय लाइव, इनरशेफ, ग्रॉसरमैक्स और ऑरेंज ई-टोकरी से डेयरी उत्पादों, आइसक्रीम और फ्रोजन फलों और सब्जियों की बिक्री के लिए विभिन्न शहरों में करार किया है।

उन्होंने कहा कि मदर डेयरी माह दर माह आधार पर ई-कामर्स क्षेत्र में आमदनी में 10 प्रतिशत वृद्धि की उम्मीद कर रही है। यह पूछे जाने पर कि क्या कंपनी अपना खुद का ई-कामर्स प्लेटफार्म शुरू करेगी, नागराजन ने कहा, ‘‘हम इस क्षेत्र में सीधे नहीं उतरना चाहते।’’ चालू वित्त वर्ष के कारोबार के बारे में पूछे जाने पर नागराजन ने कहा कि यह करीब 8,000 करोड़ रपये रहेगा। (पीटीआई)