फैशन जगत में बिजनेस कर नाम कमा रहीं मोइन कुरैशी की बेटी पर्निया 

0

सीबीआई की सुर्खियों से जुड़े मोइन अख्तर कुरैशी की बेटी पर्निया कुरैशी भी कोई मामूली शख्सियत नहीं। उनकी कंपनी है 'पर्निया कुरैशी कन्सल्टेंसी प्राइवेट लिमिटेड'। वह वाशिंगटन में पढ़ाई कर चुकी हैं। 'आयशा' और 'जांनिसार' फिल्मों में हाथ बंटा चुकी हैं। वह राइटर भी हैं। शादी से पहले सोनम कपूर का आनंद आहूजा से उन्होंने ही दोस्ताना कराया था। उनका फैशन ई-कॉमर्स वेबसाइट है 'पर्निया पॉप अप शॉप डॉट कॉम'। पर्निया की शादी में ही मोइन कुरैशी पर पहली बार इनकम टैक्स वालों की नजर पड़ी थी।

पर्निया कुरैशी
पर्निया कुरैशी
वह कहती हैं कि पहली बुक की सफलता के बाद अब लोग चाहते हैं की वह एक और बुक लिखें। इसीलिए उन्होंने फैसला किया है कि वह बहुत जल्द अपनी नई बुक पर काम करना शुरू कर देंगी।

धुंए में आंच नहीं होती है लेकिन वह जब उठता है तो हवाओं के सिवा और किसी को पता नहीं होता कि वह किस पल, कितनी दूर तक, किस ओर उमड़-घुमड़ जाएगा, और पता नहीं, किस-किस को अपने साये में ले लेगा। विवादित मीट एक्सपोर्टर मोइन कुरैशी (पूरा नाम मोईन अख्तर कुरैशी) के 'सीबीआई-अलाव' से उठे एक ऐसे ही धुंए का साया उनकी स्टाइलिस्ट और फैशन उद्यमी बेटी पर्निया कुरैशी पर भी हमसाया हो रहा है। पर्निया की पढ़ाई-लिखाई वाशिंगटन (अमेरिका) में हुई है। वह कॉस्मोपॉलिटन मैगजीन के साथ काम कर चुकी हैं। पर्निया की शादी वर्ष 2011 में लंदन बेस्ड चार्टर अकाउंटेंट अजीत प्रसाद के बेटे अर्जुन प्रसाद से हुई थी लेकिन बताते हैं कि उन्होंने एक साल के भीतर ही तलाक ले लिया।

बताते हैं कि मोइन कुरैशी ने शादी के वक्त बेटी-दामाद को एक सर्विस अपार्टमेंट गिफ्ट किया था। उन दिनों अजय के परिवार वालों के साथ यूपीए के तत्कालीन केंद्रीय मंत्री जितिन प्रसाद से नजदीकियों की भी चर्चाएं रही थीं। उसी शादी के वक्त पहली बार मोइन कुरैशी पर इनकम टैक्स अफसरों की नजर पड़ी। शादी में राहत फतेह अली खान को गाना गाने के लिए बुलाया गया था। राहत को ही पहले धरा गया। वह विदेशी मुद्रा में 56 लाख रुपए लेकर ट्रेवल कर रहे थे।

पर्निया कुरैशी मुंबई सेलीब्रिटीज के बीच एक मशहूर फिगर बन चुकी हैं। वह फैशन स्टोर भी चलाती हैं। उनके डिजाइन किए कपड़े बॉलीवुड और पेज थ्री क्लब में काफी फेमस हैं। वह अपना फैशन लेबल भी चलाती हैं। पर्निया कुरैशी की कंपनी का नाम 'पर्निया कुरैशी कन्सल्टेंसी प्राइवेट लिमिटेड' है, जिसका ऑफिस दिल्ली के डिफेंस कॉलोनी में है। वह अपनी फैशन ई-कॉमर्स वेबसाइट पर्निया पॉप अप शॉप डॉट कॉम चलाती हैं। उनकी वेबसाइट के जरिए उनकी डिजाइन की हुई ड्रेस के साथ ही दूसरे डिजाइनर्स की डिजाइन की ड्रेस ऑनलाइन बिकती हैं। वह अपना फैशन लेबल ‘पर्निया कुरैशी’ के नाम से बनाती हैं। वह इस पर अपना ब्लॉग भी चलाती हैं।

पर्निया के पिता मोइन कुरैशी मनी लॉन्ड्रिंग और सीबीआई अफसरों से जुड़े रिश्वत प्रकरण में काफी समय समय से सुर्खियों में हैं। इस समय सीबीआई के तीन सीनियर अधिकारी मोइन कुरैशी से नजदीकी के कारण कानूनी कार्रवाई झेल रहे हैं। मोइन उस वक्त अचानक मीडिया की सुर्खियों में उछल गए थे, जब 2014 के चुनाव में नरेंद्र मोदी ने अपनी एक जनसभा में आरोप लगाया था कि मोइन कुरैशी के संबंध कांग्रेस के नेताओं से है। इसी वजह से यूपीए सरकार उस पर कार्रवाई नहीं कर रही है। इसके बाद कुरैशी के 15 ठिकानों पर ताबड़तोड़ छापेमारी की गई। जैसे-जैसे जांच आगे बढ़ती गई, कई बड़े लोग इसके लपेटे में आते गए। वर्ष 1993 में मोइन कुरैशी रामपुर (उप्र) में बूचड़खाना चलाते थे। उसके बाद से उन्होंने एक-एक कर पचीस से अधिक कंपनियां खड़ी कर लीं। वह कंस्ट्रक्शन, फैशन बिजनेस में भी आ गए।

आइए, अब पर्निया के फेमस होने के शुरुआती दिनो पर एक नजर डालते हैं। 4 नवंबर 2013 को दिल्ली के इंदिरा गांधी हवाई अड्डे पर पर्निया कुरैशी को डिटेन किया गया था। फैशनिस्ट पर्निया के पास से 16 डिजाइनर बैग मिले, जिनकी कीमत 35 लाख रुपये बताई गई थी। बैग इटली के डिजाइनर कोर्टो मॉल्टेडो के डिजाइन किए हुए थे। पर्निया को शानो-शौकत से रहने, शॉपिंग और टूर का भी ग़ज़ब का शौक है। उन्होंने अपने छतरपुर फॉर्महाउस में गर्मी-जाड़े के लिए दो वॉक-इन वॉर्डरोब बनवा रखे हैं। वह वीकेंड पर जयपुर जाने की आदती हैं। वह मीडिया को बता चुकी हैं कि ताज होटल के रामबाग पैलेस (जयपुर) जाने में चालीस मिनट लगते है। वह दो दिन वहीं रहती हैं। उन्हें हवामहल के एक सुइट में भी रहने का शौक है। वहां का एक रात का खर्च 30 हजार रुपए है। पर्निया कुरैशी ने वर्ष 2008 में भारत के टॉप डिजाइनरों के साथ जुड़ने के दो साल बाद फिल्म 'आयशा' के लिए ड्रेस डिजाइन किए। इसके ठीक दो साल बाद उन्होंने खुद का फैशन स्टोर भी खोल लिया। वह बॉलीवुड में कदम रखने से पहले मॉडलिंग भी कर चुकी हैं। वर्ष 2013 में 'Be Stylish with Pernia Qureshi' नाम‍ की अपनी किताब भी जारी हो चुकी हैं।

वह कहती हैं कि पहली बुक की सफलता के बाद अब लोग चाहते हैं की वह एक और बुक लिखें। इसीलिए उन्होंने फैसला किया है कि वह बहुत जल्द अपनी नई बुक पर काम करना शुरू कर देंगी। वर्ष 2015 में पर्निया कुरैशी ने मुजफ्फर अली की फिल्म 'जांनिसार' में काम किया, बल्कि कहें कि उद्यमी-स्टाइलिस्ट-डिजाइनर-डांसर पर्निया ने इस फिल्म से पहली बार धूम-धड़ाके के साथ बॉलीवुड में कदम रखा। उन दिनो वह कहा करती थीं कि इस फिल्म के गाने को लखिया ने बेहद खूबसूरती के साथ कोरियोग्राफ किया है। उनकी जैसी अनुभवी इंसान के साथ काम करना सम्मान की बात है। वर्ष 2015 से 'आयशा' फिल्म की अभिनेत्री सोनम के साथ पर्निया के दोस्ताना ताल्लुकात और प्रगाढ़ हो गए।

पर्निया कहा करतीं कि 'मेरा सपना है कि सलमान खान के साथ काम करूं, जो फिल्म पूरी फिल्मी हो, चाहे फिल्म में कितने ही एक्टर्स क्यूँ न हों, मैं करुँगी। मैं भी पूरी फ़िल्मी हूँ। यह सोनम को पता है। मैं बॉलीवुड की दीवानी हूँ। मुझे 'हम साथ साथ है' यह फिल्म बहुत ज्यादा पसंद है। सलमान के साथ काम करने का ख्वाब हर फ़िल्मी हेरोइन देखती है।' पर्निया 'जीक्यू' मैग्जीन के लिए बोल्ड फोटोशूट करवा चुकी हैं। वह जानती हैं कि अगर ग्लैमर की दुनिया में अपना कद बड़ा करना है तो किस तरह से दर्शकों का ध्यान अपनी ओर खींचा जा सकता है। इसकी मिसाल 'जीक्यू' मैग्जीन के लिए बोल्ड अंदाज में शूट कराई गईं उनकी फोटो हैं। 'जांनिसार' फिल्म में जहां वह ट्रेडिशनल लुक में नजर आई थीं, वहीं मैग्जीन के फोटोशूट में उस लुक से एकदम उलट। कहते हैं कि जब 'जानिसार' बॉक्स ऑफिस पर कुछ खास कमाल नहीं दिखा पाई तो उन्होंने ने लोगों की निगाहें अपनी ओर खींचने के लिए मैग्जीन का फोटोशूट करवाया।

दिल्ली के करोड़पति बिजनेसमैन आनंद अहूजा से अभिनेता अनिल कपूर की अभिनेत्री बेटी सोनम को मिलवाने में पर्निया ही पहली कड़ी रही हैं। वह सोनम कपूर की स्लाइलिस्ट और आनंद अहूजा की करीबी दोस्त। पर्निया आइवरी रंग के लहंगे और स्टाइलिश चोली में सोनम के लिए रैम्प वॉक भी कर चुकी हैं। उन्होंने ही वर्ष 2014 में आनंद से सोनम को पहली बार मिलवाया था। उस मुलाकात के एक महीने बाद ही आनंद अहूजा ने सोनम कपूर को प्रपोज कर दिया था। इसके बाद लंबे समय तक डेट करने के बाद दोनों ने शादी रचा ली। पर्निया के पिता मोइन देश के सबसे बड़े मीट एक्सपोर्टर हैं तो आनंद देश के सबसे बड़े एक्सपोर्ट हाउस 'शाही एक्सपोर्ट' के मालिक हरीश आहूजा के पोते हैं।

पिछले वर्ष पर्निया कुरैशी ने कहा था कि फिलहाल, वह फिल्मों पर ध्यान केंद्रित नहीं कर रही हैं, क्योंकि उनकी अन्य प्राथमिकताएं भी हैं। उन्होंने लॅक्मे फैशन वीक विटंर/फेस्टिव 2017 में मोनिका निधि ब्रांड के लिए रैंप वॉक के दौरान कहा था कि 'फिलहाल मैं फिल्मों पर फोकस नहीं कर रही। मैं इनके खिलाफ नहीं हूं, लेकिन इस समय इस क्षेत्र में सक्रिय नहीं हूं। फिलहाल मेरा पूरा ध्यान पॉप अप शॉप और मेरे शास्त्रीय नृत्य करियर पर है।'

यह भी पढ़ें: पति ने दिया तलाक, पांच महीने के बच्चे को लेकर चलाने लगीं ऑटो

यदि आपके पास है कोई दिलचस्प कहानी या फिर कोई ऐसी कहानी जिसे दूसरों तक पहुंचना चाहिए, तो आप हमें लिख भेजें editor_hindi@yourstory.com पर। साथ ही सकारात्मक, दिलचस्प और प्रेरणात्मक कहानियों के लिए हमसे फेसबुक और ट्विटर पर भी जुड़ें...

पत्रकार/ लेखक/ साहित्यकार/ कवि/ विचारक/ स्वतंत्र पत्रकार हैं। हिन्दी पत्रकारिता में 35 सालों से सक्रीय हैं। हिन्दी के लीडिंग न्यूज़ पेपर 'अमर उजाला', 'दैनिक जागरण' और 'आज' में 35 वर्षों तक कार्यरत रहे हैं। अब तक हिन्दी की दस किताबें प्रकाशित हो चुकी हैं, जिनमें 6 मीडिया पर और 4 कविता संग्रह हैं।

Related Stories

Stories by जय प्रकाश जय