महिला उद्यमियों और उनकी कहानियों को दुनिया के सामने लाने का प्रयास करता ‘शक्ति-वीमेन स्टार्टअप इंडिया’

0

महिलाएं हमारी अर्थव्यवस्था का एक प्रमुख आधार तो हैं ही साथ ही आने वाले समय में भारतीय अर्थव्यवस्था क्या शक्ल अख्तियार करेगी यह तय करने में भी उनका एक बेहद महत्वपूर्ण योगदान रहेगा। एक तरफ जब हम तकनीक के क्षेत्र में अधिक से अधिक महिलाओं को आगे आते हुए देखना चाहते हैं वहीं दूसरी तरफ कई ऐसे पारंपरिक क्षेत्र हैं जहां महिलाएं बड़े पैमाने पर स्टार्टअप के जरिये अपनी एक अलग पहचान बनाते हुए सफलता को गले लगाने में कामयाब हो रही हैं और निरंतर आगे बढ़ रही हैं।

महिलाओं की इसी भावना, सकारात्मकता और कहानियों की सराहना करते हुए राष्ट्रीय महिला आयोग और योरस्टोरी मिलकर महिलाओं की उपलब्धियों को दुनिया के सामने लाने की तैयारियां कर रहे हैं।

आप भी इस उत्सव के साक्षी बनें:

शक्ति - वोमेन स्टार्टअप इंडिया

Skill development for-कौशल विकास

Handicrafts and traditional arts-हस्तशिल्प और पारंपरिक कला

Agriculture and organic food-कृषि और जैविक खाद्य पदार्थ

Knitwear, garments, textiles-बुना हुआ कपड़ा, गारमेंट और टेक्सटाइल

Travel and tourism and Technology-यात्रा एवं पर्यटन और प्रौद्योगिकी


इस विशेष आयोजन में उद्योग जगत से जुड़े विशेषज्ञ, सरकारी/निजी/गैर सरकारी संगठनों के प्रतिनिधि, निवेशक, रोल माॅडल्स की केस स्टडीज इत्यादि के द्वारा कार्यशालाओं और पैनल चर्चाओं के माध्यम से कौशल विकास जैसे क्षेत्रों को संबोधित करेंगे।

इस अलावा यह आयोजन अन्य प्रतिभागियों द्वारा पहचान किये गए उन क्षेत्रों पर भी ध्यान देने का प्रयास करेगा जिनमें उनके हिसाब से सरकार, महिला संगठन और निजी क्षेत्र का समर्थन लेकर महिलाएं अपने उद्यम को आगे बढ़ाने में कामयाब हो सकती हैं। भारत तभी चमकते हुए अपनी एक अलग पहचान बनाने में कामयाब होगा जब हम महिलाओं की उपलब्धियों का जश्न मनाएंगे।

यहां पंजीकरण करवाएं

दिनांक: 8 मार्च, मंगलवार

समय - सुबह 10 बजे से शाम 5.30 बजे तक

कार्यक्रम स्थल - स्कोप आॅडिटोरियम, स्कोप काॅम्पलेक्स, प्रथम मंजिल, कोर-87, लोधी रोड, नई दिल्ली - 110003

एजेंडा-

कार्यशालाओं का विषय

कौशल विकास से लेकर स्टार्टअप करने तक

स्टार्टअप्स के सामने आने वाली चुनौतियां और उनसे पार पाने का तरीका

इंजन को चलाये रखना

व्यापार के क्षेत्र के अगुवा के रूप में सोचना

पैनल

अपनी सोच को आगे ले जाना - एक विचार को व्यापार के वास्तविक रूप में तब्दील करना

जब हालात मुश्किल हों तो अपने उद्यम को कैसे संचालित करते हुए आगे बढ़ें

स्टार्टअप इंडिया, महिला उद्यमियों के लिये स्टैंडअप इंडिया

Business@home

किसी भी प्रकार की जानकारी के लिये her@yourstory.com पर संपर्क करें


अनुवादकः पूजा