तानाशाहों की सनक: उत्तर कोरिया में सिर्फ किम जोंग की पत्नी को है फैशनेबल कपड़ों की इजाजत

तानाशाह की बीवी को फैशनेबल कपड़ों का शौक

1

हाल ही में अमेरिकी राष्ट्रपति से मिले उत्तर कोरियाई तानाशाह किम जोंग-उन ने अपने देश के चार दशकों के इतिहास में पहली बार अपनी पत्नी री सो जू को 'फर्स्ट लेडी' की मान्यता दी है। रिसर्चर इसे मार्केटिंग स्ट्रेटजी बताते हैं। उत्तर कोरिया में मात्र री को फैशनेबल कपड़ों की इजाजत है। वह ऑक्रेस्ट्रा सिंगर रही हैं। किम ने री के लिए भी सख्त नियम बना रखे हैं। यद्यपि किम के व्यवहार में आए ताजा परिवर्तन के पीछे पत्नी री के अलावा छोटी बहन किम यो जोंग की विशेष पहल बताई जाती है।

किमम जोंग अपनी पत्नी के साथ
किमम जोंग अपनी पत्नी के साथ
दक्षिण कोरियाई खुफिया रिपोर्टों की माने तो री एक साधारण परिवार से ताल्लुक रखती हैं। उनके पिता टीचर थे और मां डॉक्टर। री खुद एक म्यूजिक स्कूल में थीं और साल 2005 में वह चीयर लीडर के तौर पर एक इंटरनेशनल स्पोर्ट्स इवेंट के लिए दक्षिण कोरिया पहुंचीं।

दुनिया भर में तानाशाहों और उनकी बीवियों के बारे में तरह-तरह की सुर्खियां बनती रहती हैं। ऐसे में आजकल विश्व मीडिया पर छाए उत्तर कोरिया के तानाशाह किम जोंग-उन की बीवी री सो जू को लेकर भी तमाम चर्चाएं चलती रहती हैं; जो आज कल तो कुछ ज्यादा ही खबरों में हैं। तानाशाहों की सनक के भी किस्से हजार हैं। उत्तर कोरिया के ही एक और शासक रहे हैं किम इल सुंग, उनके लिए चावल अलग से पैदा किया जाता था, पुर्तगाल के कैथोलिक एंटोनियो सालाज़ार को एक ख़ास तरह की मछली पसंद थी, जो उन्हे उनके बचपन की ग़रीबी की याद दिलाती थी, हिटलर एक डॉक्टर को 28 अलग-अलग तरह की दवाओं के साथ हमेशा अपने साथ रखता था और खाने के समय बूचड़खाने की बातें करता था, मुसोलिनी भयानक रूप से कब्ज़ से पीड़ित रहते थे, सद्दाम हुसैन ने अपने बेटे उदय को इसलिए जेल में डाल दिया था कि उसने खाना चखने वाले की हत्या कर दी थी, रोमन सम्राट कैलिग्यूला को रेस के घोडे़ बेहद पंसद थे, जिसे सोने के मर्तबान में शराब पिलवाई जाती थी।

हैती का अंधविश्वासी पूर्व राष्ट्रपति फ्रांसवा डूवलियर हर माह सिर्फ 22 तारीख को अपने आवास से बाहर निकलता था। युगांडा के शासक इदी अमीन को अपने आप से इतना ज्यादा मोह था कि वह खुद को क्वीन एलिजाबेथ द्वितीय से बड़ा दिखाना चाहता था। हाल ही में अमेरिकी राष्ट्रपति डॉनल्ड ट्रंप के साथ समिट करने वाले उत्तर कोरियाई तानाशाह किम जोंग-उन ने अपने देश के चार दशकों के इतिहास को झुठलाते हुए पहली बार अपनी स्टाइलिश पत्नी री सो जू को हाल ही में 'फर्स्ट लेडी' की मान्यता दी है। रिसर्चर इसे किम की मार्केटिंग रणनीति बता रहे हैं। इससे पहले उत्तर कोरियाई सरकारी मीडिया री को 'कॉमरेड' कहकर संबोधित करता रहा है। री की हर चीज को इतना गोपनीय रखा जाता है कि उनकी उम्र की भी किसी को आधिकारिक जानकारी नहीं है। वैसे उनकी उम्र 29 साल बताई जाती है और उनके तीन बच्चे हैं, जिनमें एक बेटी है।

दक्षिण कोरियाई खुफिया रिपोर्टों की माने तो री एक साधारण परिवार से ताल्लुक रखती हैं। उनके पिता टीचर थे और मां डॉक्टर। री खुद एक म्यूजिक स्कूल में थीं और साल 2005 में वह चीयर लीडर के तौर पर एक इंटरनेशनल स्पोर्ट्स इवेंट के लिए दक्षिण कोरिया पहुंचीं। बताते हैं कि पूरी दुनिया को डरा कर रखने वाले किम अपनी पत्नी री का बहुत सम्मान करते हैं। हाल ही में पड़ोसी राष्ट्रपति शी जिनपिंग के साथ परमाणु मुद्दों पर बातचीत के लिए जब वह चीन गए तो साथ में री को भी ले गए। उन दिनो चाइनीज मीडिया और सोशल मीडिया पर री की खूबसूरती और फैशन सेंस चर्चाओं में रहा, जबकि उत्तरी कोरिया में फैशन पर पाबन्दी है, री एकमात्र हैं, जिन्हें फैशनेबल कपड़ों की इजाजत है। तब उनको 'फर्स्ट लेडी डिप्लोमेसी' लिखा गया।

किम की जिंदगी जितनी रहस्यमय रही है, उतनी ही उनकी शादी की। शादी कब-कहां-कैसे हुई, किसी को पता नहीं। री वर्ष 2012 में अचानक एक दिन लोगों को किम के साथ नजर आईं। लोग उन्हें एक क्रूर तानाशाह के साथ देखकर हैरान रह गए। कुछ दिन बाद मीडिया से लोगों को पता चला कि वह किम की पत्नी री सोल जू हैं। बताया जाता है कि ये शादी वर्ष 2009 अथवा 2010 में री के पिता ने कराई थी और सालभर बाद उनसे एक बच्चे का जन्म हुआ। अनधिकृत और अनुमानित तौर पर मीडिया ही बताता है कि री का जन्म साल 1985-89 के बीच हुआ था। री की मां डॉक्टर और पिता प्रोफेसर हैं। री की शिक्षा-दिक्षा प्योंगयांग के एक कॉलेज में हुई है। फिर उन्होंने चीन में संगीत की भी शिक्षा ले रखी है। वह ऑक्रेस्ट्रा सिंगर रही हैं। वह 2005 में चीयरलीडर के रूप में एशियन एथलीट चैंपियनशिप में नॉर्थ कोरिया पहुंची थीं।

उनकी किम से पहली मुलाकात उत्तर कोरिया में ही हुई तो किम ने कहा था - वह बहुत खूबसूरत हैं और उनकी आवाज इतनी मधुर है कि वह उसे बयान नहीं कर सकते हैं। गरीबी और भुखमरी से जूझ रहे उत्तर कोरिया के तानाशाह किम ने अपनी ऐशो आराम की जिंदगी में नागरिकों ही नहीं, अपनी पत्नी री के लिए भी सख्त नियम-कानून बना रखे हैं। री को शादी के बाद अपने जन्म का नाम बदल कर नया नाम रखना पड़ा। उनको हर समय पब्लिक अपीयरेंस नहीं, बल्कि केवल स्पेशल अपीयरेंस की ही अनुमति है। उन्हें हर वक्त अपने बच्चों के साथ सीक्रेट लाइफ जीनी होती है। हाई सिक्योरिटी के तहत उनके हर मूवमेंट्स की निगरानी होती रहती है। शादी के तुरंत बाद विरासत को आगे बढ़ाने के लिए पहले बच्चे के रूप में बेटे को जन्म देने के लिए उनको मजबूर किया गया। केवल करियर ही नहीं, पति के लिए भी री को हमेशा के लिए अपनी पसंद-नापसंद से तौबा करनी पड़ी है।

गौरतलब है कि परमाणु परीक्षण की वजह से विश्व मीडिया में छाए रहने वाले किम के ताजा बर्ताव ने लोगों को हैरानी डाल रखा है। अब विदेश यात्राएं करने लगे हैं। चीन के बाद सिंगापुर पहुंचे और वहां अमेरिका की उस शर्त को भी मान लिया, जिसमें उनसे परमाणु परीक्षण का वादा करने की बात कही गई थी। इतना ही नहीं, वह साउथ कोरियन आर्टिस्‍ट्स के कॉन्‍सर्ट में भी गए। इस व्यावहारिक परिवर्तन के पीछे री का हाथ बताया जा रहा है। इस बदलाव में किम की छोटी बहन किम यो जोंग की भी सह मानी जा रही है। वरना वर्ष 2018 से पहले किम से ऐसे लचीले व्यवहार की कत्तई उम्मीद नहीं की जाती थी। विश्लेषक कहते हैं कि री ने एक क्रूर शासक के स्वभाव की दिशा मोड़ दी है।

अब किम अपने शासन करने का तरीका और अपनी इमेज, दोनो को बदलना चाहते हैं। निजी जीवन में री शांत स्‍वभाव की हैं। हमेशा महंगे कपड़े पहनती हैं। उनकी खास अभिरुचि परफॉर्मिंग आर्ट्स में रहती है। उनका नॉर्थ कोरिया के पॉप ग्रुप मोराबोंग बैंक से जुड़ाव है। उन्हें चुनिंदा महिलाओं में ही शामिल होने का अधिकार है। किम के व्यवहार में बदलाव के अनुपात में ही री और उनकी छोटी बहन यो को दुनिया के सामने आने की मोहलतें मिलने लगी हैं। यो अपने परिवार की ऐसी पहली सदस्‍य रही हैं, जिनको फरवरी में ओ‍लंपिक्‍स के उद्घाटन के वक्त साउथ कोरिया जाने का अवसर दिया गया। यो को अपने भाई किम का सबसे खास राजदार बताया जाता है। वह किम के साथ कई वर्षों तक स्विट्जरलैंड रही हैं। री की तरह वह भी ग्‍लैमरस लगना पसंद करती हैं।

यह भी पढ़ें: पचहत्तर पैसे के शैंपू बनाने से की थी शुरुआत, आज खड़ी कर ली 1600 करोड़ की कंपनी

यदि आपके पास है कोई दिलचस्प कहानी या फिर कोई ऐसी कहानी जिसे दूसरों तक पहुंचना चाहिए, तो आप हमें लिख भेजें editor_hindi@yourstory.com पर। साथ ही सकारात्मक, दिलचस्प और प्रेरणात्मक कहानियों के लिए हमसे फेसबुक और ट्विटर पर भी जुड़ें...

पत्रकार/ लेखक/ साहित्यकार/ कवि/ विचारक/ स्वतंत्र पत्रकार हैं। हिन्दी पत्रकारिता में 35 सालों से सक्रीय हैं। हिन्दी के लीडिंग न्यूज़ पेपर 'अमर उजाला', 'दैनिक जागरण' और 'आज' में 35 वर्षों तक कार्यरत रहे हैं। अब तक हिन्दी की दस किताबें प्रकाशित हो चुकी हैं, जिनमें 6 मीडिया पर और 4 कविता संग्रह हैं।

Related Stories

Stories by जय प्रकाश जय