31 दिसंबर तक ‘मर्चेन्ट डिस्काउंट रेट’ में मिलेगी छूट 

बैंकों ने 31 दिसंबर तक सभी डेबिट कार्ड पर ‘मर्चेन्ट डिस्काउंट रेट’ में छूट की घोषणा की।

0

बैंकों ने 31 दिसंबर तक सभी डेबिट कार्ड पर ‘मर्चेन्ट डिस्काउंट रेट’ में छूट की घोषणा कर दी है। आईसीआईसीआई बैंक तथा एचडीएफसी बैंक समेत प्रमुख बैंकों ने डेबिट कार्ड से होने वाले सौदों पर ‘मर्चेन्ट डिस्काउंट रेट’ (एमडीआर) में 31 दिसंबर तक छूट देने की बात कही है। इस छूट का मकसद ग्राहकों द्वारा भुगतान को सुगम बनाना है।

निजी क्षेत्र के आईसीआईसीआई बैंक ने आईसीआईसीआई मर्चेन्ट सर्विसेज (आईएमएसएल) द्वारा सभी मर्चेन्ट सेवाओं पर डेबिट कार्ड से सौदों पर लगने वाले एमडीआर में छूट की घोषणा की है। यह छूट 31 दिसंबर तक प्रभावी रहेगी।

मौजूदा नियमन के तहत दो प्रतिशत एमडीआर की अनुमति है जिसे इलेक्ट्रानिक रूप से सौदों के रास्ते में बाधा समझा जाता है।

इसके अलावा एचडीएफसी बैंक, एक्सिस बैंक, यस बैंक, यूको बैंक ने भी इस प्रकार की छूट की घोषणा की है। एसबीआई ने पिछले सप्ताह रूपे कार्ड पर एमडीआर से छूट की घोषणा की थी। उधर दूसरी तरफ भारतीय स्टेट बैंक (एसबीआई) ने एक से दस करोड़ रुपये की मियादी जमाओं पर ब्याज दर में 1.9 प्रतिशत तक की कटौती कर दी है। नोटबंदी के बाद जमा में वृद्धि के बाद बैंक ने ब्याज दर में कमी की है।

देश के सबसे बड़े बैंक द्वारा जमा दर में कटौती कर्ज पर लगने वाले ब्याज में कमी का संकेत हो सकता है।

एसबीआई की वेबसाइट के अनुसार बैंक ने एक से दस करोड़ रपये की मियादी जमाओं पर ब्याज दरों में कटौती की है। नई दरें कल से प्रभावी होंगी। संशोधित दर के तहत 180 से 210 दिन के लिये जमा पर ब्याज दर अब 1.90 प्रतिशत कम होकर 3.85 प्रतिशत रह गयी है जो पहले 5.75 प्रतिशत थी। वहीं सात दिन से 45 दिन की अवधि के लिये मियादी जमा पर ब्याज दर में 1.25 प्रतिशत की कटौती की गयी है। इस कटौती के बाद ब्याज दर 3.75 प्रतिशत हो गयी है। 

इससे पहले, एसबीआई ने एक करोड़ रुपये से कम की जमा राशि पर ब्याज दर में 0.15 प्रतिशत तक की कटौती की थी।

यदि आपके पास है कोई दिलचस्प कहानी या फिर कोई ऐसी कहानी जिसे दूसरों तक पहुंचना चाहिए, तो आप हमें लिख भेजें editor_hindi@yourstory.com पर। साथ ही सकारात्मक, दिलचस्प और प्रेरणात्मक कहानियों के लिए हमसे फेसबुक और ट्विटर पर भी जुड़ें...