महिला पुलिस अफसर ने बचाए गए बच्चे को ड्यूटी के वक्त पिलाया दूध, मिला प्रमोशन

0

अर्जेंटीना की एक महिला पुलिस अफसर की बच्चे को दूध पिलाती तस्वीर ने सबका दिल जीत लिया। वर्दी पहने हुए बच्चे को दूध पिलाती महिला पुलिसकर्मी की तस्वीर उस वक्त खींची गई जब वह ड्यूटी पर तैनात थीं। दिलचस्प बात यह है कि यह बच्चा उनका नहीं था।

फोटो साभार- सोशल मीडिया
फोटो साभार- सोशल मीडिया
आयला उस वक्क बच्चों के पास ही थीं और उनकी भी एक 16 महीने की बच्ची है। आयला को लगा कि यह बच्चा भूख की वजह से रो रहा है। उन्होंने हॉस्पिटल स्टाफ से अनुमति लेकर बच्चे को अपनी गोद में लिया और उसे अपनी छाती से लगा लिया।

इन दिनों खुले में महिलाओं के स्तनपान कराने को लेकर हमारे समाज में एक बहस छिड़ी हुई है। नवजात बच्चे के स्वास्थ्य से जुड़ी हुई एक बहुत जरूरी चीज को अधिकतर लोगों से समर्थन मिल रहा है तो वहीं पुरातन मानिकता वाले कुछ लोग ऐसे भी हैं जो इसे महिलाओं की इज्जत से देखते हैं और खुले में स्तनपान का समर्थन नहीं करते। इसी बीच अर्जेंटीना की एक महिला पुलिस अफसर की बच्चे को दूध पिलाती तस्वीर ने सबका दिल जीत लिया। वर्दी पहने हुए बच्चे को दूध पिलाती महिला पुलिसकर्मी की तस्वीर उस वक्त खींची गई जब वह ड्यूटी पर तैनात थीं। दिलचस्प बात यह है कि यह बच्चा उनका नहीं था।

उस पुलिसकर्मी का नाम सेलेस्टे आयला है जो एक कमजोर और परेशान सात महीने के बच्चे को दूध पिला रही थीं। आयला पुलिस अधिकारियों की उस टीम का हिस्सा थीं जिसने म्यूनिसिपैलिटी इलाके में एक घर में बुरी हालत में 6 बच्चों को बचाया। ये बच्चे अपने घर में काफी बुरे हालात में रहे थे। न्यूयॉर्क टाइम्स की एक रिपोर्ट के मुताबिक जब पुलिसकर्मी इन बच्चों को लेकर अस्पताल पहुंचे तो इनमें से सबसे छोटा बच्चा रोने लगा।

आयला उस वक्क बच्चों के पास ही थीं और उनकी भी एक 16 महीने की बच्ची है। आयला को लगा कि यह बच्चा भूख की वजह से रो रहा है। उन्होंने हॉस्पिटल स्टाफ से अनुमति लेकर बच्चे को अपनी गोद में लिया और उसे अपनी छाती से लगा लिया। इसके बाद वह बच्चा चुपचाप दूध पीने लगा। एक टीवी चैनल को इंटरव्यू देते हुए आयला ने कहा, 'बच्चे को बुरी तरह रोते देखकर मैंने एक भी सेकेंड की देरी नहीं की।'

महिला पुलिस अफसर की इस ममता पर प्रांत के सुरक्षा मंत्री क्रिस्टियन रिटोन्डो गदगद हो गए और उनसे मिलने का फैसला किया। बच्चे की मदद के लिए अपनी ड्यूटी से बढ़कर काम करने वाली आयला को उन्होंने पुरस्कृत किया। आयला को उनके इस काम की वजह से प्रमोशन मिल गया। इसके अलावा नर्सिंग होम में बच्चे को दूध पिलाती आयला की तस्वीर काफी वायरल हो गई। यह तस्वीर उनके ही एक सहकर्मी ने अपने ट्विटर और फेसबुक अकाउंट से शेयर की है। सहकर्मी ने लिखा कि हॉस्पिटल के डॉक्टरों ने कहा था कि बच्चा काफी गंदी अवस्था में है और उसते शरीर से बदबू भी आ रही है, लेकिन आयला ने इस बात की तनिक भी परवाह नहीं की।

यह भी पढ़ें: पर्यावरण बचाने के लिए इन स्कूली बच्चों की कोशिशें आपका दिल जीत लेंगी

यदि आपके पास है कोई दिलचस्प कहानी या फिर कोई ऐसी कहानी जिसे दूसरों तक पहुंचना चाहिए, तो आप हमें लिख भेजें editor_hindi@yourstory.com पर। साथ ही सकारात्मक, दिलचस्प और प्रेरणात्मक कहानियों के लिए हमसे फेसबुक और ट्विटर पर भी जुड़ें...

Related Stories

Stories by yourstory हिन्दी