बॉडी शेमिंग से लड़ना कोई 'व्हाटिनी थॉर' से सीखे

व्हाटिनी थॉर ने 'अ फैट गर्ल डांसिंग' नाम से शुरू किया अपना यूट्यूब चैनल और हो गईं विश्व प्रसिद्ध।

2

हम सबको नाचना बहुत पसंद है। नाचना न सिर्फ अभिव्यक्ति का एक खूबसूरत माध्यम है, बल्कि ये तनाव कम करने में भी काफी मदद करता है, लेकिन एक मोटी-थुलथुली, ओवरवेट लड़की का नाचना हमारे गले के नीचे नहीं उतरता है। ऐसे ही जब व्हाटिनी थॉर ने डांस करना शुरू किया तो लोग उन्हें भद्दा और बद्सूरत बोल कर चिढ़ाने लगे।

व्हाटिनी थॉर डांसिंग मूड में
व्हाटिनी थॉर डांसिंग मूड में
व्हाटिनी का पीसीओएस पॉलीसिस्टिक ओवरी डिस्ऑर्डर की वजह से एक साथ ही 45 किलो वजन बढ़ गया। व्हाटिनी का कॉन्फिडेंस घटने लगा। वो डिप्रेशन में जाने लगीं। लेकिन एक दिन उन्होंने वापस लड़ने का फैसला लिया।

बॉडी शेमिंग, लोगों के पतले या मोटा होने पर उनका मजाक उड़ा-उड़ाकर जीना दूभर कर देना, लोगों के दिमाग में परफेक्ट शरीर का एक ऐसा फोबिया बन गया है कि उस मानक में जो भी फिट नहीं बैठता, उस पर वो फब्तियां कसने लगते हैं। उन्हें 'शेप' में लाने के लिए तरह-तरह की दवाईयां बताने लगते हैं, टोना-टोटका की सलाह देते हैं और ये सब करके वे सिर्फ उनका मॉरल डाउन करते हैं।

हम सबको नाचना बहुत पसंद है। नाचना न सिर्फ अभिव्यक्ति का एक खूबसूरत माध्यम है, बल्कि ये तनाव कम करने में भी काफी मदद करता है, लेकिन एक मोटी-थुलथुली, ओवरवेट लड़की का नाचना हमारे गले के नीचे नहीं उतरता है। ऐसे ही जब व्हाटिनी थॉर ने डांस करना शुरू किया, तो लोग उन्हें भद्दा और बदसूरत बोल कर चिढ़ाने लगे। बढ़ा या घटा वजन स्वस्थ शरीर की निशानी नहीं है, लेकिन ऐसे व्यक्ति का मजाक उड़ाना बहुत गलत बात है, क्योंकि आपका मज़ाक कोई हल नहीं, बल्कि उनकी तकलीफ को बढ़ाने का काम करता है। हो सकता है कि सिर्फ खाना कम या ज्यादा खाने से ही उसका डीलडौल न बिगड़ा हो। ये भी हो सकता है कि उस इंसान को ऐसी कोई बीमारी हो जिससे उबरने के लिए उसे आपकी मदद की जरूरत हो, आपके मज़ाक की नहीं। व्हाटिनी का पीसीओएस पॉलीसिस्टिक ओवरी डिस्ऑर्डर की वजह से एक साथ ही 45 किलो वजन बढ़ गया। व्हाटिनी का कॉन्फिडेंस घटने लगा। वो डिप्रेशन में जाने लगीं। लेकिन एक दिन उन्होंने वापस लड़ने का फैसला लिया। डांस के लिए अपने जुनून को और धारदार बनाया।

व्हाटिनी ने 27 फरवरी 2014 को यूट्यूब पर अपने डांस का एक वीडियो अपलोड किया। उनको इतनी खूबसूरती से कमर मटकाते देखकर अच्छे-अच्छों ने दांतों तले उंगलियां दबा लीं। डांस वीडियो की पॉपुलैरिटी देखकर व्हाटिनी ने 'अ फैट गर्ल डांसिंग' नाम से एक यूट्यूब चैनल बनाया, जिसमें उनके कई डांस फार्म में परफॉर्मेंस के वीडियो हैं।

'माय बिग फैट फैबुलस' लाइफ नाम से व्हाटिनी का टीवी पर एक शो भी आता है। वो फैट बॉडी एक्सेप्टेंस के लिए कैंपेन चला रही हैं। 'नो बॉडी शेमिंग' नाम से व्हाटिनी की खुद की वेबसाइट और ब्लॉग भी है।

क्या होता है PCOS?

पॉलीसिस्टिक ओवरी सिंड्रोम (PCOS) एक खतरनाक हार्मोनल डिसऑर्डर है, जो औरतों के रिप्रोडक्टिव सिस्टम को नुकसान पहुंचाता है और ओवरी को कमजोर बना देता है। ओवरी से निकलने वाले अंडे स्पर्म के साथ मिलकर भ्रूण बनाते हैं, लेकिन जब ओवरी से अंडे नहीं निकल रहे होते हैं, तो उस पर सिस्ट बन जाता है। इनके अंदर एक लिक्विड होता है। ये सिस्ट एंड्रोजेन नाम का एक हॉर्मोन पैदा करते हैं, जो कि पीसीओएस के लिए जिम्मेदार है।

आमतौर पर इससे एक औरत के शरीर में पुरुषों जैसे हार्मोन्स बढ़ जाते हैं। इसकी वजह से छाती, पीठ, चेहरे पर ज्यादा बाल उग आते हैं। बांझपन हो जाता है। एक्ने हो जाता है। बाल झड़ने लगते हैं। पीरियड्स पर ज्यादा ब्लीडिंग होना या पीरियड्स न होना, मूड स्विंग होना भी इसकी वजह से होते हैं। इंसुलिन लेवल बढ़ने से मोटापा भी बढ़ने लगता है। ये सिंड्रोम हर पांच में से एक लड़की को होता है, टीनएज लड़कियों में इसका असर ज्यादा देखा गया है।

यहां हम आपसे एक वीडियो शेयर कर रहे हैं, जिसे देखने के बाद आपको व्हाटिनी थॉर और उनके काम को और करीब से जानने का मौका मिलेगा को,

यदि आपके पास है कोई दिलचस्प कहानी या फिर कोई ऐसी कहानी जिसे दूसरों तक पहुंचना चाहिए, तो आप हमें लिख भेजें editor_hindi@yourstory.com पर। साथ ही सकारात्मक, दिलचस्प और प्रेरणात्मक कहानियों के लिए हमसे फेसबुक और ट्विटर पर भी जुड़ें...

Related Stories