स्मार्ट फोन को और स्मार्ट बनाता 'टूस्ट'

मोबाइल ऐप स्टोर की दुनिया में क्रांति लाया टूस्टफोन नेटवर्क के जरिए जीवन बनी सुविधाजनकटूस्ट के पास 750 मिलियन से ज्यादा लोग और बिजनेस डाटा देश के 5 प्रमुख शहरों में सक्रिय

0

आज के दौर में जिस तेजी से एक मोबाइल फोन से स्मार्ट फोन का रूप लिया यह अपने आप में बहुत चौंकाने वाला है। आज मोबाइल पर हर तरह की एप्लीकेशन मौजूद हैं। चाहे वो बिजनेस ऐप हो, लोकशन की ऐप हो या फिर सेफ्टी से जुड़ा कोई ऐप हो। सन 2014 के आंकड़ों के अनुसार ऐप्लीकेशन का मार्केट 2016 तक लगभग 4 गुणा तेजी से आगे बढ़ेगा और यह लगभग 3800 करोड़ का हो जाएगा। जिसमें पेड ऐप का हिस्सा 2065 करोड़ का होगा। इस कारण बड़ी शॉपिंग साइट्स जैसे फ्लिपकार्ट मोबाइल साइट्स की जगह अब ऐप के साथ ही बाजार में आ रही हैं इसलिए हम यह बात आसानी से कह सकते हैं कि भारत में ऐप मार्केट बहुत तेजी से बढ़ रहा है।

मोबाइल ऐप मार्केट में केवल बड़े प्लेयर्स ही नहीं बल्कि छोटी कंपनियां या वे कंपनियां जिन्होंने हाल ही में बाजार में कदम रखा है, वे भी नए-नए ऐप के साथ उतर रहीं हैं। इन सब में भी लोकल बिजनेस ऐप सबसे तेजी से उभर रहें हैं। भारत के 95 प्रतिशत स्मार्ट फोन यूजर्स अपने मोबाइल में लोकल बिजनेस से संबधित जानकारियों का ब्योरा लेते हैं। इसी ऐप मार्केट में हाल ही में टूस्ट ऐप ने कदम रखा है। इस ऐप की निर्माता कंपनी फोन वॉरियर है। यह ऐप आपको अपने नजदीक के बिजनेस नंबर जैसे रेस्तरां, नजदीकी डॉक्टर, प्लंबर आदि यानी रोजमर्रा की सुविधाओं के बारे में जानकारी प्रदान करेगा। इसके माध्यम से आप अपने दोस्तों द्वारा उन सेवाओं को दी गई रेटिंग भी देख सकते हैं और अंदाजा लगा सकते हैं कि कौन सी सेवाएं ज्यादा बेहतर हैं। यदि आप किसी डॉक्टर को तलाश कर रहे हैं तो आपको पता चल जाएगा कि आपके नेटवर्क में कौन सा आपका मित्र उनकी सेवाओं का प्रयोग कर रहा है। इसलिए यह हमारे लिए आसान हो जाता है कि हम किस की सेवाओं को चुनें।

बाकी ऐप जैसे फ्रिल्प में आपको लोकल बिजनेस सर्विसिज के बारे में पता तो चल जाता है लेकिन वहां आपको रैंडमली किसी का भी नंबर मुहैया कराया जाएगा लेकिन टूस्ट में आपको उन्हीं का नंबर दिया जाता है जिनका नंबर आपके कांटेक्ट लिस्ट के मैंबर्स यूज कर रहे होते हैं। टूस्ट आपके फोन नैटवर्क के आधार पर काम करता है। यह उन्हीं का मोबाइल नम्बर आपको देता है जो आपके फोन नेटवर्क में आपके मित्र यूज कर रहे होते हैं। इसलिए आप यहां पर ज्यादा भरोसा कर सकते हैं। इसके अलावा टूस्ट कॉल ब्लॉकिंग और कॉलर आईडी जैसी शानदार सुविधाएं भी देता है। क्योंकि टूस्ट केवल उन्हीं सेवाओं के बारे में जानकारी देता है जिनका प्रयोग आपके नेटवर्क में आने वाले लोग कर रहे हैं इसलिए यह विश्व में कहीं भी सफल हो सकता है।

अब कंपनी के कोफाउंडर रोहित राधव टूस्ट ऐप से रेवन्यू जनरेट करने के और तरीकों पर काम कर रहे हैं। साथ ही ऐप को और ज्यादा यूजर फ्रेंडली व इसमें और फीचर्स जोडऩे की तैयारी में हैं।

आज टूस्ट के पास 750 मिलियन से ज्यादा लोग और बिजनेस डाटा हैं। देश के 5 प्रमुख शहरों में ये सक्रिय हैं। कुछ समय पहले तक यह गूगल प्ले स्टोर में टॉप ट्रेंडिंग ऐप थी। इनके सिस्टम में 5 मिलयन बिजनेस हैं और 1.2 मिलयन से ज्यादा लोग इस ऐप को डाउनलोड कर चुके हैं।

यदि आपके पास है कोई दिलचस्प कहानी या फिर कोई ऐसी कहानी जिसे दूसरों तक पहुंचना चाहिए, तो आप हमें लिख भेजें editor_hindi@yourstory.com पर। साथ ही सकारात्मक, दिलचस्प और प्रेरणात्मक कहानियों के लिए हमसे फेसबुक और ट्विटर पर भी जुड़ें...