पानी के तेज बहाव मे बहती कार से दो लोगों को सुरक्षित निकालकर पेश की मिसाल 

0

उत्तराखंड में हो रही लगातार भारी वर्षा से गंगा समेत कई नदियां उफान पर है, जिसके चलते बाढ़ के पानी से किसानों की हजारों बीघा गन्ने व ज्वार की फसल भी डूब गई है।

कार से युवती को निकालते स्थानीय
कार से युवती को निकालते स्थानीय
तेज बारिश से नदी का पानी सड़क पर बहने लगा, उसी दौरान उस इलाके में सड़क पार कर रही कार उसकी चपेट में आ गई। कार पानी के तेज बहाव में बहने लगी।

 जैसे ही लड़की सीढ़ी के सहारे कार से निकलने लगी कि तभी सीढ़ी टूट गई और लड़की नदी के तेज बहाव में बहने लगी। इससे आनन फानन मे वहां मौजूद कुछ साहसी युवक नदी में कूद गए और उन्होंने नदी मे कूदकर तेज बहाव मे बह रही लड़की को सुरक्षित निकाल लिया। 

देश के पहाड़ी राज्यों उत्तराखंड व हिमाचल समेत कई इलाकों में बारिश और बाढ़ का कहर जारी है। अब तक सैकड़ों लोगों की इसमें जान भी जा चुकी है। बाढ़ की तीव्रता इतनी है कि राहत एवं बचावकर्मी भी लोगों तक नहीं पहुंच पा रहे हैं। कई जगह तो सड़क से गाड़ियां ही बह गईं। लेकिन उत्तराखंड में आम लोगों द्वारा बचाव का ऐसा मामला देखने को मिला कि मानवता भी गौरान्वित हो उठी। देहरादून के पास एक बहती हुई कार में बैठे यात्रियों को लोगों ने बचा लिया।

देहरादून के पास में ही एक क्षेत्र नालापानी है जहां एक दिन पहले शाम को तेज बारिश से उफान पर आई बरसाती नदी से सड़क पर आए पानी में एक कार बहने लगी। इससे उसमें सवार दो लोगों जिनमे एक युवक और एक युवती थी की जान पर बन आई। स्‍थानीय लोगों ने जान जोखिम में डालकर कार सवार दोनों लोगों को बचाकर मानवता की मिसाल पेश की। घटना के अनुसार शाम को राजधानी देहरादून के नालापानी क्षेत्र में तेज बारिश के कारण एक बरसाती नदी उफान पर आ गई। नदी का पानी सड़क पर बहने लगा। इस इलाके मे इसी दौरान सड़क पार कर रही कार उसकी चपेट में आ गई। कार पानी के तेज बहाव में बहने लगी।

यह दृश्य देखकर वहां मौजूद लोगों में हड़कंप मच गया। स्थानीय लोगों ने एक लकड़ी की सीढ़ी और बांस के डंडे की मदद से कार सवार इन दो लोगों को निकालने का प्रयास किया, लेकिन जैसे ही लड़की सीढ़ी के सहारे कार से निकलने लगी कि तभी सीढ़ी टूट गई और लड़की नदी के तेज बहाव में बहने लगी। इससे आनन फानन मे वहां मौजूद कुछ साहसी युवक नदी में कूद गए और उन्होंने नदी मे कूदकर तेज बहाव मे बह रही लड़की को सुरक्षित निकाल लिया। स्थानीय युवकों के इस साहसिक और सराहनीय कार्य की सभी ने तारीफ की। स्थानीय लोगों ने बताया कि दोनों यात्रियों को सुरक्षित बचा लिया गया है। किसी को कोई भारी क्षति नहीं पहुंची है।

उत्तराखंड में हो रही लगातार भारी वर्षा से गंगा समेत कई नदियां उफान पर है, जिसके चलते बाढ़ के पानी से किसानों की हजारों बीघा गन्ने व ज्वार की फसल भी डूब गई है। साथ ही आवागमन का मार्ग भी अवरुद्ध हो चुका है। चमोली जिले में बद्रीनाथ धाम की यात्रा भारी बारिश की वजह से पिछले कुछ दिनों से बाधित है। यात्रा के लिए जाने वाले मार्ग पर पहाड़ टूटने का खतरा है। लामबगड़ में भूस्खलन के चलते गाड़ियों की आवाजाही पूरी तरह से बंद है जिसके चलते यात्री पैदल ही अपना सफर पूरा कर रहे हैं।

यह भी पढ़ें: बाढ़ प्रभावित इलाकों में मदद करने के लिए आगे आए गूगल और फेसबुक

यदि आपके पास है कोई दिलचस्प कहानी या फिर कोई ऐसी कहानी जिसे दूसरों तक पहुंचना चाहिए, तो आप हमें लिख भेजें editor_hindi@yourstory.com पर। साथ ही सकारात्मक, दिलचस्प और प्रेरणात्मक कहानियों के लिए हमसे फेसबुक और ट्विटर पर भी जुड़ें...