आखिर क्यों करोड़ों की सैलरी पाने वाली पूर्व एसबीआई चीफ को सोना पड़ा जमीन पर!

करोड़ों रुपये का वेतन पाने वाली महिला फर्श पर कैसे सो सकती हैं...

0

 सोशल मीडिया पर इसे लेकर तमाम तरह के कयास लगाए गए, लेकिन हम बता रहे हैं कि इस तस्वीर के पीछे की सच्चाई क्या है। दरअसल अरुंधति मुंबई से ब्रिटिश एयरवेज की फ्लाइट- BA198 से लंदन जा रही थीं...

फर्श पर सोने की तस्वीर
फर्श पर सोने की तस्वीर
एक यात्री ने उनकी तस्वीर खींचकर सोशल मीडिया पर डाल दी। जिसे देखकर लोग हैरत में पड़ गए कि करोड़ों रुपये का वेतन पाने वाली महिला फर्श पर कैसे सो सकती हैं।

भट्टाचार्य ने बताया कि विमान में धुएं की सूचना और गंध आने पर डायवर्ट किया गया था। आपकी जानकारी के लिए बता दें कि अरुंधति भट्टाचार्य का नाम फॉर्च्यून की लिस्ट में सबसे ताकतवर महिला के रूप में शामिल हो चुका है।

इन दिनों सोशल मीडिया पर एक तस्वीर वायरल हो रही है जिसमें देश के सबसे बड़े बैंक स्टेट बैंक ऑफ इंडिया की पूर्व प्रमुख अरुंधति भट्टाचार्य फर्श पर सोते हुए दिख रही हैं। सोशल मीडिया पर इसे लेकर तमाम तरह के कयास लगाए गए, लेकिन हम बता रहे हैं कि इस तस्वीर के पीछे की सच्चाई क्या है। दरअसल अरुंधति मुंबई से ब्रिटिश एयरवेज की फ्लाइट- BA198 से लंदन जा रही थीं। लेकिन रास्ते में ही कुछ तकनीकी खराबियों की वजह से विमान को रास्ते में ही उतारना पड़ गया। विमान को अजरबैजान देश के बाकू एयरपोर्ट पर उतारना पड़ा। यात्रियों ने बताया कि विमान में धुआं निकलने लगा था जिसकी वजह से उसे उतारना पड़ गया।

विमान के एयरपोर्ट पर उतरने के बाद सभी यात्रियों को वहीं रोक दिया गया और ब्रिटिश एयरवेज की ओर से कहा गया कि विमान को ठीक करने का प्रयास किया जा रहा है। लेकिन काफी कोशिश के बाद भी तकनीकी खराबी दूर नहीं हुई। इसके बाद पता चला कि दूसरा विमान आने में काफी देर हो सकती है। इसलिए सभी यात्री वहीं लाउंज में ही सो गए। स्टेट बैंक की पूर्व मुखिया अरुंधति भी वहीं जमीन पर सो गईं। वहां पर मौजूद एक यात्री ने उनकी तस्वीर खींचकर सोशल मीडिया पर डाल दी। जिसे देखकर लोग हैरत में पड़ गए कि करोड़ों रुपये का वेतन पाने वाली महिला फर्श पर कैसे सो सकती हैं।

लेकिन लोग ये भूल गए कि आखिर वे भी एक इंसान हैं और वैसे भी नींद बिस्तर की मोहताज थोड़े न होती है। विमान के आने में देरी को लेकर ब्रिटिश एयरवेज ने माफी जरूर मांगी लेकिन यात्रियों ने सुविधा न देने का आरोप लगाया। उन्होंने कहा कि न तो उन्हें नाश्ता सही से दिया गया और न ही दवाई जैसी जरूरतों के लिए बाहर निकलने दिया गया। यात्रियों ने बताया कि एयरवेज ने उनकी उड़ान की जानकारी तो दी लेकिन यह नहीं बताया कि उनका सामान कब भेजा जाएगा।

एक अंग्रेजी अखबार से बात करते हुए अरुंधति ने बताया कि बाकू के समय के अनुसार रात करीब 9 बजे विमान की लैंडिंग हुई। उन्हें रात एयरपोर्ट के लाउंज में कार्पेट पर सोकर बितानी पड़ी। हालांकि बताया जा रहा है कि इंजीनियरों ने विमान में आई खराबी को ठीक कर दिया था लेकिन फ्लाइट नहीं उड़ सकी क्योंकि क्रू की शिफ्ट खत्म हो चुकी थी। भट्टाचार्य ने बताया कि विमान में धुएं की सूचना और गंध आने पर डायवर्ट किया गया था। आपकी जानकारी के लिए बता दें कि अरुंधति भट्टाचार्य का नाम फॉर्च्यून की लिस्ट में सबसे ताकतवर महिला के रूप में शामिल हो चुका है।

यह भी पढ़ें: सऊदी में मां के कार चलाने पर क्या सोचते हैं बच्चे, बताया इस महिला पत्रकार ने

यदि आपके पास है कोई दिलचस्प कहानी या फिर कोई ऐसी कहानी जिसे दूसरों तक पहुंचना चाहिए, तो आप हमें लिख भेजें editor_hindi@yourstory.com पर। साथ ही सकारात्मक, दिलचस्प और प्रेरणात्मक कहानियों के लिए हमसे फेसबुक और ट्विटर पर भी जुड़ें...

Related Stories

Stories by yourstory हिन्दी