अलीबाबा ने रचा इतिहास, 24 घंटे में 30 हजार करोड़ की सेल 

1

अलीबाबा ग्रुप होल्डिंग लि. ने अपने एक स्टेटमेंट में कहा कि शॉपिंग फेस्टिवल के पहले 2 घंटों में ही करीब 11.9 अरब डॉलर मूल्य के सामानों की बिक्री हुई।

अलीबाबा की सेल का नजारा
अलीबाबा की सेल का नजारा
अलीबाबा क्लाउड (अलीबाबा का ऑनलाइन भुगतान प्लैटफ़ॉर्म) पर शानदार शॉपिंग फेस्ट के शुरुआती घंटे में करीब 3,25,000 ऑडर्स प्रति सेकंड खरीदारी की जा रही थी। 

ऐसा पहली बार हो रहा था कि अलीबाबा की सेल वीकेंड में आयोजित की गई। कंपनी ने कहा कि हमें जैसा रिएक्शन मिला वह मोबाइल युग में उपभोक्ताओं की जीवनशैली में हुए बदलावों को दर्शाता है। आधी रात तक वेबसाइट पर खरीददारी जारी थी।

चीन की ई-कॉमर्स रीटेल कंपनी अलीबाबा ने अपनी सालाना सेल के आठवें संस्करण में सिर्फ 24 घंटे में ही 25 बिलियन डॉलर यानी तीस हजार करोड़ रुपये की बिक्री की। 11 नवंबर की सिंगल डे सेल में लगभग सारी पेमेंट 'अलीपे' के माध्यम से की गई। चीन में कैश ऑन डिलिवरी की सुविधा फिलहाल नहीं है। अलीबाबा ग्रुप होल्डिंग लि. ने अपने एक स्टेटमेंट में कहा कि शॉपिंग फेस्टिवल के पहले 2 घंटों में ही करीब 11.9 अरब डॉलर मूल्य के सामानों की बिक्री हुई।

अलीबाबा ग्रुप के सीईओ डेनियल जांग ने कहा कि यह केवल सेल नहीं है, बल्कि इससे ये साबित होता है कि चीन में सामानों का उपभोग कितना बढ़ गया है। उन्होंने कहा, 'यह दर्शाता है कि व्यापारियों और ग्राहकों ने ऑफलाइन और ऑनलाइन रिटेल के एकीकरण को पूरी तरह से स्वीकार लिया है।' 24 घंटों के इस बहुप्रतीक्षित सालाना शॉपिंग फेस्टिवल के 9वें संस्करण का आगाज शनिवार की आधी रात को हुआ था। यह फेस्टिवल दुनिया का सबसे बड़ा ऑनलाइन फेस्टिवल है।

डेनियल ने ग्राहकों की उत्साहपूर्ण प्रतिक्रिया की सराहना करते हुए कहा, 'वेबसाइट पर भारी ट्रैफिक के बावजूद हमारा सिस्टम आराम से काम कर रहा और ग्राहकों को किसी भी तरह की दिक्कत नहीं हुई।' उन्होंने बताया कि अलीबाबा क्लाउड (अलीबाबा का ऑनलाइन भुगतान प्लैटफ़ॉर्म) पर शानदार शॉपिंग फेस्ट के शुरुआती घंटे में करीब 3,25,000 ऑडर्स प्रति सेकंड खरीदारी की जा रही थी। पिछले साल के मुकाबले इस साल अलीबाबा ने 39 फीसदी ज्यादा बिक्री की। 11/11 ग्लोबल आउटसोर्सिंग फेस्टिवल में जापान, ऑस्ट्रेलिया, जर्मनी समेत 225 देशों के सेलर शामिल हुए थे।

ऐसा पहली बार हो रहा था कि अलीबाबा की सेल वीकेंड में आयोजित की गई। उन्होंने कहा कि हमें जैसा रिएक्शन मिला वह मोबाइल युग में उपभोक्ताओं की जीवनशैली में हुए बदलावों को दर्शाता है। आधी रात तक वेबसाइट पर खरीददारी जारी थी। इस साल 11.11 की सेल में ऑनलाइन और ऑफलाइन दोनों तरह की शॉपिंग मौजूद थी। डेनियल ने मीडिया से बात करते हुए बताया कि अलीबाबा के न्यू रिटेल मॉडल के जरिए रिटेल व्यापारी भी शॉपिंग कर रहे थे। चीन और बाकी दुनिया के लोगों का झुकाव ऑनलाइन शॉपिंग की ओर बढ़ा है। लगभग 40 प्रतिशत सेल इंटरनेशनल ब्रैंड्स से हुई।

फेस्ट के पहले घंटे में करीब 60 प्रमुख अंतरराष्ट्रीय ब्रैंड्स की 1.5 करोड़ डॉलर से अधिक मूल्य की बिक्री हुई, जिसमें ऐपल, नाइक, सैमसंग, जारा और गैप प्रमुख हैं। इस साल इस फेस्ट में 1,40,000 से अधिक ब्रैंड्स ने भाग लिया, जिनके 1.5 करोड़ से अधिक प्रॉडक्ट्स सेल के लिए लिस्टेड थे। इस फेस्टिवल की शुरुआत साल 2009 में हुई थी।

कंपनी ने कहा कि चीन के लोग सामान खरीदने के लिए अब बाहर नहीं जाना चाहते। उन्हें बाहर कहीं जाने की जरूरत भी नहीं है क्योंकि उन्हें सारा सामान देश के भीतर ही ऑनलाइन रूप से मिल जाता है। कंपनी ने कहा, 'हम सक्रिय रूप से चीनी ब्रैंड्स को बढ़ावा दे रहे हैं। हमने विदेशों में भी सकारात्मक प्रतिक्रिया देखी है। हमने अंतरराष्ट्रीय उपभोक्ताओं की ओर से सकारात्मक प्रतिक्रिया मिली है। अलीबाबा ने इस सेल में धमाकेदार छूट दी थी। इस सेल में 80 से ज्यादा ब्रैंड शामिल हुए थे। इनमें नाइकी, सैमसंग, शाओमी, यूनिक्लो जैसे ब्रैंड शामिल थे।

यह भी पढ़ें: देश के बच्चों का भविष्य सुधारने के लिए भारत का ये इंजीनियर छोड़ आया विदेश में आईटी की नौकरी

यदि आपके पास है कोई दिलचस्प कहानी या फिर कोई ऐसी कहानी जिसे दूसरों तक पहुंचना चाहिए, तो आप हमें लिख भेजें editor_hindi@yourstory.com पर। साथ ही सकारात्मक, दिलचस्प और प्रेरणात्मक कहानियों के लिए हमसे फेसबुक और ट्विटर पर भी जुड़ें...