टाइम पर पहुंचने के चक्कर में नहीं किया नाश्ता तो ये पेट्रोल पंप देगा फ्री में खाना

0

यह पहल इंडियन ऑयल कॉर्पोरेशन के साथ मिलकर शुरू की जा रही है। अभी वेज और नॉन वेज दोनों तरह का ब्रेकफास्ट और स्नैक्स बिलकुल फ्री दिया जाएगा।

सांकेतिक तस्वीर
सांकेतिक तस्वीर
यह खाना सिर्फ 5 मिनट में पैक कर दिया जाएगा। यह प्रॉजेक्ट देश देश में अपनी तरह का पहला और अनोखा प्रोजेक्ट है। इससे समय बचाने के लिए अपना खाना छोड़ देने वालों को अपने सेहत का ख्याल रखने में मदद मिलेगी।

 खान-पान की यह सेवा चौबीसों घंटे चालू रहेगी। यहां हर समय शाकाहारी और मांसाहारी, दोनों तरह का नाश्ता और खाना उप्लब्ध रहेगा। 

इस सप्ताह से बेंगलुरु के इंदिरा नगर औऱ उसके आस-पास रहने वाले लोगों के लिए एक पेट्रोल पंप ने खाने की भी व्यवस्था की है। इस मेट्रोसिटी में भागदौड़ भरी लाइफ और ट्रैफिक और की वजह से भूखे रह जाने वाले लोगों के लिए यह सुविधा शुरू की गई है। ऐसा कई बार होता है कि टाइम पर पहुंचने के लिए लोग अपना ब्रेकफास्ट तक छोड़ कर देते हैं, लेकिन बेंगलुरु का यह पेट्रोल पंप अब ऐसे लोगों की सेहत का ख्याल रखेगा। यह पहल इंडियन ऑयल कॉर्पोरेशन के साथ मिलक शुरू की जा रही है। अभी वेज और नॉन वेज दोनों तरह का ब्रेकफास्ट और स्नैक्स बिलकुल फ्री दिया जाएगा।

लगभग पांच दशक पुराने इस पेट्रोल पंप के मालिक प्रकाश राव ने बंगलौर मिरर को बाया कि लोगों के पास कितना भी कम समय हो लेकिन उन्हें पेट्रोल या डीजल भराने के लिए पेट्रोल पंप पर आना ही पड़ता है। इसीलिए उन्होंने ग्राहकों की गाड़ी में तेल भरने के साथ ही उनका पेट भी भरने की योजना शूरू की है। उन्होंने बताया कि यह खाना सिर्फ 5 मिनट में पैक कर दिया जाएगा। यह प्रॉजेक्ट देश देश में अपनी तरह का पहला और अनोखा प्रोजेक्ट है। इससे समय बचाने के लिए अपना खाना छोड़ देने वालों को अपने सेहत का ख्याल रखने में मदद मिलेगी।

प्रकाश राव ने बताया कि खान-पान की यह सेवा चौबीसों घंटे चालू रहेगी। यहां हर समय शाकाहारी और मांसाहारी, दोनों तरह का नाश्ता और खाना उप्लब्ध रहेगा। हालांकि मुफ्त में खाना देने से प्रकाश राव और उनकी टीम को काफी नुकसान उठाना पड़ेगा लेकिन उन्हें इस नुकसान की चिंता नहीं है। प्रकाश का कहना है कि उन्हें नुकसान की चिंता नहीं है, क्योंकि उनका मकसद पेट्रोल पंप पर खाना उपलब्ध कराने के इस कॉन्सेप्ट को प्रचलित करना है। इस नुकसान का कुछ हिस्सा इंडियन ऑयल देगा। पायलट प्रॉजेक्ट के तौर पर शुरुआत में लोगों को खाना मुफ्त में दिया जाएगा। बाद में इसे उचित कीमत पर दिया जाएगा।

प्रकाश ने बताया, 'आज के दौर में किसी के पास खाने का टाइम भले न हो, गाड़ी में तेल भरवाने के लिए उसे पेट्रोल पंप पर रुकना ही पड़ता है। हम इन्हीं चंद मिनटों का इस्तेमाल उनका पेट भरने के लिए करेंगे। 2 से 5 मिनट के अंदर ग्राहक को उसका पसंदीदा खाना पैक कर दे दिया जाएगा।' खाना कहीं और एक अलग किचन में पकाया जाएगा जिसे यहां लाकर रख दिया जाएगा और गर्म कर लोगों को दिया जाएगा। बेकरी प्रॉडक्ट्स के लिए इस्कॉन के साथ हाथ मिलाया है। यहां अनुभवी शेफ खाना बनाएंगे। जो लोग तेल नहीं भी ले रहे हैं वे भी ये खाना खरीद सकते हैं। पेट्रोल पंप पर ओपन स्पेस को ध्यान में रखते हुए आइओसी ने खुशी-खुशी मुफ्त खाने की इस योजना को मान लिया। प्रकाश राव शहर के 100 अन्य आईओसी पेट्रोल पंपों पर इस योजना को लागू करना चाहते हैं।

यह भी पढ़ें: महिलाएं गाय का मास्क पहनकर क्यों निकल रही हैं घरों से बाहर 

यदि आपके पास है कोई दिलचस्प कहानी या फिर कोई ऐसी कहानी जिसे दूसरों तक पहुंचना चाहिए, तो आप हमें लिख भेजें editor_hindi@yourstory.com पर। साथ ही सकारात्मक, दिलचस्प और प्रेरणात्मक कहानियों के लिए हमसे फेसबुक और ट्विटर पर भी जुड़ें...