आयकर विभाग ने जनधन खातों में 1.64 करोड़ रुपए की अघोषित आय पकड़ी

0

आयकर विभाग को जनधन खातों में 1.64 करोड़ रपये की अघोषित आय और अन्य ‘विसंगतियों’ का पता लगा है।  गौरतलब है कि नोटबंदी के बाद जनधन खातों में संदिग्ध तौर पर अचानक नकदी जमा कराए जाने की खबरें आ रही थीं जिसके बाद विभाग ने देशभर में ऐसे खातों की गहन जांच पड़ताल की है।  विभाग को कोलकाता, मिदनापुर, आरा :बिहार:, कोच्चि और वाराणसी में ऐसे बैंक खातों में नकदी जमा किये जाने की संदिग्ध गतिविधि का पता चला है। अधिकारियों के अनुसार करीब आधा दर्जन शहरों के जनधन खातों पर विभाग की नजर है।आयकर विभाग के लिए नीति बनाने वाले केंद्रीय प्रत्यक्ष कर बोर्ड ने एक बयान में बताया, ‘‘बिहार में ऐसे एक खाते से 40 लाख रपये जब्त किए गए हैं।’’ जबकि ऐसे खातों में जमा करने की सीमा 50,000 रपये है। विभाग ने एक वक्तव्य में कहा है, ‘‘करीब 1.64 करोड़ रपये की अघोषित राशि जनधन खातों में जमा कराई गई। यह उन लोगों के खाता में आई है जो कि कर योग्य सीमा से कम आय की वजह से आयकर रिटर्न जमा नहीं करते हैं। जनधन खातों में यह राशि कोलकाता, मिदनापुर, आरा :बिहार:, कोच्चि और वाराणसी’’ में पकड़ी गई।’’ सीबीडीटी ने कहा है कि पकड़ी गई अघोषित आय पर आयकर कानून 1961 के मुताबिक कर लगाया जायेगा और जांच के बाद दूसरे कदम भी उठाये जायेंगे।  23 नवंबर तक के आंकड़ें के अनुसार आठ नवंबर के बाद जनधन खातों में 21,000 करोड़ रपये की अतिरिक्त राशि जमा कराई गई है।

यदि आपके पास है कोई दिलचस्प कहानी या फिर कोई ऐसी कहानी जिसे दूसरों तक पहुंचना चाहिए, तो आप हमें लिख भेजें editor_hindi@yourstory.com पर। साथ ही सकारात्मक, दिलचस्प और प्रेरणात्मक कहानियों के लिए हमसे फेसबुक और ट्विटर पर भी जुड़ें...