स्वान सूइट्स, अतिथि देवो भव: का साकार रूप

सफलतापूर्वक संचालित कर रही है 125 कमरों का सुइट काॅलसेंटर खोलकर रखा था व्यवसाय की दुनिया में कदमअत्याधुनिक सुविधाओं से लैस हैं स्वान सूइट्स के अपार्टमेंटभविष्य में हैदराबाद के बाहर भी करना चाहती हैं विस्तार

0

हैदराबाद की रंजना नाइक ने अपने पति के सहयोग के लिये एक काॅल सेंटर खोलने के साथ ही व्यवसाय की दुनिया में कदम रखा और आज वे सर्विस अपार्टमेंट की दुनिया में एक अग्रणी कंपनी स्वान सूइट्स का सफलतापूर्वक संचालन कर रही हैं। काॅल सेंटर से हाॅस्पिटैलिटी (अतिथि सत्कार) के क्षेत्र में आने का उनका सफर साबित करता है कि महिलाएं अगर अपनी क्षमता का कुछ अंश भी दुनिया के समाने लाएं तो वे क्या कुछ नहीं कर सकती हैं।

रंजना नाइक
रंजना नाइक

पढ़ाई के दिनों में ही रंजना अपना खुद का व्यवसाय करना चाहती थीं लेकिन स्नातक के बाद पिता की नसीहत पर उन्होंने ‘एपेक्स इंस्टीट्यूट आॅफ प्रोफेशनल ट्रेनिंग’ में मार्केटिंग की नौकरी शुरू की। काम के प्रति निष्ठा का पुरस्कार रंजना को जल्द ही मिला और उन्हें ‘सेंटर हेड’ बना दिया गया। इसी नौकरी के दौरान उनकी मुलाकात नितिन के साथ हुई जो आने वाले दिनों में उनके जीवनसाथी बने।

नितिन एक प्राइवेट बैंक में क्रेडिट कार्ड डिपार्टमेंट में नौकरी करते थे। उन दिनों टेलीमार्केटिंग भारत के बाजार में उभरता हुआ व्यवसाय था और नितिन बैंगलोर जाकर एक डीलर से टेलीमार्केटिंग के गुर सीखकर वापस आए। आने के बाद उन्होंने रंजना को एक काॅलसेंटर खोलने का सुझाव दिया और दोनों ने मिलकर एक काॅलसेंटर खोल लिया।

‘‘हमनें पट्टागंजा में एक कमरा किराये पर लिया और ‘स्वान फिनमार्ट’ के नाम से एक काॅलसेंटर की शुरूआत की। प्रारंभ में हमारा लक्ष्य नितिन के लिये क्रेडिट कार्ड के नये ग्राहकों का डाटा तैयार करना था,’’ रंजना बताती हैं।

इसी काम के क्रम में रंजना की मुलाकात शापर्स स्टाॅप और लाइफस्टाइल जैसे रिटेल चेन आउटलेट वालों से हुई और उन्होंने उनके कस्टमर डाटा को डिजिटाइज करने की ठानी। इस काम से उन्हें दो फायदे थे। पहला तो उन्हें इस काम के पैसे मिले और दूसरा उन्हें टेलीमार्केटिंग के लिये संभावित ग्राहकों का डाटा मिल गया।

‘‘मैंने डाटा एंट्री आॅपरेटर को सारा डाटा सौंप दिया और टेलीमार्केटिंग टीम संभावित ग्राहकों को काॅल करने के काम में लग गई। इसके अलावा मैंने बैंक से क्रेडिट कार्ड ले चुके ग्राहकों का डाटा ले लिया। अब हमारा काम और भी आसान हो गया था और उस वर्ष हमने स्टैंडर्ड चार्टड डीएसए नेटवर्क में सबसे अधिक ग्राहक बनाए थे।’’

जल्द ही स्वान फिनमार्ट का व्यवसाय अच्छा चलने लगा और उनके यहां 50 से अधिक का स्टाफ काम करने लगा। लेकिन उसी दौरान बैंकों ने अपनी नीति बदली और रंजना ने इस काम को बंद करने की ठानी।

उसी दौरान उनकी मुलाकात एक पुराने मित्र से हुई जो बैंगलोर में सर्विस अपार्टमेंट का व्यवसाय करता था। जल्द ही दोनों ने साझेदारी में हैदराबाद में सर्विस अपार्टमेंट का काम शुरू कर दिया। बैंगलोर की टीम ग्राहकों को लाती और रंजना हैदराबाद में ग्राउंड आॅपरेशन संभालती।

‘‘पहले-पहल हमने स्विमिंग पूल और अन्य सुविधाओं से सुसज्जित काॅम्पलेक्स को लेकर तैयार किया और प्रारंभ से ही हमारे करीब 80 प्रतिशत कमरे भरे रहे। कुछ महीनों बाद अचानक ही हमारा व्यापार होने लगा और साझेदार हमारा साथ छोड़कर अलग हो गए। इसके बाद मैंने इस काम को अपने दम पर करने की ठानी और बाजार का सर्वे करना शुरू किया।’’

कुछ दिनों बाद रंजना ने पाया कि रियल एस्टेट वाले खाली अपार्टमेंट को लेकर गेस्ट हाउस की तरह इस्तेमाल कर रहे हैं और वे प्रतिदिन के अलावा प्रतिमाह और प्रतिवर्ष के आधार पर उन्हें ग्राहकों को उपलब्ध करवा रहे थे।

इसके बाद रंजना ने ईवेंट मैनेजमेंट कंपनी वालों से संपर्क किया और उन लोगों की सहायता से वे हैदराबाद में कुछ दिनों के लिये आने वाले लोगों को अपने अपार्टमेंट किराये पर देने लगीं। कुछ ही दिनों में रंजना की मेहनत रंग लाई और उन्हें दो बड़ीं कंपनियों के काॅरपोरेट करार करने का मौका मिला जिन्होंने इनके काम को एक नई दिशा दी।

‘‘दो काॅरपोरेट करार होने के बाद हमारे करीब 85 प्रतिशत कमरे भरे रहने लगे और इससे हमारे व्यापार को एक नया आयाम मिला। 2008 के अंत तक हमारे पास देने के लिये 28 तैयार कमरे थे जो अधिकतर भरे रहते थे। इसके बाद मैंने काम को आगे बढ़ाने की सोची।’’

फरवरी 2009 में नितिन भी अपनी नौकरी छोड़कर स्वाइन सूइट्स से जुड़ गए और रंजना काम को बढ़ाने की दिशा में और लगन से लग गईं। वर्तमान में 24 कमरों से शुरू हुआ स्वान सूइट्स आज 125 कमरों का हो गया है जिसमें 100 से अधिक का स्टाफ काम कर रहा है।

स्वान सूइट्स का हर आवासीय सुइट विशाल बैठक और डाइनिंग क्षेत्र, सुंदर बेडरूम और एक पूरी तरह सुसज्जित रसोईघर से सुसज्जित 2000 वर्गफुट से अधिक का अपार्टमेंट है। इसके अलावा टीवी, एयरकंडीशंड रूम जैसी बुनियादी सुविधाओं के अलावा वाई-फाई ब्रॉडबैंड इंटरनेट और व्यक्तिगत टेलीफोन की सेवा भी हर सुइट में उपलब्ध है। साथ ही व्यस्कों के लिए एक जिम, स्विमिंग पूल, टेबल टेनिस और योग कक्ष के साथ ही बच्चों के लिए खेल के मैदान की सुविधा भी इन्हें औरों से काफी आगे खड़ा करती है।

Worked with Media barons like TEHELKA, TIMES NOW & NDTV. Presently working as freelance writer, translator, voice over artist. Writing is my passion.

Stories by Nishant Goel