अगस्त फेस्ट बना रहा है हैदराबाद में स्टार्टअप का माहौल

हैदराबाद की स्टार्टअप कांफ्रेंस ‘अगस्त फेस्ट’ 12000 प्रतिभागी

0

दो दिन की अंतरराष्ट्रीय स्टार्टअप कांफ्रेंस तीन सितंबर से यहां शुरू होगी। इसमें करीब 12,000 प्रतिभागियों के हिस्सा लेने का अनुमान है जो यहां उभरती कंपनियों से संबंधित मुद्दों पर एक कार्यशाला में भाग लेंगे।

‘अगस्त फेस्ट’ नामक इस सम्मेलन का तेलंगाना सरकार ने समर्थन किया है। अगस्त फेस्ट के संस्थापक किरण मावेरिक ने बताया कि इसका आयोजन सरकार के सहयोग से ईट, स्लीप, ड्रिंक (ईएसडी) स्टार्टअप ने किया है। इसके अलावा टी-हब और इंडियन स्कूल ऑफ बिजनेस भी इस आयोजन में सहयोगी हैं।

टी हब हैदराबाद शुरू हुए स्टार्टअप कल्चर को व्यापक स्तर पर प्रोत्साहित करने के लिए एशिया का सबसे बड़ा स्टार्टअप सम्मेलन आगस्ट फेस्ट गच्चीबावली स्थित जेआरसी कंवेंशन सेंटर में आयोजित किया जाएगा। हैदराबाद में इस सम्मेलन के चौथे संस्करण में रंजनीकांत की पुत्री सौंदर्या, बाहुबली के निर्माता शोभु यार्लागड्डा, निवेशक कर्मन चान सहित स्पोटिफी, मीटअप तथा प्रो कबड्डी के चारू शार्म वक्ता के रूप में विशेष रूप से भाग लेंगे। यह आयोजन टी हब, ईट स्लिप ड्रिंक तथा आईएसबी के संयुक्त तत्वावधान में आयोजित किया जा रहा है। इससे न केवल टी हब के स्टार्टअप बल्कि बाहर के स्टार्टअप भी लाभान्वित होंगे।

तेलंगाना सरकार के आईटी सचिव जयेश रंजन, निवेशक रमणा गोगुला तथा ईट स्लिप ड्रिंक के संस्थापक किरण मावेरिक ने सम्मेलन के आयोजन की जानकारी दी। जयेश रंजन ने कहा कि हैदराबाद में जिस तेज़ी से स्टार्टअप संस्कृति बढ़ी है, उससे लगता है कि 2020 तक हैदराबाद बैंगलूर से आगे बढ़ जाएगा। उन्होंने बताया कि 2013 में जब इस सम्मेलन का प्रारंभ किया गया था, स्टार्टअप के बारे में बहुत कम लोग जानते थे, लेकिन आज शहर में स्टार्टअप का इकोसिस्टम अच्छी तरह से विकसित हो गया है।

जयेश रंजन ने बताया कि सरकार का हब केवल टी हब नहीं है, बल्कि जहाँ भी स्टार्टअप का विकास हो रहा है, सरकार उनका सहयोग करेगा। अगस्त फेस्ट में 107 वक्ता और 1200 लोग भाग लेंगे। दो दिवसीय सम्मेलन में उद्योमियों, नवोंन्मेषक तथा निवेशकों को एक संयुक्त मंच पर नेटवर्क के विकास में सलयोग मिलेगा। उन्होंने बताया कि जारी वर्ष में 125 स्टार्टअप द्वारा 20 कार्यशालाओं का आयोजन किया जाएगा। -( पीटीआी से सहयोग के साथ)

यदि आपके पास है कोई दिलचस्प कहानी या फिर कोई ऐसी कहानी जिसे दूसरों तक पहुंचना चाहिए, तो आप हमें लिख भेजें editor_hindi@yourstory.com पर। साथ ही सकारात्मक, दिलचस्प और प्रेरणात्मक कहानियों के लिए हमसे फेसबुक और ट्विटर पर भी जुड़ें...