यात्रीगण कृपया ध्यान दें: अब WhatsApp पर भी चेक कर सकते हैं अपना PNR स्टेटस

0

भारतीय रेलवे में हाल ही में एक ऑनलाइन ट्रैवेल वेबसाइट 'MakeMyTrip' के साथ साझेदारी की है। इस पार्टनरशिप का मकसद यात्रियों को उनके पीएनआर स्टेटस, लाइव ट्रेन स्टेटस और अन्य जानकारियां उनके स्मार्टफोन पर उपलब्ध कराना है।

सांकेतिक तस्वीर
सांकेतिक तस्वीर
सबसे पहले तो आपका वॉट्सऐप अप टू डेट रहना चाहिए। दूसरा आपके पास अच्छी स्पीड का इंटरनेट होना चाहिए। इसके अलावा आपका ब्लू टिक भी ऑन होना चाहिए। 

कृपया ध्यान दें! रेल में सफर करने वाले सभी लोग जो अपना पीएनआर नंबर जांचने के लिए किसी दूसरे ऐप या वेबसाइट का सहारा लेते थे, वे अब अपने वॉट्सऐप पर ही इसकी सुविधा हासिल कर सकते हैं। यह घोषणा रेलवे द्वारा की गई है। भारतीय रेलवे में हाल ही में एक ऑनलाइन ट्रैवेल वेबसाइट 'MakeMyTrip' के साथ साझेदारी की है। इस पार्टनरशिप का मकसद यात्रियों को उनके पीएनआर स्टेटस, लाइव ट्रेन स्टेटस और अन्य जानकारियां उनके स्मार्टफोन पर उपलब्ध कराना है।

दरअसल रेल यात्रियों के लिए अभी तक ट्रेन का लाइव स्टेटस या 10 अंकों वाला पीएनआर नंबर चेक करना असुविधाओं से भरा होता था। इसके लिए ट्रेन यात्रियों को या तो रेलवे के रिजर्वेशन इन्क्वायरी नंबर '139' पर कॉल करना पड़ता था या IRCTC की वेबसाइट, कई दूसरे ऐप्स का सहारा लेना पड़ता था। यात्रियों की इस असुविधा को ध्यान में रखते हुए रेलवे ने यह कदम उठाया है। आइए हम आपको बताते हैं कि वॉट्सऐप पर पीएनआर चेक करने वाली इस सुविधा का लाभ कैसे उठा सकते हैं:

1. सबसे पहले आपको अपने फोन की कॉन्टैक्ट लिस्ट में मेकमायट्रिप का ये नंबर ‘7349389104’ सेव करना होगा।

2. नंबर सेव होने के बाद अपने फोन में वॉट्सऐप खोलें और कॉन्टेक्ट लिस्ट को रिफ्रेश करें, यह नंबर अब आपके वॉट्सऐप में दिखने लगेगा

3. सेव किए गए कॉन्टेक्ट को सर्च करें और चैट विंडो को ओपन करने के लिए इस पर टैप करें

4. लाइव ट्रेन स्टेटस को चेक करने के लिए अपना ट्रेन नंबर भेजें और अपना पीएनआर स्टैटस चेक करने के लिए अपना पीएनआर नंबर टाइप करें

5. इतना करने पर मेकमायट्रिप आपको ट्रेन का रियल टाइम स्टेटस या आपके पीएनआर का बुकिंग स्टेटस भेजे देगा

लेकिन अगर किसी कारणों से आप इस सुविधा को पाने में असमर्थ हैं तो इन बातों पर ध्यान दीजिएगा। सबसे पहले तो आपका वॉट्सऐप अप टू डेट रहना चाहिए। दूसरा आपके पास अच्छी स्पीड का इंटरनेट होना चाहिए। इसके अलावा आपका ब्लू टिक भी ऑन होना चाहिए। अगर ये सब आपके पास नहीं है तो फिर आपको यह सुविधा नहीं मिलेगी।

यह भी पढ़ें: 15 साल की इस लड़की 500 बेघर लोगों के लिए बनाया रेनवॉटर हार्वेस्टिंग सिस्टम

यदि आपके पास है कोई दिलचस्प कहानी या फिर कोई ऐसी कहानी जिसे दूसरों तक पहुंचना चाहिए, तो आप हमें लिख भेजें editor_hindi@yourstory.com पर। साथ ही सकारात्मक, दिलचस्प और प्रेरणात्मक कहानियों के लिए हमसे फेसबुक और ट्विटर पर भी जुड़ें...