हर महीने लाखों रुपये कमाता है यह भिखारी, दो मंजिला मकान का मालिक भी

0

एक तरफ जहां लोग भीख मांगने वाले लोगों की हालत पर तरस खाते हैं वहीं इसे देखने वाले लोगों को इससे जलन होने लगती है। अपने इस प्रॉफिटेबल करियर की बदौलत इस व्यक्ति ने दो मंजिला मकान बनवा लिया है।

चीन का लखपति भिखारी
चीन का लखपति भिखारी
सबसे अच्छी बात यह है कि यह भीख से मिले पैसों से अपने तीन बच्चों को पढ़ाने के लिए कॉलेज भी भेजता है। अपनी कमाई की बदौलत आज वह अपने परिवार के लोगों को अच्छी जिंदगी दे रहा है।

हो सकता है कि अगली बार जब अपने फ्लैट या मकान का किराया देनें लगें तो आपको इस भिखारी की याद आए।

डॉक्टर, इंजीनियर, बिजनेसमैन, वकील...आप अच्छे पैसे कमाने वाले पेशे की इस सूची में इस आगे भिखारी भी जोड़ सकते हैं। पिछले कई दिनों से मीडिया में एक स्टोरी वायरल हो रही है जिसमें चीन के एक ऐसे भिखारी के बारे में पता चला है जो रोजाना पचास हजार रुपये के करीब कमा लेता है। चीन के माइक्रोब्लॉगिंग प्लेटफॉर्म सिना वीबो के माध्यम से इस भिखारी के बारे में जानकारी सामने आई है। इस भिखारी की मासिक आय 10,000 युआन यानी लगभग 1,20,000 रुपये है। यह आंकड़ा सिर्फ वर्किंग डेज का है। छुट्टियों और त्योहारों के मौसम में इस भिखारी की आय दोगुनी हो जाती है।

भिखारी द्वारा कमाए गए पैसे इतनी ज्यादा मात्रा में हो जाते हैं कि उसे इसके लिए पोस्ट ऑफिस के कर्मचारियों को अतिरिक्त पैसे देने पड़ते हैं ताकि वे उसके पैसे गिनने में मदद कर सकें। एक तरफ जहां लोग भीख मांगने वाले लोगों की हालत पर तरस खाते हैं वहीं इसे देखने वाले लोगों को इससे जलन होने लगती है। अपने इस प्रॉफिटेबल करियर की बदौलत इस व्यक्ति ने दो मंजिला मकान बनवा लिया है और अपने परिवार को हर संभव सुविधा मुहैया करवा रहा है। हो सकता है कि अगली बार जब अपने फ्लैट या मकान का किराया देनें लगें तो आपको इस भिखारी की याद आए।

यह भिखारी बीजिंग की सड़कों पर भीख मांगता है। इसकी सबसे अच्छी बात यह है कि यह भीख से मिले पैसों से अपने तीन बच्चों को पढ़ाने के लिए कॉलेज भी भेजता है। अपनी कमाई की बदौलत आज वह अपने परिवार के लोगों को अच्छी जिंदगी दे रहा है। इस भिखारी की कहानी पढ़ने के बाद हो सकता है कि आप अब से किसी भिखारी को पैसे देने से पहले उसके बारे में दो बार सोचें, लेकिन ध्यान रहे कि हर भिखारी हर महीने लाखों रुपये नहीं कमाता और फिर इस भिखारी की कमाई तो अच्छे कामों में ही जा रही है।

यह भी पढ़ें: कक्षा 3 तक पढ़े, नंगे पांव चलने वाले इस कवि पर रिसर्च स्कॉलर करते हैं पीएचडी

यदि आपके पास है कोई दिलचस्प कहानी या फिर कोई ऐसी कहानी जिसे दूसरों तक पहुंचना चाहिए, तो आप हमें लिख भेजें editor_hindi@yourstory.com पर। साथ ही सकारात्मक, दिलचस्प और प्रेरणात्मक कहानियों के लिए हमसे फेसबुक और ट्विटर पर भी जुड़ें...