स्टार्टअप को लेकर मोदी की योजनाओं को उभरते उपक्रमों ने जमकर सराहा, नए उद्यमी के लिए इससे अच्छा अवसर नहीं

0

नए उभरते उपक्रमों ने प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी की स्टार्टअप कार्रवाई योजना की सराहना करते हुए इससे उन्हें मजबूती से अपने पैर जमाने में मदद मिलेगी तथा और अधिक उद्यमियों को कारोबार शुरू करने के लिए प्रोत्साहित किया जा सकेगा। 

अर्बनक्लैप के सह संस्थापक राघव चंद्रा ने कहा, 

‘‘प्रधानमंत्री मोदी की यह पहल माहौल को अनुकूल बनाने की दिशा में सही कदम है और इससे उद्यमियों को स्टार्ट अप शुरू करने के लिए प्रोत्साहन मिलेगा। हम इसके ब्योरे का इंतजार कर रहे हैं जिससे यह समझा जा सके कि अगला कदम क्या होगा। मैं कह सकता हूं कि इसका नतीजा सकारात्मक दिशा में होगा। हम काफी रोमांचित हैं।’’ 

नापतौल ऑनलाइन शापिंग के मुख्य कार्यकारी एवं संस्थापक मनु अग्रवाल ने कहा कि इस पहल से स्टार्ट अप्स को भारत में अपने पैर जमाने में मदद मिलेगी। उन्होंने कहा कि इससे उदीयमान उद्यमी और निवेशक साझा मंच पर आएंगे।

प्रैक्टो के सीईओ और संस्थापक शशांक एनडी ने कहा, 

‘‘मुझे लगता है कि दिवाला विधेयक से स्टार्ट अप्स को तेजी से बाहर निकलने की अनुमति मिलेगी। जो 90 दिन की है। इससे और लोगों को नया उपक्रम शुरू करने का प्रोत्साहन मिलेगा।’’ 

वहीं दूसरी ओर मोबाइल ई-कामर्स प्लेटफार्म स्टोरहिपो ने उद्योग को प्रभावित करने वाले अनुपालन मुद्दे का सरलीकरण किए जाने की मांग की है। स्टोरहिपो.काम के संस्थापक राजीव कुमार ने कहा, 

‘‘स्टार्टअप कार्रवाई योजना एक स्वागत योग्य कदम है। आयकर छूट से अधिक सांविधिक और अनुपालन संबंधी मुद्दे मसलन सेवा कर रिटर्न, एमसीए दाखिल करना, टीडीएस रिटर्न और और विभिन्न राज्य संबंधी अनुपालन आदि काफी समय लगता है और स्टार्ट अप्स प्रभावित होता है।’’