अनुशासन, मेहनत और खुद पर भरोसा ही सफलता की कुंजी है-प्रमाद जनध्याल

अपने अल्पकालिक लक्ष्यों से अपने दीर्घकालिक परिकल्पना को आघात न पहुँचने दें- प्रमाद जनध्याल

0

प्रमाद जनध्याल से मिलना और प्रभावित न होना, यह असंभव है| उनके हाव भाव का तरीका, दिल से कुछ करने का दृढ़ विश्वास और प्रश्नों का विचारपूर्वक उत्तर देना, बहुत ही आकर्षक है| मैं उनसे प्रसिद्ध बिट्स पिलानी के पूर्व छात्रों के समूह में मिला था| वह छोटे बालों में और कॉटन की साडी पहने खड़ी थी| प्रमाद का अभी तक का जीवन खूबसूरती के गुजरा है| उन्होंने बिट्स पिलानी से कंप्यूटर साइंस में स्नातक और आईआईएम-कलकत्ता से MBA किया है| Latentview की सह-संस्थापक से पहले 10 साल डाटा एनालिटिक्स और डाटा मैनेजमेंट फर्म में फाइनेंसियल सर्विस में काम करने के बाद, कुछ भी ऐसा नही है जिसे प्रमाद अपने अतीत में परिवर्तन करना चाहती है| प्रमाद की बचपन से Latentview में फाइनेंस और ह्यूमन कैपिटल का निदेशक, बनने तक के सफ़र पर एक झलक|

मजबूत बुनियादी बातें - कॉलेज के दिनों को याद रखना

प्रमाद निम्न तीन गुणों से प्रभावित होते हुए बड़ी हुई हैं|

  1. अनुशासन
  2. कड़ी मेहनत
  3. अपनी बात पर विश्वास रखना

कॉलेज के दिनों के बारे में बताते हुए वह कहती हैं, 

“मैं कॉलेज के ओरिएंटेशन सत्र में 'व्यापक आधार' वाक्यांश पाठ्यक्रम के बारे में जाना| मैंने सहयोगी शिक्षण का अनुभव लिया ,जोखिम उठाने की भूख विकसित की, BITS कोआपरेटिव स्टोर चलाने का मौका मिला और शैक्षिक दुनिया के अतिरिक्त बहुत कुछ सीखा| बिट्स पिलानी की खास बात है कि आप एक ऐसी दुनिया का हिस्सा बनते है जहाँ पर कोई पाबन्दी नही होती है|”

Latentview के बारे में

प्रमाद ने सिक्योरिटीज मार्किट, क्रेडिट रेटिंग्स और फाइनेंस सर्विसेज में डाटा और एनालिटिक्स के रूप में काम किया है| वह हमेशा लोगों के नजरियें से देखती थी| उनकी यह चीज लोगों को प्रेरित करती थी| उनके इस अनुभव और दिलचस्पी ने Latentview को जन्म दिया जहाँ वह फाइनेंस और ह्यूमन कैपिटल के निदेशक हैं| 2006 में स्थापित कंपनी में आज पाँच स्थानों पर 320 लोगों की मजबूत टीम है| Latentview कंपनियों के लिए बिज़नस एनालिटिक्स करता है| कंपनी के दो मूल मंत्र, महत्वाकांक्षा और आत्म-विश्वास है जो इसकी वार्षिक आय को साल दर साल दोगुना कर रहे हैं|

अन्य कंपनियों पर Latentview के प्रतिस्पर्धात्मक लाभ के बारे में बोलते हुए, प्रमाद कहती हैं, 

“हम डाटा को गणित की समस्या के रूप में नहीं देखते हैं और एक मजबूत समाधान देते हैं| हम अपने ग्राहकों से अच्छा संबंध बनाते हैं| ये बाते ही हमें दूसरी कंपनीओं से अलग बनाती हैं|”

अनुभव बोलता है

एनालिटिक्स और डाटा स्पेस में 20 सालों का अनुभव होने पर, प्रमाद ने ऐसा बदलाव पहले कभी नहीं देखा है| उन्होंने कुछ बिंदु बताये जो आज कल चलन में हैं|

  1. सोशल मीडिया: यह कंपनी को ग्राहकों की सुनने और मार्किट के बारे में जानने में लाभ देता है|
  2. बिग डाटा: पारंपरिक सर्वर असमर्थ होने के कारण कंपनीओं ने डाटा के लिए ट्रांजीशन बना दिए हैं|
  3. मोबाइल: यह बहुत ही रोचक गतिशीलता लाता है। इसके द्वारा आप किसी भी समय डाटा को ट्रैक कर सकते हो|
  4. विज़वल: यह आप की डाटा एनालिसिस संदेश देने में मदद करता है|

एक औरत होने के नाते

प्रमाद कहती हैं, इस समय महिलाएं बहुत सी चुनौतियों का सामना कर रही हैं| यह सब कुछ महत्वपूर्ण निर्णयों से कम हो सकता है -

  1. घर और व्यवसाय में से एक को प्राथमिकता और उस पर बने रहना| आखिरकार, यह अच्छा काम करेंगा|
  2. भेदभाव के बिना काम करना ज्यादा महत्वपूर्ण है| इसके बिना कोई जंग नही जीती जा सकती है और जिनती जल्दी यह समझेंगे उतनी आसानी होगी|

प्रमाद यह मानती हैं कि महिलायें वो कर रही हैं जो वह करना चाहती हैं और यह दूसरी महिलाओं को प्रेरित करेगा|

प्रमाद जनध्याल
प्रमाद जनध्याल

सोशल स्ट्रक्चर की वजह से यह एक रात में नही होगा लेकीन बदलाव प्रमाण है|

अतीत से सीख और भविष्य के लिए संदेश

अलग-अलग क्षेत्रों में काम करना आप का आत्म-विश्वास बढ़ाता है| अपने अनुभवों को बिना वर्गीकृत किये, अपनाना और उनसे ग्रहण करना चाहिए|

प्रमाद युवा महिलाओं व्यवसायियों को सलाह देती हैं,

“अपने अनुभवों से सीखों, अपने सपनों के लिए काम करो और दृढ़ विश्वास रखो| गलती करने से मत डरो और अपने को केन्द्रित करो| शायद आप का छोटा लक्ष्य आप के बड़े लक्ष्य को क्षति पंहुचा सकता है लेकिन आप को डटे रहना होगा|”