आईफोन6 वाले भी कर सकते हैं इस तरह की हरकत

मेट्रो में चुपके से बना रहा था लड़की का विडियो, शीशे में पकड़ा गया...

0

स्मार्टफोन के जमाने में किसी भी पब्लिक प्लेस में प्राइवेसी का कोई मतलब नहीं रह गया है। लड़कियों और महिलाओं के लिए तो ये और भी खतरनाक है। कोई भी उनकी फोटो खींच लेता है या फिर विडियो बनाने जैसी घटिया हरकत करने लगता है। ऐसा ही एक वाकया सिंगापुर की मेट्रो में हुआ जहां एक भारतीय पुरुष दूसरी भारतीय महिला का वीडियो चुपके से बना रहा था और पकड़ा गया। लड़की ने उस व्यक्ति का वीडियो बनाकर फेसबुक पर यह वाकया शेयर किया तो वह वायरल हो गया। वीडियो को 35 लाख से अधिक लोगों ने देखा है। लेकिन ये स्टोरी ये बताने के लिए नहीं है, कि कोई वीडियो कितना वायरल हुआ, बल्कि इस वीडियो की मदद से हम ये बताना चाहते हैं, कि ऐसा कुछ भी हो सकता है...

उस व्यक्ति की नजर उमा पर ही थी। कुछ देर बाद उसने अपना फोन निकाला। और उसमें कुछ देखने लगा। इसी बीच उमा ने जब उस व्यक्ति पर ध्यान दिया तो वह दंग रह गईं।

उमा मागेश्वरी सिंगापुर में रहती है। बीते 13 मई यानी शनिवार की शाम वह आउट्रम से हार्बरफ्रंट अपनी दोस्त से मिलने के लिए जा रही थीं। शाम का वक्त था इसलिए मेट्रो की अधिकतर सीटें खाली ही थीं। मेट्रो के किनारे जिस तरफ दो सीटे होती हैं उमा वहीं बैठी थीं। तभी एक व्यक्ति आया और उन्हें देखकर उन्हीं के सामने वाली सीट पर बैठ गया। उमा को थोड़ा आश्चर्य हुआ कि जब मेट्रो में सारी सीटें खाली हैं तो वह मेरे सामने ही क्यों बैठा। हालांकि उमा को यह कोई बड़ी बात नहीं लगी। उन्होंने इसे नजरअंदाज कर दिया। लेकिन उस व्यक्ति की नजर उमा पर ही थी। कुछ देर बाद उसने अपना फोन निकाला। और उसमें कुछ देखने लगा। इसी बीच उमा ने जब उस व्यक्ति पर ध्यान दिया तो वह दंग रह गईं। दरअसल वह बैठे-बैठे अपने फोन से उनका वीडियो बना रहा था। उमा को व्यक्ति के पीछे लगे शीशे में सबकुछ दिख गया।

उमा ने हड़बड़ी में कुछ करने की बजाय धैर्य से काम लिया और अपना फोन निकालकर उस व्यक्ति का ही वीडियो बनाने लगीं ताकि उनके पास भी सबूत हो जायें। वीडियो बना लेने के बाद उमा ने तुरंत पुलिस को फोन किया और मेट्रो एडमिनिस्ट्रेशन को सूचना दी। उमा के मुताबिक कुछ ही मिनट में सिंगापुर पुलिस और एमआरटी मेट्रो स्टेशन के कर्मचारियों ने उनकी मदद की। अगले ही स्टेशन पर पुलिस ने उसे पकड़ लिया।

उमा को ये काफी घटिया हरकत लगी। इससे भी ज्यादा उन्हें तब बुरा लगा जब वो व्यक्ति छोड़ देने की गुजारिश करने लगा। उसने यहां तक कह दिया कि वह तो उसकी बहन जैसी हैं। हालांकि उन्होंने उसकी एक नहीं सुनी और पुलिस में शिकायत दर्ज करा दी, ताकि उसे सबक मिल सके। उमा सभी महिलाओं को जागरुक को जागरुक करते कहती हैं,

'पब्लिक प्लेस पर अपने आस-पास के लोगों पर नजर रखे रहें और कभी भी ऐसी स्थिति आने पर बेहिचक बोलें। कोई भी इंसान अगर गलत काम कर रहा हो तो उसे तुरंत टोकें नहीं तो उसका हौसला और बढ़ जाता है। अपने आप को परिस्थितियों का दास न बनाएं और लड़की या महिला होने की वजह से खुद को बेचारा न समझें।'

लोकल मीडिया रिपोर्ट्स के मुताबिक सिंगापुर पुलिस ने बयान में बताया कि पुलिस को हेल्प के लिए 7:52 पर कॉल की गई थी। पुलिस ने हैरेसमेंट से रोकथाम कानून के तहत केस दर्ज कर लिया है। पुलिस मामले की जांच कर रही है।

उमा मागेश्वरी ने दावा किया है, कि उस व्यक्ति के फोन में ऐसे ही और कई वीडियो भी मिले। लगता है कि वह काफी दिनों से ये काम कर रहा था, लेकिन पहली बार पकड़ में आया। अब अगर उमा का दावा सही पाया गया तो सिंगापुर के कानून के हिसाब से उस व्यक्ति को महिला का अपमान करने या इसके प्रयास के लिए अधिकतम एक साल की जेल हो सकती है और जुर्माना भी लग सकता है। उमा ने बताया कि उसके पास वर्किंग पास है। यानी वह काफी दिनों से सिंगापुर में रह रहा है।

वीडियो देखने के लिए नीचे लिंक पर जायें...

मेट्रो में लड़की की चुपके से वीडियो बनाने वाला व्यक्ति

यदि आपके पास है कोई दिलचस्प कहानी या फिर कोई ऐसी कहानी जिसे दूसरों तक पहुंचना चाहिए, तो आप हमें लिख भेजें editor_hindi@yourstory.com पर। साथ ही सकारात्मक, दिलचस्प और प्रेरणात्मक कहानियों के लिए हमसे फेसबुक और ट्विटर पर भी जुड़ें...