लड़की ने मंगेतर से कहा, 'पहले टॉयलेट बनवाओ फिर करूंगी शादी'

1

लड़की ने लड़के से पूछा कि आपके यहां टॉयलट है या नहीं। इस सवाल के बाद लड़के के चेहरे पर हवाईयां नजर आने लगीं। उसने कहा कि मेरे घर में तो टॉयलट है ही नहीं।

टॉयलट एक प्रेम कथा में भूमि
टॉयलट एक प्रेम कथा में भूमि
लड़की के मंगेतर ने भी लड़की की बात मानते हुए अपनी होने वाली दुल्हन के लिए अपने घर में टॉयलेट बनवाने का काम शुरू कर दिया है। इससे पता चलता है कि स्वच्छता अभियान का असर कम से कम वेस्ट यूपी में तो दिखने लगा है।

फिल्म 'टॉयलेट एक प्रेम कथा' की कहानी भी कुछ ऐसे ही थी जिसमें केशव यानी अक्षय कुमार को जया (भूमि) से प्यार हो जाता है, लेकिन जब जया को पता चलता है कि उसके ससुराल में शौचालय नहीं है तो वह घर छोड़कर अपने मायके चली जाती है। 

हाल ही में रिलीज हुई अक्षय कुमार की बहुचर्चित फिल्म 'टॉयलट एक प्रेम कथा' जैसा ही वाकया असल में हो गया है। उत्तर प्रदेश के मेरठ जिले के फलावदा इलाके के गांव में एक लड़की ने अपने मंगेतर से दो टूक कह दिया कि पहले टॉयलेट बनवाओ उसके बाद ही शादी करूंगी। लड़की के मंगेतर ने भी लड़की की बात मानते हुए अपनी होने वाली दुल्हन के लिए अपने घर में टॉयलेट बनवाने का काम शुरू कर दिया है। इससे पता चलता है कि स्वच्छता अभियान का असर कम से कम वेस्ट यूपी में तो दिखने लगा है।

दरअसल पश्चिमी उत्तर प्रदेश के मेरठ जिले के फलावदा क्षेत्र में रहने वाले युवक का परिवार शादी की तैयारियों के लिए बाकी कामों के साथ शॉपिंग करने में भी जुटा है। लड़का ग्रैजुएट है और एक प्राइवेट कंपनी में जॉब करता है। वहीं लड़की इंटरमीडिएट पास है। जब घरवालों ने शादी तय कर दी तो दोनों ने एक दूसरे से मिलने का फैसला किया। मिलने के बाद दोनों की आपस में बातचीत हुई तो एक दूसरे की पसंद नापसंद जैसी कई बाते हुईं। इसके बाद लड़की ने लड़के से पूछा कि आपके यहां टॉयलट है या नहीं। इस सवाल के बाद लड़के के चेहरे पर हवाईयां नजर आने लगीं। उसने कहा कि मेरे घर में तो टॉयलट है ही नहीं।

लड़के ने साफ बता दिया कि घर में पिता और मां हैं। एक भाई और छोटी बहन है और वह बाहर रहकर नौकरी करता है। इसलिए टॉयलेट नहीं है। परिवार के लोग जंगल या खेतों में जाकर खुले में ही शौच करते हैं। और सालों से ऐसा ही चल रहा है। इसके बाद लड़की ने सीधे कह दिया कि जब सरकार टॉयलट बनवाने के लिए पैसे दे रही है तो उसके बाद भी घर में शौचालय न बनवाना सही नहीं है। इसके बाद लड़के को उसकी बात समझ आई और उसने वादा किया कि शादी से पहले-पहले हर हाल में घर में टॉयलट बन जाएगा।

लड़की की इस मांग से जाहिर होता है कि गांवों में भी लोग अपने हेल्थ और गंदगी को लेकर जागरूक हुए हैं। लड़की ने साफ कर दिया कि घर में टॉयलेट होना जरूरी है। लड़की ने शर्त रख दी कि टॉयलेट बने बिना वह शादी नहीं करेगी। शॉपिंग में बिजी लड़के ने नवभारत टाइम्स को बताया कि दुल्हन की बात को मेरे परिवार के लोगों ने खुशी-खुशी स्वीकार कर लिया। और घर में टॉयलट बनवाने का काम भी शुरू हो गया है।

लड़की और लड़के ने मीडिया से अपनी पहचान न उजागर करने की गुजारिश की है। उसने कहा कि वह शहर में नौकरी करता है और अगर किसी को पता चलेगा कि उसके यहां टॉयलट नहीं है तो उसकी हंसी उड़ाई जाएगी। हाल ही में अक्षय कुमार और भूमि पेडनेकर की फिल्म 'टॉयलेट एक प्रेम कथा' की कहानी भी कुछ ऐसे ही थी जिसमें केशव यानी अक्षय कुमार को जया (भूमि) से प्यार हो जाता है, लेकिन जब जया को पता चलता है कि उसके ससुराल में शौचालय नहीं है तो वह घर छोड़कर अपने मायके चली जाती है इसके बाद केशव उसे वापस लाने की कोशिश करता है।

यह भी पढ़ें: 'जिस घर शौचालय नहीं उस घर शादी नहीं', UP में एक गांव का सराहनीय कदम

यदि आपके पास है कोई दिलचस्प कहानी या फिर कोई ऐसी कहानी जिसे दूसरों तक पहुंचना चाहिए, तो आप हमें लिख भेजें editor_hindi@yourstory.com पर। साथ ही सकारात्मक, दिलचस्प और प्रेरणात्मक कहानियों के लिए हमसे फेसबुक और ट्विटर पर भी जुड़ें...