राष्ट्रीय चावल अनुसंधान संस्थान ने  बनाया धान किसानों के लिए मोबाइल एप  

0


 राष्ट्रीय चावल अनुसंधान संस्थान (एनआरआरआई) ने एक मोबाइल एप ‘राइसएक्सपर्ट’ विकसित किया है जो कि खेती बाड़ी से सम्बद्ध जानकारी उपलब्ध कराएगा। कृषि मंत्री राधा मोहन सिंह ने एक किसान मेले में यह जानकारी दी।  उन्होंने कहा कि यह एप कीटनाशक छिड़काव, पोषण, विभिन्न हालात के लिए चावल किस्मों सहित चावल की खेती से जुड़ी अन्य जानकारी उपलब्ध कराएगा।

उन्होंने कहा कि यह एप वेब आधारित एप्लीकेशन प्रणाली है जिस पर किसानों से लेकिन कृषि वैज्ञानिकों तक से सूचनाएं आ सकती हैं और विभिन्न समस्याओं का तुरंत समाधान मिलेगा। यह किसानों के लिए बड़ा मददगार होगा। इस अवसर पर पेट्रोलियम मंत्री धर्मेंद्र प्रधान, सांसद भृतहरि मेहताब, आईसीएआर के महानिदेशक त्रिलोचन मोहपात्रा भी मौजूद थे।

इस अवसर पर मंत्री ने कृषि क्षेत्र के लिए केंद्र सरकार द्वारा उठाए गए विभिन्न कदमों का ज्रिक किया। उन्होंने मोबाइल एप तथा दुनिया की पहली उच्च प्रोटीन वाली किस्म ‘सीआर धान 210’ के विकास के लिए एनआरआरआई के वैज्ञानिकों की सराहना की। (पीटीआई)

यदि आपके पास है कोई दिलचस्प कहानी या फिर कोई ऐसी कहानी जिसे दूसरों तक पहुंचना चाहिए, तो आप हमें लिख भेजें editor_hindi@yourstory.com पर। साथ ही सकारात्मक, दिलचस्प और प्रेरणात्मक कहानियों के लिए हमसे फेसबुक और ट्विटर पर भी जुड़ें...