प्रजनन दर में कमी के बावजूद 2053 में 10 अरब हो जाएगी दुनिया की आबादी

0

पॉपुलेशन रेफरेंस ब्यूरो (पीआरबी) की ताजा रिपोर्ट में आकलन किया गया है कि साल 2050 में दुनिया की आबादी 9.9 अरब होगी जिसमें फिलहाल की करीब 7.4 आबादी में 33 प्रतिशत का इजाफा होगा।

पीआरबी की वैश्विक जनसंख्या डाटाशीट में किये गये 2050 के पूर्वानुमानों के अनुसार इसके बाद के सालों में आबादी का पूर्वानुमान लगाएं तो 2053 में दुनिया की जनसंख्या 10 अरब होगी और एशिया की आबादी में 90 करोड़ की वृद्धि के साथ यह 5.3 अरब पर पहुंच सकती है।

पीआरबी के सीईओ और अध्यक्ष जेफरी जॉर्डन के मुताबिक, ‘‘दुनियाभर में प्रजनन दर में कमी आने के बावजूद हम संभावना व्यक्त करते हैं कि जनसंख्या में काफी बढ़ोतरी होगी और दुनिया की आबादी 10 अरब तक पहुंच जाएगी।’’ 

जेफरी जॉर्डन ने कहा, ‘‘हालांकि महत्वपूर्ण क्षेत्रीय भेद बरकरार रहेंगे। उदाहरण के लिए यूरोप में बहुत कम जन्म दर के चलते जनसंख्या कम होगी वहीं अफ्रीका का आबादी दोगुनी हो सकती है।’’ पीआरबी के पूर्वानुमानों के मुताबिक साल 2050 तक अफ्रीका की जनसंख्या ढाई अरब होगी, वहीं अमेरिका महाद्वीप में केवल 22.3 करोड़ का इजाफा होगा और यह आबादी 1.2 अरब होगी।- पीटीआई

यदि आपके पास है कोई दिलचस्प कहानी या फिर कोई ऐसी कहानी जिसे दूसरों तक पहुंचना चाहिए, तो आप हमें लिख भेजें editor_hindi@yourstory.com पर। साथ ही सकारात्मक, दिलचस्प और प्रेरणात्मक कहानियों के लिए हमसे फेसबुक और ट्विटर पर भी जुड़ें...