विदेशों में इकाई रखने वाले स्टार्टअप खोल सकते हैं विदेशी मुद्रा खाता

0

रिज़र्व बैंक ने विदेशों में अनुषंगी इकाई रखने वाली स्टार्टअप कंपनियों को विदेशी मुद्रा खाता खोलने की अनुमति दे दी है ताकि ये कंपनियां निर्यात और बिक्री से होने वाली विदेशी मुद्रा आय को उसमें रख सकें।

रिज़र्व बैंक ने एक अधिसूचना में कहा है, ‘‘भारत सरकार की स्टार्ट अप पहल को देखते हुये यह तय किया गया है कि कोई भारतीय स्टार्ट अप जिसकी विदेशी अनुषंगी है वह भारत से बाहर किसी बैंक में अपना विदेशी मुद्रा खाता खोल सकता है। इसके पीछे मकसद निर्यात और बिक्री से होने वाली आय को उस खाते में रखने की सुविधा देना है।’’ अधिसूचना में कहा गया है कि इस तरह के खातों में अधिशेष राशि को जो कि भारत से किये गये निर्यात से प्राप्त हुई है, उसे निर्यात की प्राप्ति के लिये तय अवधि के भीतर ही भारत को भेज दिया जाना चाहिये।

रिजर्व बैंक ने इससे आगे कहा है कि किसी भारतीय स्टार्टअप को बिक्री अथवा निर्यात से विदेशी मुद्रा में मिलने वाले भुगतान को स्टार्ट अप द्वारा भारत में खोले गये एक्सचेंज एरनर फारेन करेंसी (ईईएफसी) खाते में रखने की अनुमति होगी। (पीटीआई)