चीन और भारत का प्रदूषण हैरान करने वाला है : केली

केली ने कुछ ही समय पहले अंतरिक्ष में करीब एक साल पूरा किया है।

0

अंतरिक्ष में एक साल बिताने की विशिष्टता हासिल करने वाले अंतरिक्ष यात्री स्कॉट केली ने कहा है कि चीन एवं भारत में प्रदूषण का स्तर स्तब्ध करने वाला है।

चीन और भारत जैसे स्थानों और वहां लगभग हर समय मौजूद रहने वाला प्रदूषण देखना बहुत हैरान कर देने वाला है।

केली कल व्हाइट हाउस के ओवल कार्यालय में अमेरिका के राष्ट्रपति बराक ओबामा के साथ मीडिया के समक्ष कुछ समय के लिए पेश हुए और’ उन्होंने कहा जब मैं अंतरिक्ष में था तब वर्ष 2015 में गर्मियों के एक दिन मैंने चीन के पूर्वी हिस्से को पूरी तरह से साफ देखा। मैं जितने भी समय अंतरिक्ष में रहा, मैंने पहले कभी ऐसे नहीं देखा और मैं उस समय तक अंतरिक्ष में कुल एक साल से अधिक समय बिता चुका था। 

केली ने कहा, ‘‘मैं चीन के उस हिस्से में 200 से अधिक शहरों को देख सका जहां लाखों लोग रहते हैं। तब शाम का समय था और मैं पहली बार उन्हें देख पाया था और यह काफी हैरान करने वाला था।’’ 

मुझे यह तब तक समझ नहीं आया, जब तक कि मैंने अगले दिन यह नहीं सुना कि चीनी सरकार ने कोयला उत्पादक ऊर्जा संयंत्रों को बंद कर दिया है, राष्ट्रीय छुट्टी के लिए देश के उस हिस्से में कारों का संचालन रक गया था और आसमान एकदम साफ था। 

केली ने कहा, ‘‘इसलिए यह देखना दिलचस्प है कि हम पर्यावरण पर कितना नकारात्मक प्रभाव डाल रहे हैं और हम इस पर कितनी जल्दी सकारात्मक असर डाल सकते हैं।’’ 

केली ने कुछ ही समय पहले अंतरिक्ष में करीब एक साल पूरा किया जो किसी भी अमेरिकी अंतरिक्ष यात्री का अंतरिक्ष में बिताया अब तक का सर्वाधिक समय है।

अमेरिका के राष्यट्रपति बराक ओबामा ने स्कॉच केली को अमेरिका का नायक कहा है।