...और दूसरे अंतर्राष्ट्रीय योग दिवस उत्सव की तैयारियाँ ज़ोरों पर

0

संसार भर में 2015 में पहला अंतर्राष्ट्रीय दिवस उत्सव सफल रूप से हर्षोल्लास के साथ मनाये जाने के बाद, हम दूसरे अंतर्राष्ट्रीय योग दिवस से कुछ ही पल दूर हैं। आईए  अवलोकन करें, उन गुज़रे पलों का और जानें कि पिछले वर्ष हमने यह उत्सव किस तरह मनाया और यह उपलब्धि हमें किस तरह प्राप्त हुई। 

भारत के प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने संयुक्त राष्ट्र महासभा के 69 वें सत्र को संबोधित करते हुए 27 सितंबर 2014 को संसार भर के समुदायों से अनुरोध किया था कि एक दिन विश्व योग दिवस के रूप में मनाया जाए। प्रधानमंत्री नरेंद्रे मोदी के उस प्रस्ताव को 11 दिसंबर 2014 को 193 सदस्यीय संयुक्त राष्ट्र महासभा ने मंज़ूर कर लिया और 177 सह-प्रायोजित देशों की सहमति एक रिकार्ड बन गयी। 21 जून को अंतर्राष्ट्रीय योग दिवस मनाने का प्रस्ताव पारित कर लिया गया। अपने संकल्प में, संयुक्त राष्ट्र महासभा ने स्वीकार किया कि योग स्वास्थ्य और तंदुरुस्ती लिए एक समग्र दृष्टिकोण प्रदान करता है।

इतना ही नहीं योग जीवन के सभी क्षेत्रों में सद्भाव लाता है और  बीमारियों की रोकथाम, स्वास्थ्य संवर्धन और जीवन शैली से संबंधित कई विकारों के प्रबंधन के लिए जाना जाता है।

आयुष मंत्रालय द्वारा 21 जून 2015 को पहला अंतर्राष्ट्रीय योगा दिवस सफलतापूर्वक मनाया गया। नई दिल्ली स्थित राजपथ पर इसकी सफलता का नया इतिहास लिखा गया, जब इस कार्यक्रम ने 2 गिनीज़बुक ऑफ वर्ल्ड रिकार्ड बनाये। एक मंच पर सर्वाधिक 35,985 लोगों के योग प्रदर्शन के लिए उपस्थिति और दूसरा योग कार्यक्रम में 84 देशों के नागरिक उपस्थित होना। वह काफी महत्वपूर्ण घटना रही।

भारत के अलावा दुनिया के कई देशों में पूरे उत्साह के साथ अंतर्राष्ट्रीय योग दिवस मनाया गया। लाखों लोगों इस योग कार्यक्रम में भाग लेकर योग संदेश के संवाहक बने। 2015 में अंतर्राष्ट्रीय योग दिवस के दिन प्रतिभागियों ने योग प्रदर्शन किया और स्वास्थ्य तथा तंदुरुस्ती के लिए प्राचीन भारतीय परंपरा का हिस्सा रहे योग से लाभान्वित हुए।

दुनिया भर में विभिन्न शोध अध्ययनों से यह सिद्ध हुआ है कि योग में  मन एवं शरीर के विभिन्न विकारों के प्रबंधन की क्षमता है, जिसके कारण इसने दुनिया भर का ध्यान अपनी ओर आकर्षित किया है।।  लोकप्रियता पाने के साथ-साथ, यह  दुनिया भर के लोगों के स्वास्थ्य की स्थिति को सकारात्मक रूप से प्रभावित करने के लिए जाना जाता है। आईए 21 जून को दूसरा अंतर्राष्ट्रीय योग दिवस उत्सव 2016 मनाने की तैयारियों में जुट जाएँ और इस सफलता के भागीदार बनें।

यदि आपके पास है कोई दिलचस्प कहानी या फिर कोई ऐसी कहानी जिसे दूसरों तक पहुंचना चाहिए, तो आप हमें लिख भेजें editor_hindi@yourstory.com पर। साथ ही सकारात्मक, दिलचस्प और प्रेरणात्मक कहानियों के लिए हमसे फेसबुक और ट्विटर पर भी जुड़ें...