दिल्ली में प्रदूषण की मार कम करने के लिए ऑड इवन, डीटीसी में यात्रा फ्री

0

अब दिल्ली सरकार ने न केवल ऑड इवन रूल सिस्टम लागू करने का फैसला किया है बल्कि लोगों को दिक्कत न हो इसलिए डीटीसी और क्लस्टर बसों में सफर करने वालों को मुफ्त सुविधा देने का भी ऐलान किया है।

सांकेतक तसवीर
सांकेतक तसवीर
ऑड-ईवन के दौरान लोगों को ज्यादा से ज्यादा सार्वजनिक परिवहन का प्रयोग करने को प्रोत्साहन की दिशा में दिल्ली सरकार ने सभी डीटीसी और क्लस्टर बसों में यात्रियों को फ्री यात्रा करने की अनुमति दी है।

दिल्ली-एनसीआर में प्रदूषण का स्तर खतरनाक साबित हो रहा है। पर्यावरण विशेषज्ञों का कहना है कि इसके लिए असमान विकास और औद्योगिकीकरण जैसी वजहें जिम्मेदार हैं।

पिछले कई दिनों से दिल्ली और उसके आस-पास के इलाकों में प्रदूषण की वजह से धुंध छाई हुई थी। लोगों को सांस लेना मुश्किल हो रहा था और कम दृश्यता की वजह से सड़क दुर्घटनाओं में कई लोगों की जान भी चली गई। इस हालत में दिल्ली के रहने वालों ने ऑड-इवन रूल को फिर से लागू करने की गुहार लगाई। अब दिल्ली सरकार ने न केवल ऑड इवन रूल सिस्टम लागू करने का फैसला किया है बल्कि लोगों को दिक्कत न हो इसलिए डीटीसी और क्लस्टर बसों में सफर करने वालों को मुफ्त सुविधा देने का भी ऐलान किया है।

दिल्ली के ट्रांसपोर्ट मिनिस्टर कैलाश गहलोत ने एक ट्वीट केो जरिए कहा, 'ऑड-ईवन के दौरान लोगों को ज्यादा से ज्यादा सार्वजनिक परिवहन का प्रयोग करने को प्रोत्साहन की दिशा में दिल्ली सरकार ने सभी डीटीसी और क्लस्टर बसों में यात्रियों को फ्री यात्रा करने की अनुमति दी है।' गहलोत ने गुरुवार को कहा था, 'दिल्ली में वायु प्रदूषण गंभीर स्तर को पार कर गया है। इसलिए हम ऑड ईवन योजना फिर से ला रहे हैं।' उन्होंने कहा कि इस योजना की रूपरेखा पहले की तरह ही होगी।

दिल्ली के मुख्यमंत्री अरविंद केजरीवाल ने कैलाश गहलोत के इस ट्वीट को रीट्वीट भी किया है। सीएम केजरीवाल ने लिखा, सरकार का यह फैसला लोगों को सार्वजनिक परिवहन के इस्तेमाल को प्रोत्साहित करेगा। दिल्ली सरकार ने बढ़ते प्रदूषण और स्मॉग के चलते 13 से 17 नवंबर तक एक बार फिर ऑड-ईवन लागू करने का फैसला किया है। दिल्ली सरकार ने दिल्ली में प्रदूषण की गंभीर स्थिति को देखते हुए 13 से 17 नवंबर तक यातायात के ऑड-ईवन फॉर्म्यूले का लागू करने का ऐलान किया था।

दिल्ली-एनसीआर में प्रदूषण का स्तर खतरनाक साबित हो रहा है। पर्यावरण विशेषज्ञों का कहना है कि इसके लिए असमान विकास और औद्योगिकीकरण जैसी वजहें जिम्मेदार हैं। दिल्ली में प्रदूषण का स्तर 1000 पीएम तक पहुंच चुका है। ध्यान देने वाली बात ये है कि 300 पीएम तक की स्थिति गंभीर मानी जाती है। दिल्ली में सड़कों पर पानी का छिड़काव किया जा रहा है, जबकि गुरुवार की शाम ही दिल्ली सरकार ने दिल्ली में ऑड ईवन फॉर्मूले को लागू करने का फैसला किया है। दिल्ली में अगले सोमवार से शुक्रवार तक ऑड ईवन फॉर्मूले पर अमल किया जाएगा।

यह भी पढ़ें: 3 रुपये रोजाना कमाने वाले मजूमदार आज हैं 255 करोड़ की कंपनी के मालिक

यदि आपके पास है कोई दिलचस्प कहानी या फिर कोई ऐसी कहानी जिसे दूसरों तक पहुंचना चाहिए, तो आप हमें लिख भेजें editor_hindi@yourstory.com पर। साथ ही सकारात्मक, दिलचस्प और प्रेरणात्मक कहानियों के लिए हमसे फेसबुक और ट्विटर पर भी जुड़ें...