अब रतन टाटा भी आईडीजी वेंचर्स के परामर्शदाता बने

रतन टाटा ने अबतक दर्जन भर से ज्यादा स्टार्टअप कंपनियों में निवेश किया है

0

मशहूर उद्योगपति रतन टाटा प्रौद्योगिकी उद्यम पूंजी कंपनी आईडीजी वेंचर्स इंडिया से संरक्षक के तौर पर जुड़ रहे हैं।

टाटा सन्स के मानद अध्यक्ष टाटा आईडीजी वेंचर्स के परामर्श निदेशक मंडल से वरिष्ठ परामर्शक के तौर पर जुड़े हैं।

वह आईडीजी वेंचर्स की पोर्टफोलियो कंपनियाों को कारोबार वृद्धि, वैश्विक विस्तार, टीम निर्माण और नेतृत्व के संबंध में परामर्श देंगे।

इसके अलावा वह रणनीतिक मामलों में पोर्टफोलियो कंपनी के निदेशक मंडल की बैठकों में चुनिंदा आधार पर विशेष आमंत्रित सदस्य होंगे।

आईडीजी वेंचर्स के संस्थापक अध्यक्ष सुधीर सेठी ने एक बयान में कहा ‘‘नए दौर के भारत में कारोबारी नेतृत्व के लिहाज से टाटा उल्लेखनीय व्यक्तित्व हैं। कारोबार निर्माण में उनका अनुभव हमारी पोर्टफोलिया कंपनियों के लिए बेहद महत्वपूर्ण होगा।’’ टाटा दिसंबर 2012 में 100 अरब डालर के टाटा समूह से सेवानिवृत्त हुए और अपनी सेवानिवृत्ति के बाद से बड़े उद्यम पूंजी निवेश के तौर पर उभरे हैं। उन्होंने सेवानिवृत्ति के बाद से अब तक दर्जन भर से अधिक स्टार्टअप में निवेश किया है, जो इस तरह हैं...


मार्च 2014--वायु उर्जा स्टार्टअप एल्टेरॉस एनर्जीज,

अगस्त 2014---ई-वाणिज्य कंपनी स्नैपडील 

सितंबर 2014--ज्वेलरी शॉपिंग ई वाणिज्य कंपनी ब्ल्यूस्टोन

नवंबर 2014---फर्नीचर की ई वाणिज्य कंपनी अर्बन लैडर

दिसंबर 2014--हेल्थ केयर सर्विसेज की स्टार्टअप कंपनी स्वस्थ इंडिया में 2 करोड़ का निवेश

फरवरी 2015--ई-वाणिज्य कंपनी कार देखो

मार्च 2015--पेटीएम में रतन टाटा का निवेश

मार्च 2015--रतन टाटा ने नॉन बैंकिंग फाइनेंस कंपनी जर्मन कैपिटल इंडिया में मामूली हिस्सेदारी खरीदी

अप्रैल 2015--रतन टाटा ने दुनिया की तीसरी सबसे बड़ी स्मार्ट फोन हैंडसेट बनाने वाली चीन की कंपनी शियोमी में निवेश किया

मई 2015--113 निवेशकों से न सुनने वाली 'कार्य' की संस्थापक निधि अग्रवाल की कंपनी में निवेश

जून 2015--ओला कैब में निवेश

जुलाई 2015--हेल्थ केयर स्टार्टअप Lybtare कंपनी में 10.2 मिलियन डॉलर का निवेश

(रतन टाटा योर स्टोरी मीडिया के भी निवेशक हैं)

यदि आपके पास है कोई दिलचस्प कहानी या फिर कोई ऐसी कहानी जिसे दूसरों तक पहुंचना चाहिए, तो आप हमें लिख भेजें editor_hindi@yourstory.com पर। साथ ही सकारात्मक, दिलचस्प और प्रेरणात्मक कहानियों के लिए हमसे फेसबुक और ट्विटर पर भी जुड़ें...