भारतीय वायुसेना के इतिहास में पहली बार जुड़ेंगी तीन लड़ाकू विमान महिला पायलट

0

भारतीय वायुसेना के इतिहास में पहली बार 18 जून को डुंडीगल वायुसेना अकादमी में लड़ाकू विमान पायलट के रूप में तीन महिला अधिकारियों को वायुसेना में शामिल किया जायेगा और रक्षा मंत्री मनोहर पर्रिकर खुद इसके लिए आयोजित होने वाले समारोह में मौजूद रहेंगे।

इस कार्यक्रम में पर्रिकर पासिंग आउट परेड का निरीक्षण करेंगे और 22 महिलाओं समेत विभिन्न शाखाओं के 129 स्नातक प्रशिक्षुओं को ‘राष्ट्रपति का कमीशन’ प्रदान करेंगे।

आज जारी एक रक्षा विज्ञप्ति में इसे भारतीय वायुसेना के लिए एक ऐतिहासिक कार्यक्रम बताया गया क्योंकि इसमें पहली बार देश को तीन महिला लड़ाकू विमान पायलट मिलेंगी। लड़ाकू विमान पायलटों के रूप में भावना कंठ, मोहना सिंह और अवनी चतुर्वेदी को शामिल किया जायेगा। (पीटीआई)