छोटे निवेशकों के संरक्षण में भारत 13वें नंबर पर

अल्पांश निवेशकों के संरक्षण की उप-रैंकिंग में न्यूजीलैंड और सिंगापुर संयुक्त रूप से शीर्ष पर रहे हैं।

0

छोटे निवेशकों के हितों के संरक्षण की रैंकिंग में भारत तीन पायदान खिसककर 13वें स्थान पर आ गया है। हालांकि, कारोबार सुगमता की रैंकिंग में उसके 130वें स्थान की तुलना में इस मामले में भारत की स्थिति कहीं बेहतर है।

अल्पांश निवेशकों के संरक्षण की उप-रैंकिंग में न्यूजीलैंड और सिंगापुर संयुक्त रूप से शीर्ष पर रहे हैं।

इस सूची में हांगकांग, मलेशिया, कजाखस्तान, ब्रिटेन, जॉर्जिया, कनाडा, नॉर्वे, यूएई, स्लोवेनिया तथा इस्राइल का स्थान भारत से बेहतर है। विश्व बैंक की ताजा कारोबार सुगमता रिपोर्ट में भारत 130वें स्थान पर रहा है। कारोबार सुगमता 2017 रिपोर्ट में न्यूजीलैंड शीर्ष पर और सिंगापुर दूसरे स्थान पर है।

रिपोर्ट में कहा गया है कि अल्पांश निवेशक के संरक्षण में निदेशकों द्वारा कारपोरेट संपत्तियों का अपने निजी लाभ के लिए दुरुपयोग में शेयरधारकों का संरक्षण तथा कामकाज के संचालन में शेयर धारकों के अधिकार और भूमिका शामिल हैं।

रिपोर्ट में कहा गया है कि भारत ने अपने कंपनी कानून में बदलाव किया, भारतीय कंपनियों को वैश्विक मानकों के अनुरूप लाया गया, विशेषरूप से जवाबदेही और कारपोरेट गवर्नेंस व्यवहार में।

यदि आपके पास है कोई दिलचस्प कहानी या फिर कोई ऐसी कहानी जिसे दूसरों तक पहुंचना चाहिए, तो आप हमें लिख भेजें editor_hindi@yourstory.com पर। साथ ही सकारात्मक, दिलचस्प और प्रेरणात्मक कहानियों के लिए हमसे फेसबुक और ट्विटर पर भी जुड़ें...