करीबियों को देना चाहते हैं सरप्राइज़, तो जयपुर का ये स्टार्टअप करेगा आपकी मदद

माँ-बेटी मिलकर चला रही हैं एक ऐसा स्टार्टअप, जिसमें छुपे हैं ढेर सारे सरप्राइज़िस...

0

जयपुर का एक स्टार्टअप है 'सरप्राइज़ समवन'। यह एक ऑनलाइन प्लेटफ़ॉर्म है, जिसे 2015 में मां-बेटी ने साथ मिलकर शुरू किया था। यह स्टार्टअप ग्राहकों को सरप्राइज़ गिफ़्ट्स की सर्विस मुहैया कराता है।

पिंकी माहेश्वरी और उनकी मां शारदा डागे ने साथ मिलकर 2015 में "सरप्राइज़ समवन" स्टार्टअप की शुरूआत की थी। पिंकी एमबीए डिग्री होल्डर हैं। उन्होंने 8 सालों तक ग्लोबल ऐडवरटाइजडिंग कंपनी ओगिल्वी ऐंड मैदर में और 2 सालों तक वोडाफोन राजस्थान में काम किया।

स्टार्टअप: सरप्राइज़ समवन
फाउंडर्स: पिंकी माहेश्वरी और शारदा डागा
शुरूआत: 2015
आधारित: जयपुर
कामः रीसाइकल्ड हैंडमेड और प्लान्टेबल सीड पेपर की मदद से गिफ़्ट आइटम्स तैयार करना
सेक्टर: गिफ़्टिंग
फ़ंडिंग: बूटस्ट्रैप्ड

सरप्राइज़ किन्हें अच्छे नहीं लगते! हर ख़ास मौके पर आप अपने किसी करीबी को उसकी पसंद के गिफ्ट से सरप्राइज़ करना चाहते हैं। जयपुर आधारित एक स्टार्टअप, 'सरप्राइज़ समवन' आपकी इस ज़रूरत का ख़्याल रखता है। सरप्राइज समवन एक ऑनलाइन प्लेटफ़ॉर्म है। पिंकी माहेश्वरी और उनकी मां शारदा डागे ने मिलकर 2015 में इस स्टार्टअप की शुरूआत की थी। यह स्टार्टअप ग्राहकों को सरप्राइज़ गिफ़्ट्स की सर्विस मुहैया कराता है।

सरप्राइज़ समवन में क्या है ख़ास?

आप सोच रहे होंगे कि मार्केट में कई ऐसे वेंचर्स हैं, जो गिफ़्ट प्रोवाइडर्स हैं, तो फिर सरप्राइज़ समवन बाक़ियों से किन मायनों में अलग है? दरअसल, जैसे ही कोई ग्राहक स्टार्टअप के पोर्टल पर जाकर ऑर्डर प्लेस करता है, सरप्राइज़ समवन की टीम ग्राहकों का बैकग्राउंड चेक करती है। सोशल मीडिया पर उपलब्ध जानकारियों और उनकी पसंद-नापसंद को ध्यान में रखते हुए ग्राहकों के लिए गिफ़्ट चुने जाते हैं।

स्टार्टअप की को-फ़ाउंडर पिंकी मानती हैं कि बड़ी चीज़ें अपनी जगह हैं, लेकिन छोटी-छोटी चीज़ों से भी बड़ा अंतर पैदा किया जा सकता है। पिंकी कहती हैं कि सरप्राइज़ समवन ग्राहकों की छोटी-छोटी ख़ुशियों का ख़्याल रखता है। उन्होंने स्टार्टअप के काम को और भी स्पष्ट करते हुए उदाहरण दिया कि स्टार्टअप कॉर्पोरेट क्लाइंट के अलग गिफ़्ट चुनता है और किसी घरेलू महिला के लिए अलग।

ईको-फ्रेंडली और 'नैचुरल' गिफ़्ट्स

सरप्राइज़ समवन के गिफ़्ट्स में एक और सरप्राइज़ छिपा होता है। दरअसल, आप गिफ़्ट का इस्तेमाल करने के बाद उसे पौधे के बीज के रूप में इस्तेमाल कर सकते हैं और पौधा उगा सकते हैं। स्टार्टअप के सभी प्रोडक्ट्स रीसाइकल्ड पेपर्स से बने होते हैं और उनमें बीज (सीडस्) मौजूद होते हैं।

सरप्राइज़ समवन के पास फोटो फ्रेम्स, पेपर बैग्स, कस्टमाइज़्ड फ़ेवर बॉक्स आदि गिफ़्ट्स की विस्तृत रेंज है। इतना ही नहीं, शादी और क्रिसमस जैसे ख़ास मौकों और त्योहार के लिए सरप्राइज़ समवन ख़ास क़िस्म के गिफ़्ट हैंपर्स भी ऑफ़र करता है। आपकी पसंद के साथ-साथ सरप्राइज़ समवन आपकी जेब का भी ख़्याल रखता है और किफ़ायती उत्पाद उपलब्ध कराता है।

पिंकी ने स्टार्टअप के अन्य इनोवेशन्स के बारे में बात करते हुए जानकारी दी कि सरप्राइज़ समवन, कॉटन रैग्स और वेस्ट कॉटन की मदद से भी रीसाइकल्ड पेपर तैयार करता है। उन्होंने अपने एक और रोचक प्रयोग, सीड पेंसिल्स के बारे में भी बताया। उन्होंने बताया कि ये पेंसिल्स 100 प्रतिशत बायो-डिग्रेडेबल हैं और इन्हें भी रीसाइकल्ड पेपर और पुराने न्यूज़पेपर्स की मदद से तैयार किया जाता है। इरेज़र या रबर की जगह पर इन पेंसिल्स में सीड कैप्सूल लगे होते हैं। पेंसिल का इस्तेमाल ख़त्म हो जाने पर आप इन कैप्सूल्स को मिट्टी में रोप सकते हैं और इन्हें पानी वगैरह उपलब्ध कराकर दो हफ़्तों के भीतर इनके अंदर के बीज बढ़ने लगेंगे।

दोस्त के लिए कार्ड बनाने से कंपनी शुरू करने तक का सफ़र

पिंकी एमबीए डिग्री होल्डर हैं। उन्होंने 8 सालों तक ग्लोबल ऐडवरटाइजडिंग कंपनी ओगिल्वी ऐंड मैदर में और 2 सालों तक वोडाफोन राजस्थान में काम किया।

शादी होने और फिर मां बनने के बाद पिंकी ने फ़ैसला लिया कि अब वह नौकरी नहीं करेंगी और अपने काम की शुरुआत करेंगी। वह मानती हैं कि सरप्राइज़ देने में वह हमेशा से ही अच्छी रही हैं और इसलिए उन्होंने इस सेक्टर में काम करने का फ़ैसला लिया।

अपने वेंचर के पीछे की उत्प्रेरक घटना का ज़िक्र करते हुए उन्होंने बताया कि नौकरी छोड़ने के बाद उनके एक साथी ने उनसे हाई-प्रोफ़ाइल गेस्ट्स के लिए हैंडमेड वेलकम कार्ड्स बनाने के लिए कहा। पिंकी को कुल 150 मेहमानों के लिए कार्ड्स बनाने थे। पिंकी को लगा कि उन्हें तो इस काम में मज़ा आता है और उन्हें बस अपने दोस्त की मदद करनी चाहिए। उन्होंने पैसों के लिए यह काम नहीं किया। हालांकि, उन्हें अपने काम के लिए 15 हज़ार रुपयों का पेमेंट मिला, जिसकी उन्होंने उम्मीद नहीं की थी।

मां ने दिया भरपूर साथ

इस घटना के बाद ही पिंकी को प्रेरणा मिली कि उन्हें इस तरह का काम शुरू करना चाहिए। अपने वेंचर की सफलता के लिए अपनी मां को ख़ास धन्यवाद देते हुए पिंकी कहती हैं कि उनकी मां शारदा डागा 55 वर्षीय हैं, लेकिन फिर भी उनमें युवाओं जैसी ऊर्जा है। पिंकी ने बताया कि उनकी मां, उनके पिता के ग्लोबल मेंटर फ़ोरम में भी सहयोग करती हैं और सरप्राइज़ समवन का काम भी संभालती हैं। स्टार्टअप में शारदा डागा की भूमिका स्पष्ट करते हुए पिंकी ने बताया कि आइडिया डिवेलप करने का काम वह ख़ुद करती हैं, लेकिन एग्जिक्यूशन और मार्केट का गणित उनकी मां ही संभालती हैं। दोनों फाउंडर्स के अलावा कंपनी के पास 39 आर्टिस्ट और 10 टीम मेंबर्स हैं।

पिंकी ने सामाजिक जिम्मेदारी के पहलू पर बात करते हुए बताया कि सरप्राइज़ समवन, ग्रामीण इलाकों की सैकड़ों महिलाओं को भी सशक्त बना रहा है। रीसाइकल्ड पेपर तैयार होने के बाद महिलाएं स्टार्टअप के लिए हैंडमेड प्रोडक्ट्स तैयार करती हैं।

प्रोडक्ट लॉन्चिंग के लिए अपनाई यह अनोखी स्ट्रैटजी!

पिंकी ने बताया कि नए प्रोडक्ट्स को मार्केट में लाने से पहले बिल्कुल नए लोगों के पास प्रोडक्ट भेजे जाते हैं। जिनके बारे में कंपनी कुछ भी नहीं जानती और उनका कंपनी के बिज़नेस या फिर पिंकी से कोई भी ताल्लुक नहीं होता है। प्रोडक्ट भेजने के बाद ग्राहकों का रीव्यू लिया जाता है कि क्या प्रोडक्ट को देखने के 30 सेकेंड के भीतर उन्हें सरप्राइज़ एलिमेंट महसूस हुआ। अगर जवाब सकारात्मक आता है तो प्रोडक्ट मार्केट में लॉन्च किया जाता है, नहीं तो उसे रद्द कर दिया जाता है।

फंडिंग, रेवेन्यू और प्लानिंग

पिंकी ने बताया कि उनका स्टार्टअप, सेल्फ-फ़ंडेड है और अभी भी फ़ंडिंग रेज़ करने का उनका कोई इरादा नहीं है। सेल से जो भी पैसा आता है, उसे आगे प्रोडक्ट डिवेलपमेंट पर खर्च कर दिया जाता है। 2016-17 के वित्तीय वर्ष में सरप्राइज़ समवन ने 22 लाख रुपयों का रेवेन्यू जेनरेट किया। स्टार्टअप को उम्मीद है कि 2017-18 में रेवेन्यू का आंकड़ा 25 लाख रुपयों तक पहुंच जाएगा।

सरप्राइज़ समवन का दावा है कि स्टार्टअप ऐडवरटाइज़िंग पर बिल्कुल भी पैसा खर्च नहीं करता है और इसके बावजूद उनके पास 5 हज़ार लोगों का क्लाइंट बेस है। फ़िलहाल वेंचर सिर्फ ऑनलाइन उपलब्ध है और मार्केटिंग के लिए कंपनी सोशल मीडिया प्लेटफ़ॉर्म्स का इस्तेमाल कर रही है। पिंकी अपने वेंचर को अंतरराष्ट्रीय मार्केट तक ले जाना चाहती हैं। इतना ही नहीं, वह चाहती हैं कि प्लेन ट्रैवल के दौरान भी उनकी गिफ़्ट सर्विस उपलब्ध हो और प्लेन में ही ग्राहकों को सरप्राइज़ गिफ़्ट्स पहुंचाए जा सके। इसके लिए सरप्राइज़ समवन एयरलाइन्स के साथ भी करार करने की कोशिश में लगा हुआ है।

ये भी पढ़ें: हैंडमेड प्रोडक्ट्स बेचने के साथ-साथ कलाकारों को मंच भी दे रहा ये स्टार्टअप

यदि आपके पास है कोई दिलचस्प कहानी या फिर कोई ऐसी कहानी जिसे दूसरों तक पहुंचना चाहिए, तो आप हमें लिख भेजें editor_hindi@yourstory.com पर। साथ ही सकारात्मक, दिलचस्प और प्रेरणात्मक कहानियों के लिए हमसे फेसबुक और ट्विटर पर भी जुड़ें...

Related Stories

Stories by yourstory हिन्दी