एलिस्टर कुक ने स्वीकारा तेंदुलकर की बराबरी के लिए लंबी दूरी तय करनी है

0

इंग्लैंड के कप्तान एलिस्टर कुक ने भले ही 10,000 रन पूरे करने वाले सबसे युवा खिलाड़ी के सचिन तेंदुलकर के रिकार्ड को तोड़ दिया हो, लेकिन इस बात से भली भांति वाकिफ हैं कि वह भारत के इस प्रतिभाशाली जीनियस की तरह नहीं हैं और उन्हें इस मास्टर बल्लेबाज की बराबरी करने में काफी लंबा समय लगेगा।

कुक पिछले महीने डरहम में श्रीलंका के खिलाफ इंग्लैंड की नौ विकेट की जीत के दौरान क्रिकेट इतिहास में 10,000 रन पूरे करने वाले 12वें खिलाड़ी बन गये, लेकिन वह तेंदुलकर के 200 मैचों में रिकार्ड 15,921 रन से अभी करीब 6,000 रन से पीछे हैं।

इकतीस वर्षीय कुक के 128 मैचों में 10,042 रन हैं। उन्होंने कहा कि तेंदुलकर के टेस्ट रनों के रिकार्ड को पूरा करने में उन्हें काफी लंबा सफर तय करना होगा।

श्रीलंका के खिलाफ तीसरे टेस्ट से पहले कुक ने लार्डस में कहा, ‘‘6,000 रन बनाने में काफी समय लगेगा। यह रिकार्ड बहुत ही प्रतिभाशाली जीनियस ने बनाया हुआ है। मैं कोई जीनियस नहीं हूं बल्कि तेंदुलकर हैं। इसलिये अभी काफी लंबा सफर तय करना है। ’’ उन्होंने कहा, ‘‘मैं जब तक खेल सकूं, इंग्लैंड के लिए खेलना चाहता हूं और इस समय मैं इसका लुत्फ उठा रहा हूं। मैं सचमुच प्रेरित और भूखा हूं और इससे मैं कहां तक जाउंगा, कौन जानता है। ’’ कुक ने 47 के औसत से 28 टेस्ट शतक जड़े हैं जबकि तेंदुलकर के नाम करीब 54 के औसत से रिकार्ड 51 शतक हैं।

पूर्व भारतीय कप्तान सुनील गावस्कर 10,000 रन पूरे करने वाले पहले खिलाड़ी थे, उन्होंने पिछले हफ्ते कहा था कि अपनी उम्र के कारण कुक में सबसे ज्यादा टेस्ट रन का नया रिकार्ड बनाने की काबिलियत हैं और साथ ही इंग्लैंड किसी अन्य देश से कहीं ज्यादा टेस्ट मैच खेलता है। (पीटीआई)

यदि आपके पास है कोई दिलचस्प कहानी या फिर कोई ऐसी कहानी जिसे दूसरों तक पहुंचना चाहिए, तो आप हमें लिख भेजें editor_hindi@yourstory.com पर। साथ ही सकारात्मक, दिलचस्प और प्रेरणात्मक कहानियों के लिए हमसे फेसबुक और ट्विटर पर भी जुड़ें...