महिलाओं के बिज़नेस आइडिया को संवारेगा आईआईएम बेंगलुरु

2008 से लेकर अब तक करीब 10,000 महिलाओं को उद्यम के लिए प्रोत्साहित किया जा चुका है।

2

"इंडियन इंस्टीट्यूट ऑफ मैनेजमेंट बेंगलुरु के एनएस राघवन सेंटर फॉर आंत्रेप्रेन्योरियल लर्निंग ने इस साल 15 महिला उद्यमियों को विमिन स्टार्टअप प्रोग्राम के तहत प्रोत्साहित करने के लिए चुना है। इस प्रोग्राम के तहत चुनी गई महिलाओं को उनके आइडियाज़ को एक नया आयाम देने के लिए ट्रेनिंग और फेलोशिप प्रदान की जाएगी।"

"15 महिलाओं को तीन सप्ताह के लिए आईआईएम बेंगलुरु में ट्रेनिंग दी जाएगी, जिसकी मदद से वे अपने सपने को पूरा कर सकेगीं और साथ ही अपने बिजनेस आइडिया को एक नया आयाम दे सकने में सफलता प्राप्त करेंगी।"

गोल्डमैन सैक्स (इंडिया) के को-सीईओ और चेयरमैन संजॉय चटर्जी ने बताया है, कि 2008 से लेकर अब तक करीब 10,000 महिलाओं को उद्यम के लिए प्रोत्साहित किया जा चुका है।

इंडियन इंस्टीट्यूट ऑफ मैनेजमेंट बेंगलुरु के एनएस राघवन सेंटर फॉर आंत्रेप्रेन्योरियल लर्निंग ने इस साल 15 महिला उद्यमियों को विमिन स्टार्टअप प्रोग्राम के तहत प्रोत्साहित करने के लिए चुना है। इस प्रोग्राम के तहत चुनी गई महिलाओं को उनके आइडिया को एक नया आयाम देने के लिए ट्रेनिंग और फेलोशिप प्रदान की जाएगी। यह गोल्डमैन सैक्स के द्वारा संचालित ऑनलाइन क्लासरूम ट्रेनिंग प्रोग्राम है जिसके अंतर्गत फीमेल उद्यमियों को ट्रेनिंग दी जाएगी। कंपनी ने कहा है, कि जिन 15 महिलाओं को इसके लिए चुना गया है, उन्हें अपने बिजनेस आइडिया को डेवलप करने में मदद की जाएगी और साथ ही हर महीने 40,000 रुपये की सहायता राशि भी दी जाएगी।

गोल्डमैन सैक्स (इंडिया) के को-सीईओ और चेयरमैन संजॉय चटर्जी ने बताया है, कि 2008 से लेकर अब तक करीब 10,000 महिलाओं को उद्यम के लिए प्रोत्साहित किया जा चुका है। महिलाओं को आर्थिक रूप से सशक्त बनाने और उन्हें उद्यम के लिए शिक्षित करने के लिए यह प्रोग्राम चलाया जाता है। 

कंपनी की कोशिश है कि देश की महिलाएं उद्यम के जरिये आर्थिक रूप से सबल बन सकें। उन्होंने कहा, 'भारत में महिला प्रतिभाओं की कमी नहीं है। उन्हें बस मार्गदर्शन और मदद की जरूरत होती है।

इन महिलाओं को अब तीन सप्ताह के लिए आईआईएम बेंगलुरु में ट्रेनिंग दी जाएगी जिससे वे अपने सपने को पूरा कर सकें और अपने बिजनेस आइडिया को एक नया आयाम दे सकें। अगर ऐसे प्रोग्राम बड़े पैमाने पर चलाए जाएं तो देश में बिजनस इंडस्ट्री की तकदीर तो संवरेगी ही साथ में महिलाओं के हौसले को एक नई उड़ान मिल सकती है।

यदि आपके पास है कोई दिलचस्प कहानी या फिर कोई ऐसी कहानी जिसे दूसरों तक पहुंचना चाहिए, तो आप हमें लिख भेजें editor_hindi@yourstory.com पर। साथ ही सकारात्मक, दिलचस्प और प्रेरणात्मक कहानियों के लिए हमसे फेसबुक और ट्विटर पर भी जुड़ें...