कर्नाटक में लड़कियों की पोस्ट ग्रैजुएशन तक पढ़ाई होगी मुफ्त

लड़कियों की शिक्षा के प्रति जागरूकता को समझने के लिए कर्नाटक सरकार ने की सराहनीय पहल...

0

कर्नाटक के मुख्यमंत्री सिद्धरमैया ने सभी सरकारी संस्थानों में लड़कियों के लिए पोस्ट ग्रैजुएशन तक की शिक्षा को मुफ्त करने की घोषणा कर दी है। अब 11वीं और 12वीं से लेकर डिग्री और फिर पोस्ट ग्रैजुएशन तक की पढ़ाई के लिए लड़कियों को फीस नहीं देनी होगी। बजट में इसके लिए 95 करोड़ का प्रावधान किया गया है। इस घोषणा के बाद उम्मीद लगाई जा रही है कि राज्य में 3.7 लाख लड़कियों को इससे सीधा फायदा होगा।

सांकेतिक तस्वीर
सांकेतिक तस्वीर
इस घोषणा के बाद उम्मीद लगाई जा रही है कि राज्य में 3.7 लाख लड़कियों को इससे सीधा फायदा होगा। इससे पहले 2017 में कर्नाटक सरकार ने लड़कियों को कक्षा 1 से स्नातक तक की पढ़ाई के लिए सरकार आर्थिक सहायता देने का वादा किया था। 

लड़कियों को शिक्षित करने के प्रयास में कर्नाटक के मुख्यमंत्री सिद्धरमैया ने सभी सरकारी संस्थानों में लड़कियों के लिए पोस्ट ग्रैजुएशन तक की शिक्षा को मुफ्त करने की घोषणा कर दी है। राज्य के वित्त मंत्रालय का भी प्रभार संभालने वाली सिद्धरमैया ने 2018-19 का बजट पेश करते हुए यह घोषणा की। 11वीं और 12वीं से लेकर डिग्री और फिर पोस्ट ग्रैजुएशन तक की पढ़ाई के लिए लड़कियों को फीस नहीं देनी होगी। बजट में इसके लिए 95 करोड़ का प्रावधान किया गया है।

इस घोषणा के बाद उम्मीद लगाई जा रही है कि राज्य में 3.7 लाख लड़कियों को इससे सीधा फायदा होगा। इससे पहले 2017 में कर्नाटक सरकार ने लड़कियों को कक्षा 1 से स्नातक तक की पढ़ाई के लिए सरकार आर्थिक सहायता देने का वादा किया था। सरकारी और सरकारी सहायता प्राप्त शिक्षण संस्थानो में पढ़ने वाली लड़कियों को इस स्कीम का फायदा मिलेगा। हालांकि प्रोफेशनल कोर्स करवाने वाले संस्थानों में पढ़ाई करने पर इस स्कीम का लाभ नहीं मिलता। सरकार ने इसके लिए 110 करोड़ का धन जारी किया था।

राज्य का 13वां बजट पेश करते हुए सिद्धरमैया ने कहा कि 2018-19 में उच्च शिक्षा के लिए 4,514 करोड़ रुपये का प्रावधान किया गया है। उन्होंने कहा कि 2018-19 के दौरान 100 कर्नाटक पब्लिक स्कूल खोले जाएंगे। हर स्कूल पर लगभग 5 लाख रुपये का खर्च आएगा और पूरी योजना में 5 करोड़ रुपये खर्च होने की उम्मीद है। इतना ही नहीं प्राइमरी और सेकेंडरी एजुकेशन के लिए कुल 22,350 करोड़ रुपये का प्रावधान किया गया है।

कर्नाटक के अलावा और भी कई राज्यों में लड़कियों की शिक्षा को प्रोत्साहित करने वाली योजनाएं चल रही हैं। इसके पहले तेलंगाना में ऐसी ही योजना आई थी जिसमें लड़कियों को आंगनवाड़ी से लेकर स्‍नातकोत्‍तर तक निशुल्‍क शिक्षा दिए जाने की बात कही गई थी। पंजाब सरकार ने भी ऐसी ही योजना चला रखी है जिसमें लड़कियों को पीएचडी के स्‍तर तक निशुल्‍क शिक्षा दी जा रही है।

यह भी पढ़ें: गांधीनगर रेलवे स्टेशन बना पूरी तरह से महिला कर्मचारियों वाला देश का पहला स्टेशन

यदि आपके पास है कोई दिलचस्प कहानी या फिर कोई ऐसी कहानी जिसे दूसरों तक पहुंचना चाहिए, तो आप हमें लिख भेजें editor_hindi@yourstory.com पर। साथ ही सकारात्मक, दिलचस्प और प्रेरणात्मक कहानियों के लिए हमसे फेसबुक और ट्विटर पर भी जुड़ें...

Related Stories

Stories by yourstory हिन्दी