अपने स्टार्टअप को सफलतापूर्वक चलाने के लिए इन 5 चीज़ों का ख़ास ध्यान रखें

0

मैं बीते कुछ वर्षों से भारतीय स्टार्टअप के पारिस्थितिकी तंत्र का अध्ययन करता आ रहा हूँ। मैंने वर्ष 2011 तक कुछ नौकरियां करने के अलावा कुछ उत्पादों का निर्माण भी किया है। अबतक मैं बाहर से एक भी पैसा पाने में सफल नहीं रहा हूँ क्योंकि मेरे लगभग सभी उत्पाद कभी भी संसाधन या फिर संचालन के स्तर पर प्रखर नहीं थे।

वर्तमान स्थितियों में बाहर से निवेश प्राप्त करना गलत नहीं माना जाता है क्योंकि बड़े व्यापार को तेजी से स्थापित करने का यही एक तरीका है और आज के माहौल में किसी भी व्यापार को संचालित करना तो दूर की बात है, उसे प्रारंभ करना ही बहुत टेढ़ी खीर है। इस प्रकार आप स्वयं को बाजार के जोखिमों से बचाने में सफल होते हैं लेकिन आदर्श रूप से आपको अपने व्यापार को जबतक हो सके तबतक बूटस्ट्रैप ही करना चाहिये।

यह आपको व्यापार और वित्त की बुनियादी बातों और सिद्धांतों को जानने और समझने का मौका देती है। अपने लिये वास्तव में निवेशकों के साथ संपर्क करने से पहले आपको यह सीखने की आवश्यकता है कि चीजों का निर्माण कैसे किया जाना है, लोगों को कैसे संभालना है, अपने लिये प्रारंभिक उपभोक्ताओं को कैसे तलाशना है, इत्यादि। इसके अलावा बूटस्ट्रैप होते हुए लाभदायक होने का सबसे बड़ा फायदा यह होता है कि आपके उच्च मूल्यांकन पाने और निवेशकों को अपनी ओर आकर्षित करने के मौके बहुत अधिक बढ़ जाते हैं।

अपने घर से ही शुरुआत करें - भारत के कुछ सबसे बड़े उत्पाद आधारित स्टार्टअप्स (directi, fusioncharts) की नींव अपने संस्थापकों के बेडरूम में ही रखी गई थी और वहीं इनकी स्थपना हुई थी। अपने घर से काम करने का सबसे बड़ा फायदा यह होता है कि आपके पास ध्यान को इधर-उधर भटकाये बिना और विकास, खर्च एवं लाभ-हानि की चिंता किये बिना काम करने का मौका मिलता है। जब आप एक कार्यलय स्थापित करते हैं तो आपके चारों तरफ कई लोग होने के अलावा आप सैंकड़ों चिंताओं से घिरे होते हैं जिनकी वजह से आप न तो स्वतंत्र रूप से सोच पाते हैं और न ही कार्यों को तेजी से निष्पादित कर पाते हैं। घर से काम करने का सबसे बड़ा फायदा यह होता है कि आप अपनी मर्जी से जो चाहें वह कर सकते हैं। इसके अलावा आप कभी भी अपने घर के एक हिस्से को अस्थायी कार्यालय में तब्दील कर सकते हैं जिसका इस्तेमाल आप अपने उपभोक्ताओं से मिलने या बैठकों के लिये कर सकते हैं। इस प्रकार से आप कार्यालय के किराये के रूप में देने से बचाए जाने वाले धन का इस्तेमाल एक अच्छे उत्पाद को तैयार करने और अधिक उपभोक्ताओं को पाने में कर सकते हैं।

कोडिंग, बिक्री और मार्केटिंग सहित जितना अधिक से अधिक कर सकते हैं करें - मैं अबतक जितने भी सफल उत्पाद स्टार्टअप के संस्थापकों से मिला हूं वहीं मैंने इस स्वरूप को पाया है। उन्हें इस बात की समझ है कि उपयोगकर्ताओं और उपभोक्ताओं को पाने के अलावा तकनीक की प्रयोग किस प्रकार करना है। एक टीम का निर्माण करने और निवेश पाने से पहले उन्होंने उत्पाद विकास और बिक्री से संबंधित समूचा चक्र पूरा कर लिया था। वे ऐसा इसलिये कर पाए क्योंकि वे पहले ही प्रारंभिक प्रोग्रामिंग, यूज़र आॅनबोर्डिंग, मार्केटिंग, बिक्री और समर्थन जैसी बेहद जरूरी प्रक्रियाओ को पूरा कर चुके थे। मुझे यह लगता है कि अगर आप एक अच्छे डेवलपर नहीं हैं तो तकनीकी पक्ष को सीखने का प्रयास करें क्योंकि इससे आपको सही निर्णय लेने में काफी मदद मिलेगी। इसी प्रकार मार्केटिंग और सेल्स को समझना और जानना भी समान रूप से आवश्यक है। अगर आप बूटस्ट्रैपिंग के दौर में हैं तो निश्चित करें कि सहसंस्थापकों की कोर टीम स्वयं ही ऐसा करे। इस बात से कोई मतलब नहीं है कि कोई भी कार्य कितना छोटा और तुच्छ है, एक बार आप उसे स्वयं करेंगे तभी आप उस काम को करने के लिये दूसरों से कह सकेंगे।

पूर्ण भुगतान करने के बजाय निःशुल्क और सस्ते संसाधनों को खोजें - भुगतान करने से पहले मैं हमेशा यह तलाशने का प्रयास करता हूँ कि क्या यह कहीं से मुफ्त में प्राप्त हो सकता है। बाजार में इतने सारे स्टार्टअप संसाधन उपलब्ध हैं और इस बात की बहुत अधिक संभावनाएं हैं कि आपको सबकुछ मुफ्त में मिल सकता है चाहे वह कुछ महीनों के लिये ही मिले। उदाहरण के लिये द मोर्फयूज़ और एफ6एस स्टार्टअप की साइट से मुझे 1 हजार डाॅलर मूल्य की 12 महीने के लिये मुफ्त राॅकस्पेस हाॅस्टिंग और 3 महीने के लिये ओलार्क प्रीमियम मिल गया। गूगल में स्टार्टअप डील्स और आॅफरों को सर्च करें और आप बहुत कुछ पाने में सफल होंगे। मैंने वर्ष 2013 में बाजार से बहुत कम दामों पर फिलिपींस के एक फ्रीलांसर को अपने साथ जोड़ा था जिसकी मदद से मैं उत्पाद का परीक्षण करने में काफी सफल रहा। इस प्रकार फ्रीलांसर का प्रयोग करके आप भी अपने काम को तेजी से और सस्ते में कर सकते हैं।

मुफ्त की मार्केटिंग पर ध्यान दें - आपका उत्पाद समाप्त न हुआ हो ऐसे में और कोई और चीज आपके धन को इतनी तेजी से खत्म नहीं करती जितना मार्केटिंग करती है। मैं ऐसा बहुत बुरे तरीके से सीखने में सफल रहा जब मैं अपना उत्पाद पूरा करने से पहले ही पागलों की तरह मार्केटिंग में अपना पैसा गंवाता रहा। हालांकि बाद में मैं द हिंदू अखबार के माध्यम से उस नुकसान की भरपाई करने में सफल रहा क्योंकि उसके माध्यम से मुझे कई साइनअप मिले। यह मुफ्त की मार्केटिंग के महत्व से संबंधित एक बेहद महत्वपूर्ण सबक और अनुभव था।

अपने हालिया उत्पाद ऐरोलीड्स के द्वारा हम निःशुल्क मार्केटिंग चैनलों की तलाश में रहते हैं। उदाहरण के लिये मैंने पिछले ही सप्ताह एक निःशुल्क पाॅडकास्ट साक्षात्कार किया है जिसे अबतक 1200 से अधिक श्रोता मिल चुके हैं। हालांकि यह इतनी बड़ी संख्या नहीं है लेकिन यह आपको एक ब्रांड के रूप में स्थापित करने में और आपके उत्पाद की दृश्यता को बढ़ाने में बेहद मददगार साबित होते हैं।

बड़े और अनावश्यक खर्चों से बचें - एक प्राइवेट लिमिटेड कंपनी के गठन, शेयर प्रमाण पत्र जारी करने और कानूनी समझौते करने में जल्दबाजी बिल्कुल न करें। ये काम तो कुछ महीनों बाद भी किये जा सकते हैं। अगर आप पैसों की कमी से गुजर रहे हैं तो बेहतर होगा कि आप उस पैसे को निर्माण या फिर मार्केटिंग और सेल्स में निवेश करें।

अक्सर कई स्टार्टअप अपना पैसा महंगे फर्नीचर और अन्य सामानों पर खर्च कर देते हैं। मैं दोबारा कहना चाहूंगा कि यह सब तो बाद में भी हो सकता है जब आप कुछ राजस्व प्राप्त करने में सफल हो जाएं।


(यह लेख मूलतः अंग्रेजी में लिखा गया है और इसके लेखक पुष्कर गायकवाड़ inBoundio का निर्माण करने वाले एक प्रौद्योगिकीविद् हैं। लेख का अनुवाद निशांत गोयल ने किया है)