नए शहर में, नए साथियों और रहने की जगह की तलाश में मददगार 'Flatchat'

नए शहर में सिर छिपाने की जगह और एक नए साथियों से मिलवाती है यह मोबाइल एप्लीकेशनरियलएस्टेट के क्षेत्र में काम कर रही Flat.to की टीम की खोज है फ्लैटचैटइस एप्लीकेशन के द्वारा आप अपनी जैसी जरूरतों वाले लोगों के साथ चैट करके ठहरने का स्थान साझा कर सकते हैं

0

काम के सिलसिले में किसी भी नए शहर में जाने पर एक परेशानी जो अधिकतर लोगों को भुगतनी पड़ती है वह है सिर छिपाने के लिये एक बेहतर विकल्प को तलाशना। अपने रहने के लिये एक उपयुक्त स्थान और अन्य कई चीजों के अलावा आपको अपने साथ उस स्थान पर रहने वाले दूसरे साथियों के बारे में जानने की भी आवश्यकता होती है। आखिरकार, वे लोग आपके साथ सिर्फ उस स्थान को ही साझा नहीं कर रहे होते हैं बल्कि ये वे लोग होते हैं जो आपके कार्यस्थल के सहयोगियों के बाद आपके साथ सबसे अधिक समय व्यतीत करते हैं और आपकी नजरों के सामने होते हैं।

ऐसे में आपको अपने साथ रहने का स्थान साझा करने वाले और समय व्यतीत वाले उपयुक्त साथियों की तलाश करने में मदद के लिये ही बना है Flatchat। यह एक ऐसी मोबाइल एप्लीकेशन है जो दूसरों के साथ ठहरने के स्थान को साझा करने के लिये बेकरार लोगों के एक विशिष्ट समुदाय के बीच नेटवर्किंग को सक्षम बनाता है जिससे ये लोग आपस में आसानी से एक-दूसरे से संपर्क कर पाते हैं और अपने जैसे ही साथियों को आराम से तलाश पाने में कामयाब होते हैं।

Flatchat को Flat.to की टीम द्वारा बाजार में पेश किया गया है और इस नई एप्लीकेशन को तैयार करने के साथ ही यह टीम मोबाइल एप्लीकेशन की दुनिया को एक नई दिशा की ओर ले जा रही है। इस वर्ष के प्रारंभ में ही Flat.to को रियल एस्टेट के क्षेत्र में काम करने वाली एक आॅनलाइन कंपनी काॅमनफ्लोरडाॅटकाॅम द्वारा अधिग्रहित कर लिया गया था।

फ्लैटचैट के निर्माता और Flat.to के संथापक गौरव मुंजाल बताते हैं, ‘‘हमने पिछले करीब डेढ़ वर्ष में महसूस किया है कि रहने के लिये ऐसे स्थानों की तलाश करना जिन्हें आप दूसरों के साथ साझा कर सकते हों और उसके बाद साथ रहने वालों को तलाश करना एक बेहद चुनौतीपूर्ण करना है। दिल्ली, मुंबई और बैंगलोर जैसे शहरों में जाएं तो समस्या और भी बड़ी होकर आपके सामने आती है। अपजकल लोग फेसबुक ग्रुप्स का प्रयोग करते हुए रहने के लिये ऐसे स्थानों और साथियों की तलाश कर रहे हैं। और लोगों की इसी समस्या का समाधान खोजने की दिशा में फ्लैटचैट का जन्म हुआ।’’

फ्लैटचैट में ‘फ्लैटचैट सहायक‘ के शीर्षक से एक बेहतरीन उपयोगी सुविधा भी उपलब्ध है।

फ्लैटचैट आपको अपनी आवश्यकताओं से मेल खाने वाले सदस्यों के साथ चैट करने की सुविधा देता है। इसके अलावा यह आपको एक मानव सहायक भी उपलब्ध करवाता है जिसे आप किसी भी अवश्यकता के क्षणों में एक संपर्क बिंदु के रूप में इस्तेमाल कर सकते हैं।

यह सहायक आपको आपके पसंद के स्थानों की खोज करने में व्यक्तिगत रूप से मदद करता है। पर्दे के पीछे से काम करने वाली टीम आपकी पसंद का मिलान करती है और सामने आए विकल्पों से आपको रूबरू करवाने के लिये आपसे संपर्क करती है। आवास की तलाश में भटक रहा व्यक्ति अपने व्यक्तिगत सहायक के साथ चैट कर सकता है जो उसकी पसंद की तलाश के काम को और अधिक आसान बना देता है।

Worked with Media barons like TEHELKA, TIMES NOW & NDTV. Presently working as freelance writer, translator, voice over artist. Writing is my passion.

Stories by Nishant Goel