इनोवेशन को बढ़ावा देने के लिए बड़ी पहल: मार्च 2019 तक स्थापित होंगे 5,000 अटल टिंकरिंग लैब्स

0

भारत के सर्वश्रेष्ठ छात्रों के इनोवेशन्स की पहचान के उद्देश्य से नीति आयोग के अटल नवोन्मेष मिशन के अटल टिंकरिंग लैब (एटीएल) ने अटल टिंकरिंग मैराथन का आयोजन किया। छह महीने तक चलने वाली यह प्रतियोगिता छह विभिन्न क्षेत्रों पर आधारित है।

छात्रों को व्यापार और उद्यमिता कौशल का प्रशिक्षण दिया जायेगा। इसके अतिरिक्त एटीएल विद्यालयों को विश्व रोबोटिक्स ओलम्पियाड में शामिल होने के लिए सार्टिफिकेट दिया जायेगा।

देश के सभी जिलों में छात्रों को इनोवेशन के क्षेत्र में काम करने के लिए नीति आयोग द्वारा 2019 तक 5,000 अटल टिंकरिंग लैब्स की स्थापना की जाएगी। आयोग के उपाध्यक्ष राजीव कुमार ने गुरुवार को यह जानकारी दी। भारत के सर्वश्रेष्ठ छात्रों के इनोवेशन्स की पहचान के उद्देश्य से नीति आयोग के अटल नवोन्मेष मिशन के अटल टिंकरिंग लैब (एटीएल) ने अटल टिंकरिंग मैराथन का आयोजन किया। छह महीने तक चलने वाली यह प्रतियोगिता छह विभिन्न क्षेत्रों पर आधारित है, स्वच्छ ऊर्जा, जल संसाधन, अपशिष्ट प्रबंधन, स्वास्थ, स्मार्ट आवागमन तथा कृषि प्रौद्योगिकी।

राष्ट्रीय प्रौद्योगिकी दिवस के अवसर पर एटीएल मैराथन के सर्वश्रेष्ठ 30 इनोवेशन्स को एक बुकलेट के जरिए प्रदर्शित किया गया। इस बुकलेट में बच्चों, उनके परामर्शदाताओं, शिक्षकों और विद्यालयों के कार्यों का उल्लेख है। इस पुस्तिका को अटल इनोवेशन मिशन के मिशन निदेशक रमानन रामनाथन के साथ नीति आयोग के उपाध्यक्ष डॉ. राजीव कुमार ने जारी किया। नीति आयोग ने दिसंबर में अटल इनोवेशन मिशन की स्थापना के लिए 1,500 स्कूलों का चयन किया था। कुमार ने कहा कहा कि सरकार का उद्देश्य 30,000 प्रयोगशालाएं स्थापित करना है।

डॉ. कुमार ने कहा, "यह पुस्तिका श्री अटल बिहारी वाजपेयी को समर्पित है। उन्होंने 16 मई को प्रधानमंत्री के रूप में शपथ ग्रहण किया था। उनका मानना था इस देश का भविष्य बच्चों के हाथ में हैं और अटल नवोन्मेष मिशन उनके सपनों को वास्तविकता में बदलने का एक प्रयास है।" उन्होंने आगे कहा कि एक नये युग की शुरुआत होने वाली है जहां हम एक नकल करने वाले समाज के स्थान पर एक नवोन्मेषी समाज बनेंगे।

सर्वश्रेष्ठ 30 टीमों को कई पुरस्कार प्रदान किए गए जिनमें उद्योग जगत तथा स्टार्टअप इन्क्यूबेटर के सहयोग से तीन महीने की अवधि वाला एटीएल छात्र इनोवेशन कार्यक्रम शामिल है। छात्रों को व्यापार और उद्यमिता कौशल का प्रशिक्षण दिया जायेगा। इसके अतिरिक्त एटीएल विद्यालयों को विश्व रोबोटिक्स ओलम्पियाड में शामिल होने के लिए सार्टिफिकेट दिया जायेगा। अभी तक 650 इनोवेशन ऐप्लिकेशन प्राप्त की गई हैं। इनमें से 100 ऐप्लिकेशन का चयन किया गया। 100 टीमों को प्रस्तुति के लिए एक महीने का अतिरिक्त समय दिया गया। इसके बाद उनके इनोवेशन्स को जजों के पैनल द्वारा परखा गया और सर्वश्रेष्ठ 30 प्रविष्टियों का चयन किया गया।

यह भी पढ़ें: भारत का वो बहादुर रॉ एजेंट जिसने पाकिस्तानी सेना में मेजर बनकर दी थी खुफिया जानकारी

यदि आपके पास है कोई दिलचस्प कहानी या फिर कोई ऐसी कहानी जिसे दूसरों तक पहुंचना चाहिए, तो आप हमें लिख भेजें editor_hindi@yourstory.com पर। साथ ही सकारात्मक, दिलचस्प और प्रेरणात्मक कहानियों के लिए हमसे फेसबुक और ट्विटर पर भी जुड़ें...

Related Stories

Stories by yourstory हिन्दी