रोज तीन-चार कप कॉफी पीने से बढ़ जाती है उम्र: रिसर्च

कॉफी के शौकीनों के लिए गुड न्यूज़...

0

घर के बड़े कहते हैं कि इतनी कॉफी न पियो, नुकसान करेगा। लेकिन उनको समझाने के लिए एक बढ़िया रिसर्च स्टडी सामने आई है।

बीएमजे टुडे में प्रकाशित एक शोध के मुताबिक, एक दिन में तीन से चार कप कॉफी पीने से मौत के कम जोखिम रहते हैं। कॉफी पीने से कुछ मामलों में कैंसर, मधुमेह, यकृत रोग और मनोभ्रंश में भी आराम मिलने के उदाहरण पाए गए हैं।

कॉफी कुछ सालों पहले तक एक उच्च आय वर्गीय पेय पदार्थ माना जाता था। लेकिन अब इसकी बढ़ती लोकप्रियता ने इसे घर-घर तक पहुंचा दिया है। काम का प्रेशर हो तो एक कप कॉफी, बालकनी में बैठकर मौसम के मजे लेने हो तो एक कप कॉफी, मूड डाउन है तो एक कप कॉफी। सबकी रोजाना की आदतों में कॉफी शुमार हो रही है। घरों के किचन में अलग-अलग डिजाइन के कॉफी मग्स सुशोभित होने लगे हैं। घर के बड़े कहते हैं कि इत्ती कॉफी न पियो, नुकसान करेगा। लेकिन उनको समझाने के लिए एक बढ़िया रिसर्च स्टडी सामने आई है।

बीएमजे टुडे में प्रकाशित एक शोध के मुता दिलबिक, कॉफी पीने से अधिक स्वास्थ्य लाभ की संभावना होती है। एक दिन में तीन से चार कप कॉफी पीने से मौत के कम जोखिम रहते हैं। अल्जाइमर और डिप्रेशन जैसे मामले भी दिक्कतें कम होती है। कॉफी पीने से कुछ मामलों में कैंसर, मधुमेह, यकृत रोग और मनोभ्रंश में भी आराम मिलने के उदाहरण पाए गए हैं। कॉफी दुनिया भर में सबसे अधिक खपत होने वाले पेय पदार्थों में से एक है और इससे सकारात्मक स्वास्थ्य लाभ हो सकते हैं। कॉफी पीने से पार्किंसंस, अवसाद और अल्जाइमर जैसे रोगों में भी आराम मिलता है। डिकैफ़िनेटेड कॉफी पीने से भी इसी तरह के लाभ थे।

स्वास्थ्य पर कॉफी की खपत के प्रभावों को बेहतर ढंग से समझने के लिए, यूनिवर्सिटी ऑफ साउथैम्पटन विश्वविद्यालय में लोक स्वास्थ्य में विशेषज्ञ डॉ रॉबिन पूले की नेतृत्व करने वाली एक टीम ने एडिनबर्ग विश्वविद्यालय से सहयोगियों के साथ 201 अध्ययनों की एक समीक्षा की। ये डेटा, अवलोकन अनुसंधान और 17 अध्ययनों से मिले एकत्रित आंकड़े थे। कॉफी हमारी बॉडी के फैट को बर्न करती है। यह वजन घटाने में भी मदद करती है। जिससे हमारी मेटाबॉलिक क्रियाएं अच्छे से होती है। आजकल के युवाओं में डिप्रेशन की समस्या आम हो चुकी है। जॉब, कॅरियर, परिवार और पैसे की टेंशन से बचने का सबसे आसान तरीका कॉफी का सेवन है। कॉफी पीने से कैंसर का खतरा 40 % तक कम हो जाता है।

कुछ भी बीमारी होने पर सबसे पहले लीवर पर इफेक्ट पड़ता है। कॉफी लीवर को मजबूत करती है। जो लोग रोज कॉफी पीते हैं उनमें डाइबीटीज टाइप 2 का खतरा 7 % तक कम हो जाता है। अगर आप एक्सरसाइज करने से पहले कॉफी का सेवन करते है तो इससे आपके शरीर का विकास और बेहतर तरीके से होता है। कॉफी में कैफीन के अलावा काफी एंटीऑक्सीडेंट्स, विटामिन्स और मिनरल्स होते हैं। इनको अगर सही मात्रा में लिया जाए तो ये फायदा करते हैं लेकिन ज्यादा मात्रा में कॉफी नुकसान भी कर सकती है।

हालांकि शोधकर्ताओं का कहना है कि गर्भावस्था में कॉफी पीने से हानि भी हो सकती है। साथ ही महिलाओं में फ्रैक्चर के जोखिम भी थोड़े बढ़ सकते हैं। शामिल अध्ययन मुख्यतः अवलोकन संबंधी डेटा का इस्तेमाल करते हैं, जो कम गुणवत्ता वाले सबूत प्रदान करते हैं, इसलिए कारण और प्रभाव के बारे में कोई दृढ़ निष्कर्ष नहीं खींचा जा सकता। लेकिन उनके निष्कर्षों ने कॉफी की मात्रा के अन्य हालिया समीक्षाएं और अध्ययन का समर्थन किया है। महिलाओं के मामले में गर्भावस्था और फ्रैक्चर के खतरे को छोड़कर, कॉफी पीने से स्वास्थ्य सुरक्षित होता है।

ये भी पढ़ें: सोने से पहले बच्चों के हाथ से मोबाइल फोन छीन लेने में ही भलाई है

यदि आपके पास है कोई दिलचस्प कहानी या फिर कोई ऐसी कहानी जिसे दूसरों तक पहुंचना चाहिए, तो आप हमें लिख भेजें editor_hindi@yourstory.com पर। साथ ही सकारात्मक, दिलचस्प और प्रेरणात्मक कहानियों के लिए हमसे फेसबुक और ट्विटर पर भी जुड़ें...

IIMC दिल्ली से पत्रकारिता की एबीसीडी सीखी। नेटवर्क-18 और इंडिया टुडे के लिए दो साल तक काम किया। घूमने का जुनून है। इस जुनून को chalatmusaafir.in पर देखा जा सकता है। देश के कोने-कोने में जाकर वहां की विरासत और खासियत को सामने लाने का सपना है।

Related Stories

Stories by प्रज्ञा श्रीवास्तव