2030 तक हर क्षेत्र में भारत के सबसे आगे होने की उम्मीद

भारत और अमेरिका ने साथ मिलकर कई महत्वपूर्ण कार्य किए हें। इस दौरान दोनों देशों के मध्य 110 अरब डॉलर का दोतरफा व्यापार हुआ है

0

 भारत में संयुक्त राज्य अमेरिका के राजदूत रिचर्ड वर्मा ने कहा है कि वर्ष 2030 तक भारत लगभग प्रत्येक क्षेत्र में दुनिया का नेतृत्व करेगा

छत्तीसगढ़ आए अमेरिका के राजदूत ने कल यहां रायपुर में आईआईटी और आईआईएम के छात्रों को संबोधित करते हुए कहा कि वह देख रहे हैं कि आने वाला भविष्य भारत के लिए बेहतर है और वर्ष 2030 तक भारत लगभग प्रत्येक क्षेत्र में दुनिया का नेतृत्व करेगा।

वर्मा ने कहा कि भारत एक ऐसा देश है जहां मध्यम वर्ग सबसे बड़ा होगा। बड़ी संख्या में कालेज के छात्र होंगे। अधिक पेटेंट धारक होंगे तथा यहां बुनियादी सुविधाओं, शहरीकरण और नए खोजों में बड़े पैमाने पर निवेश होगा। यह सब भारत को आने वाले समय में आगे लेकर जाएगा। उन्होंने कहा कि दुनिया के लोग भारत की तरक्की को लेकर उत्साहित हैं और वे यह जानना चाहते हैं कि यहां क्या हो रहा है। यही कारण है कि वह भारत और अमेरिका के रिश्ते को लेकर उत्साहित हैं। प्रत्येक मुद्दे पर सहमति नहीं हो सकती है कि लेकिन महत्वपूर्ण कार्यों को साथ किया जा सकता है।

भारत और अमेरिका के रिश्तों को लेकर आशावादी वर्मा ने कहा कि पिछले दो वर्षों में भारत और अमेरिका के रिश्ते सबसे अच्छे रहे हैं। अमेरिकी राष्ट्रपति चाहते हैं कि भारत एक मजबूत, समृद्ध और सफल वैश्विक शक्ति बने।

उन्होंने कहा कि पिछले दो वर्षों में भारत और अमेरिका में बदलाव आया है। दोनों देश अब साथ आ रहे हैं। यदि आप पूछेंगे कि अमेरिका के राष्ट्रपति भारत को लेकर क्या महसूस करते हैं, तो उनका जवाब होगा कि भारत मजबूत और समृद्ध देश बने।

भारत और अमेरिका ने साथ मिलकर कई महत्वपूर्ण कार्य किए हें। इस दौरान दोनों देशों के मध्य 110 अरब डॉलर का दोतरफा व्यापार हुआ है। 

भारत से लगभग 11 लाख लोगों ने अमेरिका की यात्रा की है। पिछले साल 10 लाख अमेरिकी लोगों ने भारत की यात्रा की जो अभी तक की सबसे अधिक संख्या है। वहीं 1.40 लाख भारतीय छात्र पिछले वर्ष अमेरिका में उच्च शिक्षा प्राप्त कर रहे थे तथा पिछले वर्ष 15 अरब डालर का रक्षा व्यापार हुआ।

यदि आपके पास है कोई दिलचस्प कहानी या फिर कोई ऐसी कहानी जिसे दूसरों तक पहुंचना चाहिए, तो आप हमें लिख भेजें editor_hindi@yourstory.com पर। साथ ही सकारात्मक, दिलचस्प और प्रेरणात्मक कहानियों के लिए हमसे फेसबुक और ट्विटर पर भी जुड़ें...