आयकर विभाग ने 50 लाख पैन नंबर को आधार से जोड़ा

0

आयकर विभाग ने अपने 50 लाख से ज्यादा स्थायी खाता संख्या :पैन नंबर: को आधार डेटाबेस के साथ जोड़ लिया है। आयकर विभाग के लिए नीतियां बनाने वाले केंद्रीय प्रत्यक्ष कर बोर्ड ने पिछले साल इस महत्वाकांक्षी पहल को शुरू किया था जिसके तहत पैन और आधार के डेटाबेस को जोड़ा जाना था। इसका मकसद आयकर रिटर्न दाखिल करते समय करदाताओं को सुरक्षित एवं त्वरित इलैक्ट्रॉनिक सुविधा उपलब्ध कराना था साथ ही अन्य कर-संबंधी सेवाओं को मुहैया कराना था।


एक वरिष्ठ अधिकारी ने बताया कि कल पैन और आधार के बीच जुड़ाव की संख्या 50 लाख को पार कर गई और आज इनकी संख्या 50,57,016 है। विभाग इस संख्या को बढ़ाना चाहता है ताकि जल्द से जल्द करदाताओं को पूरी तरह इलैक्ट्रॉनिक सुविधाएं दी जा सकें।

पीटीआई


यदि आपके पास है कोई दिलचस्प कहानी या फिर कोई ऐसी कहानी जिसे दूसरों तक पहुंचना चाहिए, तो आप हमें लिख भेजें editor_hindi@yourstory.com पर। साथ ही सकारात्मक, दिलचस्प और प्रेरणात्मक कहानियों के लिए हमसे फेसबुक और ट्विटर पर भी जुड़ें...