याहू को एओएल के साथ मिलाएगी वेरिजोन

0

अमेरिका की दूरसंचार क्षेत्र की दिग्गज कंपनी वेरिजोन कम्युनिकेशंस 4.8 अरब डालर या 32,358 करोड़ रपये के नकद सौदे में याहू का अधिग्रहण करेगी। इससे इंटरनेट क्षेत्र की कंपनी का दो दशक से स्वतंत्र कंपनी के रूप में परिचालन समाप्त हो जाएगा।

याहू को वेरिजोन, एओएल के साथ मिलाएगी। एओएल भी एक इंटरनेट इकाई है, जिसका वेरिजोन ने पिछले साल अधिग्रहण किया था। वेरिजोन के मुख्य कार्यकारी लॉवेल मैकएडम ने कहा कि इससे एक शीर्ष ग्लोबल मोबाइल मीडिया कंपनी अस्तित्व में आएगी। इससे डिजिटल विज्ञापन क्षेत्र में हमारा राजस्व बढ़ेगा।

यह अधिग्रहण 2017 के शुरू में पूरा होने की उम्मीद है। इसके लिए शेयरधारकों तथा नियामकीय मंजूरी ली जानी है। इस सौदे में याहू की नकदी, कुछ पेटेंट और साथ ही चीन के अलीबाबा समूह तथा याहू जापान में हिस्सेदारी शामिल नहीं होगी।

वेब प्रयोगकर्ताओं की शुरआती पीढ़ी के लिए याहू कभी इंटरनेट का प्रवेश होती है। पिछले कुछ साल से कंपनी गिरावट झेल रही है और गूगल एवं फेसबुक जैसी प्रतिद्वंद्वियों से प्रतिस्पर्धा करने के लिए संघर्ष कर रही है।

याहू की प्रमुख मारिसा मायर ने कहा कि कंपनी जिसने दुनिया को बदला था, वह यह काम वेरिजोन और एओएल के साथ मिलकर संयुक्त रूप से जारी रखेगी। एक कॉन्फ्रेंस कॉल में मायर ने कहा कि यह करार याहू के शेयरधारकों के लिए अप्रत्याशित नतीजा है। वेरिजोन का चयन इसलिए किया गया क्यांेकि उसको हम पर सबसे अधिक विश्वास है। (पीटीआई)

यदि आपके पास है कोई दिलचस्प कहानी या फिर कोई ऐसी कहानी जिसे दूसरों तक पहुंचना चाहिए, तो आप हमें लिख भेजें editor_hindi@yourstory.com पर। साथ ही सकारात्मक, दिलचस्प और प्रेरणात्मक कहानियों के लिए हमसे फेसबुक और ट्विटर पर भी जुड़ें...